Wednesday , December 2 2020
Breaking News
Home / क्राइम / 12 साल बाद दिखा US का ये सीक्रेट प्लेन, चीन के खिलाफ कुछ बड़ा करने की तैयारी?

12 साल बाद दिखा US का ये सीक्रेट प्लेन, चीन के खिलाफ कुछ बड़ा करने की तैयारी?

वॉशिंगटन
अमेरिकी वायुसेना का सीक्रेट लड़ाकू विमान लॉकहीड एफ-117 नाइटहॉक को रिटायरमेंट के 12 साल बाद फिर उड़ते हुए देखा गया है। पिछले हफ्ते इस स्टील्थ लड़ाकू विमान को अमेरिका के सैन डिएगो में मरीन कॉर्प्स एयर स्टेशन मीरामार में तैनात किया गया था। जिसके बाद इसे ऑपरेशनल तैयारियों के लिए लॉस वेगास में नेलिस एयर फोर्स बेस पर लाया गया है। यहां से ये विमान लगातार उड़ान भरते देखे जा रहे हैं।

सीक्रेट मिशन को अंजाम देने की तैयारी?
अमेरिकी सेना से जुड़ी रिपोर्ट को प्रकाशित करने वाली वेबसाइट द ड्राइव की रिपोर्ट के अनुसार, इस विमान से किसी सीक्रेट मिशन को अंजाम देने की तैयारी की जा सकती है। इसके अलावा जो दूसरा संदेह जताया जा रहा है कि अमेरिकी एयरफोर्स इस प्लेन में कुछ बदलाव कर इसे फिर से मिशन के लिए तैनात करने की योजना पर भी काम कर रही है। इसलिए, इन दिनों बड़ी संख्या में इस विमान की टेस्ट फ्लाइट को अंजाम दिया जा रहा है।

किसी भी दूसरे देश को नहीं दिया गया यह विमान
अमेरिका के स्टील्थ लड़ाकू विमान एफ-117 नाइटहॉक को लॉकहीड मार्टिन ने 1981 में विकसित किया था। हालांकि, अमेरिकी एयरफोर्स में इसकी तैनाती दो साल बाद 1983 में की गई थी। इस दो इंजन वाले स्टील्थ हमलावर विमान के दो वैरियंट YF-117As, F-117As के कुल 64 यूनिट्स को लॉकहीड ने बनाया था। बड़ी बात यह है कि स्टेट ऑफ ऑर्ट तकनीकी होने के कारण इस विमान को अमेरिका ने किसी भी दूसरे देश को नहीं दिया था।

इन युद्धों में दुश्मनों पर बरसा चुका है कहर
1991 में खाड़ी युद्ध के दौरान F-117 ने दुश्मन देशों की सेनाओं और उनके सीक्रेट ठिकानों पर सटीक बमबारी कर तबाही मचा दी थी। 1999 में यूगोस्लाविया में हुई जंग के दौरान भी इस विमान का उपयोग किया गया था। हालांकि, उस दौरान एक सर्फेस टू एयर मिसाइल ने इस विमान को मार गिराकर इसके स्टील्थ होने के दावे पर सवाल उठा दिए थे। 64 विमानों में से यही एक विमान ऐसा था जिसे अमेरिकी एयरफोर्स ने खोया है।

F-117 Caught Flying for the First Time in Over a Decade | News Break

क्यों यूएस एयरफोर्स ने किया रिटायर

इस लड़ाकू विमान को 22 अप्रैल 2008 को अमेरिकी वायुसेना ने सर्विस से डिकमीशन कर दिया था। तब यह दलील दी गई थी कि इसकी जगह पर एफ-22 रेप्टर विमानों को शामिल किया जाएगा। रिटायरमेंट के बाद भी इस फ्लीट के कुछ विमानों को एयरफोर्स ने लगातार मेंटेन रखा। हाल के दिनों में इसकी बढ़ती उड़ानों से इस विमान को फिर से चर्चा का विषय बना दिया है।

loading...
loading...

Check Also

वीडियो : किसानों को गाली दिए BJP सांसद, बोले- ‘कहीं और जाकर मरो’

बीजेपी आईटी सेल के बाद अब भाजपा नेता भी किसानों को गालियां देने लगे हैं। ...