Friday , February 26 2021
Breaking News
Home / न्यूज़ / सरकार का 2025 प्‍लान : पेट्रोल के जरिए बेतहाशा बढ़ेगी कमाई, जानें कैसे?

सरकार का 2025 प्‍लान : पेट्रोल के जरिए बेतहाशा बढ़ेगी कमाई, जानें कैसे?

2025 तक Petrol से किसानों और चीनी मिलों की इनकम बढ़ जाएगी. क्‍योंकि मोदी सरकार ने पेट्रोल में Ethanol मिक्‍सचर को डबल करने का फैसला किया है. पेट्रोलियम मंत्री धर्मेन्द्र प्रधान की मानें तो भारत ने पेट्रोल में 20 प्रतिशत एथनॉल मिलाने का लक्ष्य हासिल करने की समय सीमा 5 साल कम कर 2025 कर दी गई है. मंहगे तेल आयात पर निर्भरता कम करने के इरादे से यह कदम उठाया गया है.

कम एथनॉल मिला रहा है भारत
उन्होंने एफआईपीआई (फेडरेशन ऑफ इंडियन पेट्रोलियम इंडस्ट्री) पुरस्कार कार्यक्रम में कहा कि 2014 में पेट्रोल में एक प्रतिशत से भी कम एथनॉल का मिलान हो रहा था जबकि लक्ष्य 5 प्रतिशत का था. पिछले चीनी वर्ष में यह अनुपात 8.5 प्रतिशत पहुंच गया है और अगले साल यह 10 प्रतिशत होगा.

10% एथनॉल मिक्सिंग
पिछले साल सरकार ने 2022 तक पेट्रोल में 10 प्रतिशत एथनॉल मिश्रण (90 प्रतिशत पेट्रोल के साथ 10 प्रतिशत एथनॉल का मिश्रण) और 2030 तक 20 प्रतिशत का लक्ष्य रखा था. उन्होंने कहा, ‘‘लेकिन अब 20 प्रतिशत का लक्ष्य 2024-25 तक हासिल करने का लक्ष्य रखा गया है.’’

83% क्रूड इम्‍पोर्ट करता है भारत
प्रधान ने कहा कि अगर इस लक्ष्य को हासिल किया जाता है, भारत पेट्रोल में एथनॉल मिलाने वाला ब्राजील के बाद दूसरा देश होगा. भारत अपनी तेल जरूरतों को पूरा करने के लिये 83 प्रतिशत आयात पर निर्भर है. पेट्रोल में एथनॉल को मिलाने से आयात में कमी की जा सकेगी. साथ ही एथनॉल कम प्रदूषण फैलाना वाला ईंधन है. इससे कार्बन उत्सर्जन में कमी आएगी.

1000 करोड़ लीटर एथनॉल लगेगा
प्रधान ने कहा, ‘2025 तक 20 प्रतिशत एथनॉल मिलाने के लिए 1,000 करोड़ लीटर की जरूरत होगी. मौजूदा भाव पर यह 60,000 से 65,000 करोड़ रुपये का है.’ पेट्रोल में एथनॉल का मिलान बढ़ाने से चीनी मिलों का इनकम सोर्स बढ़ेगा और उन्हें किसानों के बकाए के पेमेंट में मदद मिलेगी.

loading...
loading...

Check Also

अब मिलेगी मनचाही नौकरी, बस करना होगा ये आसान सा उपाय…

एक अच्छी नौकरी की चाह हर किसी को होती है | हर कोई चाहता है ...