Saturday , December 5 2020
Breaking News
Home / खेल / कोरोना के कारण अगर टी-20 वर्ल्ड कप स्थगित न होता, तो ये क्रिकेटर ‘डिलीवरी बॉय’ नहीं बनता

कोरोना के कारण अगर टी-20 वर्ल्ड कप स्थगित न होता, तो ये क्रिकेटर ‘डिलीवरी बॉय’ नहीं बनता

कोरोनावायरस (Coronavirus) के कारण पूरी दुनिया की आर्थिक स्थिती बेहद ही चिंताजनक हो चुकी है. इसका असर खिलाड़ियों पर भी पड़ा है. ऐसा ही एक क्रिकेटर है नीदरलैंड के गेंदबाज पॉल वान मीकेरेन (Paul van Meekeren). हाल ही में पॉल वान मीकेरेन ने अपने ट्वीट से खुलासा किया कि लॉकडाउन के कारण उन्हें अपनी और दैनिक जरूरतों को पूरा करने के लिए डिलीवरी बॉय बनना पड़ा है. दरअसल कोरोना वायरस के कारण टी20 वर्ल्‍ड कप को स्थगित कर दिया गया. ऐसे में क्रिकइंफो ने एक ट्वीट किया जिसमें क्रिकेट टी-20 वर्ल्ड कप की बात की गई थी और लिखा था कि यदि कोरोना वायरस के कारण टूर्नामेंट स्थगित न हुआ होता तो आज टी-20 वर्ल्ड कप का फाइनल मेलबर्न क्रिकेट ग्राउंड पर खेला जाता.’

इस ट्वीट पर पॉल वान मीकेरेन ने अपना रिएक्शन दिया और लिखा कि, मैं भी इस समय क्रिकेट खेल रहा होता, लेकिन इस वक्त ‘अपनी दैनिक जरूरतों को पूरा करने के लिए उबेर ईट्स के डिलीवरी एक्‍यूजिटिव के रूप में काम करना पड़ रहा है.’

बता दें कि नीदलैंड्स में जन्‍में पॉल ने 2013 में केन्‍या के खिलाफ टी20 मैच से इंटरनेशनल क्रिकेट में डेब्‍यू किया था. पॉल वान मीकेरेन (Paul van Meekeren) ने 5 वनडे और 41 टी20 में अपने देश का प्रतिनिधित्‍व किया.

उन्होंने इस दौरान वनडे में 4 विकेट और टी-20 में 47 विकेट लेने में सफलता पाई है. वनडे डेब्यू मैच में तो उन्होंने दक्षिण अफ्रीका के दिग्गज हाशिम अमला को आउट भी किया था.

loading...
loading...

Check Also

पहले नहीं हैं चहल : अंतर्राष्ट्रीय मैच में बतौर सब्सटीट्यूट ‘मैन ऑफ मैच’ बने ये 5 क्रिकेटर

क्रिकेट के खेल में चोटिल खिलाड़ियों के स्थान पर सब्स्टिटूट फील्डर का मैदान पर आना ...