Wednesday , January 20 2021
Breaking News
Home / ख़बर / सावधान ! अब बिजली कंपनियों के पास होगी खुद की पुलिस, हर जिले में होगा बिजली थाना

सावधान ! अब बिजली कंपनियों के पास होगी खुद की पुलिस, हर जिले में होगा बिजली थाना

भोपाल. मध्यप्रदेश में अब बिजली चोरों की खैर नहीं होगी, क्योंकि बिजली चोरी के बढ़ते मामलों को देखते हुए और बिजली कंपनियों की तरफ से की जा रही मांग को मंजूर करते हुए प्रदेश सरकार ने एक बड़ा फैसला लिया है। मध्यप्रदेश में अब बिजली कंपनियों के पास खुद की पुलिस होगी। हर जिले में बिजली थाने खोले जाएंगे जिसमें पुलिसकर्मी तैनात होंगे और वो बिजली चोरी के मामलों में ही कार्रवाई करेंगे। मध्यप्रदेश के ऊर्जा विभाग ने इस संबंध में प्रदेश की तीनों बिजली कंपनियों को पत्र लिखा है और बिजली थानों की स्थापना करने के लिए जमीन के चयन करने के लिए कहा है।

बिजली कंपनियां लंबे समय से कर रहीं थीं मांग
बता दें कि मध्यप्रदेश की तीनों बिजली कंपनियां मध्य, पूर्व और पश्चिम क्षेत्र लगातार इस बात की मांग कर रही थीं कि बिजली चोरी रोकने के लिए उनके पास अपनी अलग पुलिस होनी चाहिए। क्योंकि कई बार बिजली चोरी के मामलों में कार्रवाई करने जाने पर बिजली कंपनियों को स्थानीय पुलिस की मदद नहीं मिल पाती है। सही समय पर बिजली कंपनी के अधिकारियों को पुलिस मदद न मिलने के कारण कई बार बिजली चोरी रोकने गए अधिकारियों पर हमलों की घटनाएं भी हो चुकी हैं। इसके कारण बिजली कंपनियां लंबे समय से सरकार से खुद के लिए अलग से पुलिस की मांग कर रही थीं जिस पर अब सरकार ने सहमति दी है।

हर जिले में खुलेंगे बिजली थाने
बताया जा रहा है कि बिजली कंपनियों के प्रदेश के हर जिले में बिजली थाने अलग से होंगे और बिजली थाने की पुलिस सिर्फ बिजली चोरी के मामलों में कार्रवाई करेगी। ये ठीक आबकारी टीम की तरह होगा। हर जिले में बिजली थाने में 2 उप निरीक्षक, 4 सहायक उप निरीक्षक, 8 प्रधान आरक्षक, 16 आरक्षक का स्टाफ रखे जाने की संभावना है। इनमें 14 पुरुष और दो महिला आरक्षक शामिल होंगे। इसके अतिरिक्त 30 जवानों को थाना कार्यालय में कार्य करने के लिए पदस्थ किया जाएगा। इसी तरह उप निरीक्षक सहायक श्रेणी- 2 का एक पद, सहायक उप निरीक्षक डेटा ऑपरेटर का एक पद और सहायक उप निरीक्षक सहायक श्रेणी- 3 का भी एक पद रहेगा।

loading...
loading...

Check Also

BJP सांसद हेमा मालिनी के होटल का खर्च उठाना चाहते हैं आंदोलनकारी किसान, जानिए कारण

नई दिल्ली। नए कृषि कानूनों ( Farm Law ) को लेकर किसानों का प्रदर्शन लगातार जारी ...