Tuesday , November 24 2020
Breaking News
Home / जरा हटके / पंप कर्मी ने अपने पैसों से महिला को दिया था पेट्रोल, वो ऐसे उतारने आई अहसान

पंप कर्मी ने अपने पैसों से महिला को दिया था पेट्रोल, वो ऐसे उतारने आई अहसान

बिना किसी लालच के किसी की सहायता करना ही मानवता है। इसी मानवता को दक्षिण अफ्रीका की एक घटना ने साबित कर दिया है, जहां एक गैस कर्मचारी ने खुद के पैसों से एक आश्रित महिला की गाड़ी में 5 पाउंड (440 रुपये) का फ्यूल भरकर उसकी मदद की। बता दें कि मामला केपटाउन का है, जहां बाहरी इलाके में स्थित एक गैस स्टेशन पर 21 वर्षीय मोनेट वान डेवेंटर नाम की महिला अपनी गाड़ी में फ्यूल भरवाने आयी थी। परन्तु जब उसने अपनी गाड़ी में देखा तो उसके पास क्रेडिट कार्ड, पर्स पैसे कुछ भी नही थे, वो अपना क्रेडिट कार्ड और पैसे घर ही भूल आयी थी।

बता दें कि मोनेट को आगे जिस रास्ते से जाना था, वह रास्ता काफी सुनसान था। इसके अलावा वहां खूंखार गैंग का भी ठिकाना था। ऐसी स्थिति में गाड़ी में फ्यूल भराना बेहद जरूरी था। मोनेट को डर था कि रास्ते में उनकी कार का फ्यूल खत्म हो सकता है। इन सब परिस्थितियों को देखते हुए गैस कर्मचारी मबेले ने अपने खुद के पैसों से महिला की कार की टंकी को तेल से फुल कर दिया।

महिला के मुताबिक उसने गैस कर्मचारी मबेले से कहा कि मेरी कार में फ्यूल खत्म होने वाला है और कार में फ्यूल भरवाना बेहद जरूरी है परन्तु मैं अपना पर्स और क्रेडिट कार्ड घर भूल आयी हूं। महिला की बात को सुनकर मोबेल ने कहा मैडम यह रास्ता काफी सुनसान है और आपको घर जाकर पैसे लाना सही नही है इसलिए मैं अपने खुद के पैसों से आपकी गाड़ी में फ्यूल भर दूँगा आप मुझे फिर कभी पैसे दे देना जब इस रास्ते से गुजरें।

महिला ने इस बात से खुश होकर मबेले के इनाम के लिए सोशल मीडिया प्लेटफार्म फेसबुक का सहारा लेकर पैसे जुटाने का अभियान चलाया और इस अभियान के जरिए उसने मबेले के लिए साढ़े 23 लाख रुपये जुटाए। जो कि मबेले की 8 साल की तनख्वाह के बराबर थे। इस इकट्ठी की गई धन राशि को देने के लिए महिला मबेले के घर गयी परन्तु उन्होंने इतनी ज्यादा रकम लेने से मना कर दिया।

मबेले का कहना है कि, मैंने वही किया है जो मुझे करना चाहिए था इसके साथ ही उन्होंने कहा, अगर मेरी जगह कोई और होता तो वह यही करता जो मैंने किया है। मबेले का मानना है श्वेत-अश्वेत जैसी कोई भी चीज नही होती। सभी को एक साथ मिलकर रहना है इसलिए हमे ऐसे हालातों में दूसरों की सहायता के लिए हमेशा तैयार रहना चाहिए।

loading...
loading...

Check Also

यूपी पंचायत चुनाव पर सबसे बड़ी खबर, शासन की तरफ से भेजे जा रहे प्रपत्र

पंचायत चुनाव को लेकर शासन की ओर से तैयारियां शुरू कर दी गई हैं। एक ...