Saturday , October 24 2020
Breaking News
Home / फिल्म / राकेश रोशन कटवाना चाहते थे बेटे ऋतिक की 11वीं उंगली, इस शख्स की वजह से कटते-कटते बची

राकेश रोशन कटवाना चाहते थे बेटे ऋतिक की 11वीं उंगली, इस शख्स की वजह से कटते-कटते बची

दुनिया में काफी कम ऐसे लोग होते हैं जिनके हाथों में दस के बजाय ग्यारह अंगुलियां होती हैं. ऐसे लोगों को काफी भाग्यशाली भी माना जाता है. ह्रितिक रोशन के हाथों में भी ग्यारह अंगुलियां हैं. लेकिन कभी यही अंगुली राकेश रोशन को ह्रितिक को बॉलीवुड में लांच करने से रोक रही थी. उनका ख्याल था कि इससे हृतिक की इमेज खराब हो सकती है. इसलिए फिल्म ‘कहो न प्यार है’ के ऑडिशन के बाद राकेश रोशन ने हृतिक की इस ग्यारहवीं ऊँगली को कटवाने का फैसला किया. लेकिन इसी दौरान कुछ ऐसा हुआ कि हृतिक की ये ग्यारवीं ऊँगली कटने से बच गई.

राकेश रोशन अपने बेटे की ग्यारवीं ऊँगली को लेकर काफी परेशान थे. राकेश हृतिक के डांस का एक वीडियो बनाना चाहते थे. लेकिन बार-बार फ्रेम में हृतिक की ग्यारवीं ऊँगली आ जाती थी. ऐसे में राकेश सोचने लगे इस ऊँगली को ऑपरेशन के जरिये हटा दिया जाये तो बेहतर होगा. लिहाजा हृतिक की इस ऊँगली को हटाने के लिए ऑपरेशन की तैयारी की गई.

ऑपरेशन से ठीक पहले हृतिक की मां पिंकी रोशन को जब ये पता चला तो वो सीधे अस्पताल पहुंची. पिंकी रोशन हृतिक के पिता राकेश रोशन और हृतिक पर खूब नाराज हुई. उन्होंने कहा कि जब बेटे को ईश्वर ने ही ग्यारह ऊँगली दी तो हम कौन होते है इसे हटाने वाले..? यानि पिंकी इस ऊँगली को ह्रितिक के सौभाग्य की निशानी मानती थी. उनकी जिद्द के कारण राकेश और हृतिक को बिना ऑरेशन किये अस्पताल से वापस लौटना पड़ा.

इस तरह हृतिक की ग्यारवीं ऊँगली कटने से तो बच गई. लेकिन खुद हृतिक इसे लेकर हीन भावना का अनुभव करते रहे और पूरी फिल्म में अपनी इस अंगुली को छुपाने की कोशिश करते रहे. फिल्म ‘कहो ना प्यार है’ के अधिकांश सीन्स में ह्रितिक अपने हाथों में ग्लब्स पहने नजर आते हैं. ये इसी ग्यारहवीं ऊँगली को छिपाने की कवायद थी. लेकिन ‘कहो ना प्यार है’ की धमाकेदार कामयाबी ने हृतिक को इस हीन भावना से मुक्त कर दिया.

loading...
loading...

Check Also

बिहार में फ्री कोरोना वैक्सीन का वादा की BJP तो बॉलीवुड डायरेक्टर बोले- दुखद.. राजनीति का स्तर तो..

नई दिल्ली:  भारतीय जनता पार्टी (BJP) ने बिहार विधानसभा चुनाव (Bihar Elections 2020) का घोषणापत्र ...