Wednesday , January 20 2021
Breaking News
Home / ख़बर / हरियाणा : प्रदर्शनकारी किसानों पर आंसू गैस के गोले और लाठीचार्ज, काले झंडे देखने से पहले खट्टर की रैली रद्द

हरियाणा : प्रदर्शनकारी किसानों पर आंसू गैस के गोले और लाठीचार्ज, काले झंडे देखने से पहले खट्टर की रैली रद्द

करनाल
दिल्‍ली बॉर्डर पर चल रहे किसानों और सरकार के बीच बढ़ते तनाव की खबरें तो आ ही रही थीं. वहीं अब हरियाणा के करनाल में भी पुलिस और प्रदर्शनकारी किसानों के बीच टकराव हुआ है। करनाल के कैमला गांव में सीएम मनोहर लाल खट्टर का एक कार्यक्रम होना था, लेकिन वहां बड़ी संख्‍या में किसान पहुंच कर नारेबाजी करने लगे। इस पर पुलिस ने उन पर लाठीचार्ज किया है, साथ ही आंसू गैस के गोले भी दागे हैं।

ये किसान कृषि कानूनों का विरोध कर रहे थे। करनाल के इस गांव में आयोजित महापंचायत में खट्टर कृषि कानूनों के फायदे गिनाने वाले थे। वहां आए सैकड़ों किसानों ने न केवल उन्‍हें काले झंडे दिखाए, बल्कि नारेबाजी भी की।

पुलिस ने दिखाई सख्ती
सीएम की सुरक्षा में तैनात सुरक्षाबलों और स्‍थानीय पुलिस ने पहले उन्‍हें लाठीचार्ज कर तितर-बितर करना चाहा। बाद में उन्‍हें आंसू गैस के गोले दागने पड़े।

सुरजेवाला ने किया हमला
इस घटना के बाद कांग्रेस के प्रवक्‍ता रणदीप सिंह सुरजेवाला ने ट्वीट किया, ‘क्‍या कह रहे थे, खट्टर साहेब! ‘सरकारी’ महापंचायत तो होकर रहेगी? ये अन्‍नदाता हैं। ये किसी वॉटर कैनन या आंसू गैस से नहीं डरते। इन्‍हें डराइए नहीं। इनकी जिंदगी, रोजी रोटी मत छीनिए। तीनों खेती बिल वापस कराइए वरना झोला उठाकर घर जाइए।’

इस मामले में रविवार सुबह कांग्रेस के प्रवक्‍ता रणदीप सिंह सुरजेवाला ने सीएम मनोहर लाल खट्टर पर निशाना साधते हुए ट्वीट किया था, ‘माननीय मनोहर लाल जी, करनाल के कैमला गांव में किसान महापंचायत का ढोंग बंद कीजिए। अन्‍नदाताओं की संवेदनाओं एवं भावनाओं से खिलवाड़ करके कानून व्‍यवस्‍था बिगाड़ने की साजिश बंद करिए। संवाद ही करना है तो पिछले 46 दिनों से सीमाओं पर धरना दे रहे अन्‍नदाता से करिए।’

loading...
loading...

Check Also

BJP सांसद हेमा मालिनी के होटल का खर्च उठाना चाहते हैं आंदोलनकारी किसान, जानिए कारण

नई दिल्ली। नए कृषि कानूनों ( Farm Law ) को लेकर किसानों का प्रदर्शन लगातार जारी ...