Thursday , January 28 2021
Breaking News
Home / खेल / हार्दिक पांड्या को अगर मिला इन 5 खिलाड़ियों का साथ, तो भारत आसानी से जीत लेगा टी20 वर्ल्ड चैंपियन का खिताब !

हार्दिक पांड्या को अगर मिला इन 5 खिलाड़ियों का साथ, तो भारत आसानी से जीत लेगा टी20 वर्ल्ड चैंपियन का खिताब !

हार्दिक पांड्या ने एमएस धोनी के संन्यास के बाद से फिनिशर की भूमिका को बेहद अच्छे निभाया हैं. हाल में ऑस्ट्रेलिया के विरुद्ध खेली गयी वनडे और टी20I सीरीज में पांड्या ने अंतिम ओवरों में जिस तरह से मैच को फिनिश किया हैं, उसे देखकर सभी बेहद खुश हैं.

हार्दिक टीम इंडिया में एमएस धोनी के अंडर बेहद अच्छे से फिनिश के गुण सीखे हैं हालाँकि एमएस के संन्यास के हार्दिक बाद अब टीम के प्रमुख फिनिशर होंगे जबकि अन्य खिलाड़ियों को उनकी मदद करनी होगी. आज इस लेख में हम 5 ऐसे खिलाड़ियों के बारे में जानेगे जो आईसीसी टी20 वर्ल्ड 2021 में हार्दिक के साथ फिनिशिंग की भूमिका निभा सकते हैं.

1) रविन्द्र जडेजा

Aussies left frustrated as 'dizzy' Jadeja is subbed out | cricket.com.au

रविन्द्र जडेजा ने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ पहले टी20I में भारत के लिए शानदार प्रदर्शन किया, महज 23 गेंदों पर 44 रनों की पारी खेली और भारत को 161 के कुल योग तक पहुंचने में मदद की, जो काफी साबित हुई क्योंकि मेहमान टीम ने 11 रनों से जीत दर्ज की.

उस पारी के दौरान जडेजा की 191.3 की जबरदस्त स्ट्राइक रेट को निश्चित रूप से प्रबंधन और चयनकर्ताओं का ध्यान आकर्षित करना चाहिए था, जो उनके व्यक्तिगत प्रतिभा के साथ खेल जीतते हुए, उन्हें लगातार योगदान देने वाले के रूप में देख सकते हैं.

वह इस भूमिका के लिए सबसे प्रबल दावेदार हैं, जो मध्य चरण में 4 किफायती ओवर भी प्रदान कर सकते हैं. यदि वह नीडल या चोटों को दूर रख सकता है, तो उसके और हार्दिक के बाएं-दाएं संयोजन टीम के लिए अद्भुत काम कर सकते हैं और बढ़त हासिल कर सकते हैं.

2) ईशान किशन

Kishan: Sixth sense said that Dhoni will go for the second run - Mumbai  Indians

झारखंड के इस मजबूत विकेटकीपर-बल्लेबाज ने दिखाया है कि वह टीम में एक विशेषज्ञ बल्लेबाज के रूप में खेल सकते हैं, अगर उन्हें विकेटकीपिंग की जिम्मेदारी नहीं मिलती हैं. उन्होंने आईपीएल 2020 अभियान में एमआई के लिए उस भूमिका को खूबसूरती से निभाया.

13 पारियों में, किशन ने 57.33 की औसत से 516 रन बनाए और आईपीएल 2020 में 145.76 की अविश्वसनीय स्ट्राइक रेट रही. यह पहलू भारत के दृष्टिकोण से पेचीदा है क्योंकि दोनों एक-दूसरे एक फ्रैंचाइज़ी के साथ 3 साल बिताने के बारे में अच्छी तरह से जानते हैं. अगर भारत उन मौका देता है, तो 2 युवा बल्लेबाज एक शानदार जोड़ी बना सकते हैं और टीम के लिए खेल को असंभव परिस्थितियों से खत्म कर सकते हैं.

3) ऋषभ पंत

Pressure mounts on Rishabh Pant as India look to draw first blood - The  Economic Times

मध्यक्रम के तेजतर्रार बल्लेबाज के रूप में अपनी छवि बनाने के बाद, पंत ने पिछले कुछ महीनों में कंसिस्टेंट प्रदर्शन न करने के साथ टीम में अपनी जगह खो दी है. इसके अलावा आईपीएल 2020 में वह सिर्फ एक ही अर्धशतक लगा सके, वह भी MI के खिलाफ फाइनल में उनके बल्ले से निकला.

भारत के लिए 27 टी20I में पंत ने 20.5 के औसत और 122.02 के स्ट्राइक रेट से 410 रन बनाए. उनेक आंकड़े देखने में उतने प्रभावशाली नहीं दिखते हैं, जितने वह प्रतिभाशाली हैं लेकिन अगर वर्ल्ड कप से पहले वह कंसिस्टेंट प्रदर्शन करते हैं तो उन्हें हार्दिक का जोड़ीदार बनाया जा सकता हैं.

4) अब्दुल समद

Who is Abdul Samad: SRH debutant and second player from J&K to play in IPL  - News Chant

कई लोग तर्क दे सकते हैं कि समद अभी भी बहुत अनुभवहीन है, लेकिन कोई इस तथ्य से इनकार नहीं कर सकता कि वह अपने पहले आईपीएल सत्र में असाधारण रहे थे, जहां उन्होंने सर्वश्रेष्ठ गेंदबाजों के खिलाफ उन्दा प्रदर्शन किया.

समद ने 8 पारियों में 27.20 की औसत और 170.76 की अविश्वसनीय स्ट्राइक रेट से 111 रन बनाए डीसी के खिलाफ क्वालीफायर 2 में रबाडा और नॉर्टजे के खिलाफ  सिर्फ 16 33 गेंदों पर 33 रनों की ताबड़तोड़ पारी आज भी क्रिकेट प्रेमियों के दिमाग में हैं. युवा और बहुत अनुभवहीन होने के बावजूद, समद के पास सबसे बड़े मंच पर देश का प्रतिनिधित्व करने के लिए प्रतिभा है और बल्ले और गेंद दोनों के साथ अपने राज्य और देश के लिए अहम योगदान देने में सक्षम हैं.

5) दीपक हूडा

Cricket: Deepak Hooda celebrates India call by helping RBI register first  win in DY Patil T20 Cup

बड़ौदा के इस ऑलराउंडर ने आईपीएल जैसे बड़े टूर्नामेंट में अपने प्रदर्शन से छाप छोड़ी हैं. बल्ले के साथ उनके फ्री-फ्लो ने कई बार गेंदबाजी के बेहतरीन दबाव को झेला है और उन्होंने काफी तारीफ बटौरी हैं.

हालांकि हुड्डा आईपीएल 2020 में KXIP के लिए 5 पारियों में केवल 101 रन ही बना सके, लेकिन वह टीम के लिए संकट के समय आए और दबाव में शानदार प्रदर्शन किया. सीएसके के खिलाफ उनके आखिरी मैच में उनका फिनिशिंग टच एक यादगार लम्हा था.

loading...
loading...

Check Also

चश्मा पहनकर विकेट चटकाता है इंग्लैंड का ये गेंदबाज, भारत के लिए होगा सबसे बड़ा खतरा

भारत और इंग्लैंड के बीच टेस्ट सीरीज का आगाज 5 फरवरी से होने वाला है. ...