Saturday , October 24 2020
Breaking News
Home / उत्तर प्रदेश / हाथरस गैंगरेप : पीड़‍ित और आरोपी के परिवारों में 23 साल पुराना झगड़ा, तब भी हुआ था केस

हाथरस गैंगरेप : पीड़‍ित और आरोपी के परिवारों में 23 साल पुराना झगड़ा, तब भी हुआ था केस

हाथरस
हाथरस कांड की पीड़िता के गांव से मिली जानकारी और खुफिया विभाग की रिपोर्ट पर भरोसा किया जाए तो पीड़िता के परिजन और एक आरोपी परिवार की करीब 23 साल पुरानी दुश्‍मनी है।

पीड़‍िता के पिता ने एक आरोपी संदीप के पिता पर तब एससी/एसटी ऐक्‍ट और मारपीट की एफआईआर लिखाई थी। ठाकुर बहुल बूलघड़ी गांव में वाल्‍मीकी समाज के लोग गिनती के हैं। गांव में ठाकुर समाज के दो गुट बताए जा रहे हैं। एक गुट के साथ वाल्‍मीकी समाज के लोग हैं। दूसरा गुट युवती की मौत के आरोपी संदीप, रामू, लवकुश और रवि पक्ष का है।

दो गुट हैं ठाकुरों के
अब तीन आरोपी इसी गुट के और एक ही परिवार के बताएं जा रहे हैं। एक आरोपी रामू है। रवि रामू के चाचा का बेटा है और संदीप का नजदीकी रिश्‍तेदार है। ये सभी पीड़‍िता के पड़ोसी हैं। गांव से मिली जानकारी के अनुसार गुटबंदी की असल वजह एक प्‍लॉट पर मालिकाना हक है।

23 साल पहले लिखाई थी एफआईआर
उस प्‍लॉट पर ठाकुरों के दोनों गुटों की नजर थी। इसे लेकर अकसर तनाव हो जाता था। जानकारी के मुताबिक, करीब 23 साल पहले हैवानियत की शिकार हुई युवती के पिता ने एक आरोपी के पिता और उसके भाई के खिलाफ मारपीट और एससी/एसटी ऐक्‍ट के तहत एफआईआर लिखाई थी। तब भी काफी तनाव रहा था, हालांकि बाद में समझौता हो गया था।

loading...
loading...

Check Also

बिहार में फ्री कोरोना वैक्सीन का वादा की BJP तो बॉलीवुड डायरेक्टर बोले- दुखद.. राजनीति का स्तर तो..

नई दिल्ली:  भारतीय जनता पार्टी (BJP) ने बिहार विधानसभा चुनाव (Bihar Elections 2020) का घोषणापत्र ...