Friday , April 23 2021
Breaking News
Home / ऑफबीट / राजस्थान में बेकाबू कोरोना : जिन 8 शहरों में नाइट कर्फ्यू लगाया, वहीं सामने आए रिकॉर्ड केस

राजस्थान में बेकाबू कोरोना : जिन 8 शहरों में नाइट कर्फ्यू लगाया, वहीं सामने आए रिकॉर्ड केस

राजस्थान में कोरोना के बढ़ते केस के बाद लगातार सख्ती जारी है। मुख्यमंत्री अशोक गहलोत की सरकार ने 22 मार्च से जयपुर सहित 8 बड़े शहरों में नाइट कर्फ्यू लगाया था, लेकिन यह भी बेअसर होता हुआ दिखाई दे रहा है। नाइट कर्फ्यू के बाद से अब तक राज्य में मिले मरीजों में 65 फीसदी उन्हीं 8 शहरों से हैं। नाइट कर्फ्यू वाले शहरों की लिस्ट में बुधवार से भरतपुर, अलवर और बीकानेर का नाम भी शामिल हो गया है।

स्वास्थ्य विभाग की रिपोर्ट के मुताबिक, 23 मार्च से अब तक राजस्थान में कोरोना के 17,484 मरीज मिले हैं। इनमें से 11,442 केस उन 8 शहरों में सामने आए हैं, जहां नाइट कर्फ्यू लगा हुआ है। इनमें सबसे ज्यादा 2, 997 केस जयपुर तो सबसे कम 670 केस भीलवाड़ा में मिले हैं। बुधवार से पहले जयपुर, अजमेर, भीलवाड़ा, जोधपुर, उदयपुर, कोटा और डूंगरपुर जिले के 2 शहर कुशलगढ़ और सागवाड़ा में नाइट कर्फ्यू लगाया गया था।

नाइट कर्फ्यू वाले शहरों में 15 दिन की स्थिति

शहर पॉजिटिव केस मौत
जयपुर 2997 4
जोधपुर 2149 5
कोटा 1977 4
उदयपुर 1688 5
डूंगरपुर 1066 1
अजमेर 895 7
भीलवाड़ा 670 1

(कुशलगढ़ और सागवाड़ा में नाइट कर्फ्यू लगा है। यह दोनों डूंगरपुर जिले में आते हैं)

आधी से ज्यादा मौत भी इन्हीं 8 शहरों में
कोरोना केसे के अलावा मौत के आंकड़ों को देखें तो इन्हीं 8 शहरों में सबसे ज्यादा मौत हुई हैं। पूरे राज्य के 33 जिलों में पिछले 15 दिन के अंदर कोरोना से 47 लोगों की जान गई है। इसमें 27 मरीज इन 8 शहरों से थे। उदयपुर, जयपुर, जोधपुर और कोटा में एक्टिव केस बढ़ने के कारण मरीजों अस्पतालों पर लोड बढ़ने लगा है।

रिकवरी रेट 3. 39% नीचे आकर 94% पर पहुंचा
राजस्थान में पिछले 24 घंटे में कोरोना के 2236 मामले सामने आए हैं। 13 मरीजों की मौत हुई है। लगातार बढ़ते नए और एक्टिव केस से रिकवरी रेट का ग्राफ नीचे आ रहा है। 15 दिन पहले तक राज्य में रिकवरी रेट करीब 97.86 फीसदी था, जो अब 3.39% गिरकर 94.39% पर पहुंच गया है। मंगलवार को राज्य में मिले कोरोना केस देखें तो सबसे ज्यादा जयपुर में 413 मामले सामने आए। इसके बाद जयपुर, जोधपुर, उदयपुर और फिर कोटा जिले का नंबर है।

loading...
loading...

Check Also

IIT के वैज्ञानिकों ने बताया, कोरोना की दूसरी लहर का पीक कब तक आएगा ?

नई दिल्ली भारत में कोरोना की दूसरी लहर का कहर जारी है। रेकॉर्ड संख्या में ...