Saturday , September 19 2020
Breaking News
Home / क्राइम / हैदराबाद : कार शोरूम में आग लगाया चूहा, 1 करोड़ का माल फूंका

हैदराबाद : कार शोरूम में आग लगाया चूहा, 1 करोड़ का माल फूंका

आपने अक्सर घरों में चूहों द्वारा छोटा-मोटा नुकसान किए जाने की घटनाएं तो सुनी होगी, लेकिन क्या कभी आपने सुना है कि एक छोटा सा चूहा किसी के करोड़ों रुपये के नुकसान का कारण बन गया हो। चौंकिए मत, ऐसा हकीकत में हुआ है। दरअसल, फरवरी में हैदराबाद के मुशीराबाद में कार शोरूम में आग लगने से तीन कारों सहित करोड़ों रुपये का सामान जल गया था। जांच में इस घटना के लिए चूहे को ही जिम्मेदार पाया गया है।

8 फरवरी को मुशीराबाद में मारुति नेक्सा कारों के शोरूम और सर्विस सेंटर में आग लग गई थी। इस घटना में तीन कारों सहित करीब एक करोड़ रुपये का सामान जल गया था। पुलिस ने शॉट सर्किट से आग लगना मानते हुए मामले को बंद कर दिया था। हालांकि, उसके बाद एक निजी कंपनी ट्रू लैब्स की ओर से उस रात के CCTV की जांच की गई तो चूहे के कारण आग लगना सामने आया।

घटना के दिन शोरूम में हुई थी पूजा-अर्चना

ट्रू लैब्स के अनुसार घटना के दिन सुबह करीब 10 बजे शोरूम में पूजा-अर्चना का कार्यक्रम था। इसके लिए दीपक भी जलाया गया था। कमरे में हवा का माध्यम नहीं होने के कारण दीपक रात तक जलता रहा। रात करीब 11:51 बजे की फुटेज में ग्राहक सेवा कक्ष की मेज पर एक चूहा दिखाई देता है। इसके बाद 11:55 बजे की फुटेज में चूहा दीपक से जलती हुई बाती को खींचकर ले जाता हुआ दिखाई देता है।

जलती हुई बाती से लगती है कुर्सी के निचले हिस्से में आग

फुटेज के अनुसार 11:55 बजे ही चूहा जलती हुई बाती को कुर्सी के नीचे छोड़ देता है। फुटेज में कुर्सी के निचले हिस्से में आग लगी दिखती है। हालांकि, उस दौरान भी चूहा मेज पर ही रहता है। इसके बाद रात करीब 12:06 बजे कुर्सी आग की लपटों से घिर जाती है। कुछ ही देर में आग पुरे फ्लोर पर फैलते हुए बेसमेंट में बने सर्विस सेंटर पहुंच जाती है। इसके बाद आग वहां खड़़ी कोरों को घेर लेती है।

जांच में मौके पर नहीं मिला कोई भी हाइड्रोकार्बन

निरीक्षण टीम को मौके पर कोई हाइड्रोकार्बन नहीं मिला है। इससे यह जाहिर होता है कि किसी भी तरल पदार्थ की मदद से आग नहीं लगाई गई थी। इसके बाद सामने आई CCTV की इस फुटेज ने आग के कारणों को खुलासा कर दिया है।

जांच के बाद बंद कर दिया था मामला

मुशीराबाद पुलिस ने बताया कि आग फरवरी में मुशीराबाद के कार शोरूम और सर्विस सेंटर में लगी थी। इस संबंध में मामला दर्ज कर जांच की गई थी। जांच में शोरूम संचालक और कर्मचारियों के भी बयान दर्ज किए गए थे। अन्य विभागों की रिपोर्ट में मामले का निपटारा किए जाने की बात कही गई थी। उसके बाद पुलिस शॉट सर्किट के कारण आग लगना मानते हुए मामले को बंद कर दिया था।

Check Also

शादी से पहले ऐसी मांग किया दूल्हा, भरी महफिल में दुल्हन हो गई शर्मिंदा

शादी हर लड़की का सपना होता है, हर लड़की उस सपने के साथ अपनी जिंदगी ...