Friday , February 26 2021
Breaking News
Home / उत्तर प्रदेश / लोगों को डरा धमका कर अब्दुल ने इकट्ठी की थी भारी संपत्ति, योगी की पुलिस ने किया कुर्क!

लोगों को डरा धमका कर अब्दुल ने इकट्ठी की थी भारी संपत्ति, योगी की पुलिस ने किया कुर्क!

उत्तर प्रदेश में इन दिनों माफिया और बदमाशों की शामत आई हुई है. प्रशासन का कानूनी डंडा एक के बाद एक अपराधी की कमर तोड़ रहा है. योगी सरकार का आपरेशन नेस्तानाबूत काली कमाई से बनाई गईं आलीशान इमरातों को खाक में मिला रहा है. लगभग हर रोज प्रशासन का बुलडोजर किसी ना किसा अपराधी के अवैध किले को ध्वस्त कर ही देता है. योगी सरकार की इस कार्रवाई का नतीजा ये है कि बुलडोजर को देखते ही अपराधी थर थर कांपने लग जाते हैं कि कहीं ये पीला पंजा उनके काले साम्राज्य पर ना गरज जाए. दरअसल सूबे के अंदर ऐसे कई कुख्यात बदमाश और माफिया हैं जिन्होंने पिछली सरकारों का संरक्षण लेकर गुंडागर्दी और दबंई के दम पर गरीबों के साथ ही सरकारी जमीनों पर कब्जा करके आलीशान बिल्डिंगे खड़ी कर दी थी. लेकिन अब योगी राज में इन सब को ध्वस्त किया जा रहा है. जिससे माफिया भीख मांगने के लिए मजबूर हो गए हैं.

इसी बीच बिजनौर के शेरकोट इलाके में अपराध की दुनिया से अवैध रूप इकट्ठा की गई चल-अचल संपत्ति पर प्रशासन ने कुर्क करने की कार्रवाई की है. ये कार्रवाई गैंगस्टर अब्दुल बली के खिलाफ की गई है.

शनिवार को उप जिलाधिकारी धीरेंद्र सिंह के नेतृत्व में एक टीम नगर के मोहल्ला नायक सराय के रहने वाले अब्दुल वली के घर पहुंची. अब्दुल वली के खिलाफ अलग अलग धाराओं में मुकदमे दर्ज हैं उस पर आरोप है कि उसने करीब 11 लाख 33 हजार 916 रुपये की संपत्ति अवैध रूप से अर्जित की थी. इसमें लगभग 117 वर्ग मीटर भूमि जो लगभग 8 लाख 67 हजार रुपये और 31.03 वर्ग मीटर भूमि लगभग 2 लाख 66 हजार रुपये की शामिल है. कुल करीब 11 लाख 33 हजार रुपये की सम्पत्ति को कुर्क कर प्रशासन ने बोर्ड लगा दिया है. कार्रवाई के दौरान सुरक्षा के लिहाज से भारी पुलिस बल भी मौके पर मौजूद रहा.

अब्दुल वली पुत्र करीम पर अलग अलग धाराओं में मुकदमे दर्ज हैं. इतना ही नहीं अब्दुल वली गैंग लीडर है, वो शातिर किस्म का अपराधी है. जिसका क्षेत्र में भय और आतंक है. उसने लोगों को डरा धमका कर करीब साढ़े ग्यारह लाख रुपये से ज्यादा की चल अचल संपत्ति अर्जित की है. अब्दुल वली ने अपने गिरोह के सदस्य फुरकान के साथ मिलकर आपराधिक वारदातों को अंजाम देते हुए बड़ी मात्रा में अवैध संपत्ति इकट्ठा की थी. जिसे डीएम के आदेश पर कुर्क कर तहसीलदार धामपुर को सौंपा गया है. कार्रवाई में उसकी जमीन और घर पर कुर्की की गई है. तो इस तरह से सूबे के अंदर माफिया और बदमाशों को सबक सिखाया जा रहा है.

loading...
loading...

Check Also

इलाहाबाद HC ने “तांडव वेब सीरीज” मामले में अपर्णा पुरोहित की अग्रिम जमानत याचिका की खारिज 

इलाहाबाद हाईकोर्ट (Allahabad High Court) से ओटीटी प्लेटफॉर्म अमेजॉन प्राइम इंडिया की नेशनल हेड अपर्णा ...