Tuesday , November 24 2020
Breaking News
Home / खेल / 5 मशहूर क्रिकेटर जो अमीर से बन गए गरीब, एक भारतीय ने तो चौकीदारी तक की

5 मशहूर क्रिकेटर जो अमीर से बन गए गरीब, एक भारतीय ने तो चौकीदारी तक की

क्रिकेट के खेल में वर्तमान में बहुत पैसा और सम्मान हैं. कई ऐसे खिलाड़ी हैं जो अन्तराष्ट्रीय क्रिकेट में डेब्यू से पहले बेहद गरीब हुआ करते थे लेकिन अब करोडपति हैं . लेकिन आज हम 5 ऐसे अन्तराष्ट्रीय क्रिकेटरों की बात करेंगे जो अमीर से गरीब हो गए.

1) अरशद खान- पाकिस्तान

Arshad Khan: From ex-Pakistan cricketer to Uber cabbie - News ...

पाकिस्तान के पूर्व स्पिनर अरशद खान ने 1993 से 2006 के बीच पाकिस्तान के लिए 9 टेस्ट और 60 वनडे खेले, इस दौरान  उन्होंने क्रमश: 32 और 57 बल्लेबाजों को पवेलियन की राह दिखाई.

खान ने क्रिकेट करियर के दौरान बहुत पैसे कमाए लेकिन संन्यास के बाद उनके दिन बदल गए और उन्हें परिवार पालना भी मुश्किल हो गया. जिसके कारण उन्हें ऑस्ट्रेलिया के सिडनी में जाकर टैक्सी चलानी पड़ रही हैं.

2) क्रिस केन्स- न्यूजीलैंड

India vs New Zealand ODI Records: Top five highest individual ...

न्यूजीलैंड के क्रिस केन्स किसी पहचान के मोहताज़ नही हैं. उन्हें क्रिकेट के इतिहास के महान ऑलराउंडर खिलाड़ियों में शामिल किया जाता हैं. केन्स ने कीवी टीम के लिए 62 टेस्ट और 215 वनडे खेले. क्रिकेट से सन्यास के बाद उन्होंने खुद का हीरो का बिजनेस शुरू किया था.

इस दौरान काफी नुकसान हुआ और उन्हें घर पालने में दिक्कत आने लगी. मुश्किल समय में परिवार के पालन-पोषण के लिए क्रिस केन्स ड्राईवर बन गये और ट्रक चलाना शुरू किया.

3) जनार्धन नावले- भारत

Janardan Navle: India's first Test wicketkeeper who also faced the ...

इस सूची में भारत के जनार्धन नावले भी शामिल हैं. वर्तमान में बीसीसीआई दुनिया के सबसे अमीर बोर्ड हैं लेकिन एक समय ऐसा भी था जब भारत के लिए खेलने के लिए पैसा नहीं मिलता था. नावले ने 1932 में भारत के लिए क्रिकेट खेला.

भारत की पहली टेस्ट टीम में नावले विकेटकीपर की भूमिका में थे. क्रिकेट छोड़ने के बाद उन्हें आर्थिक समस्याओं ससे जूझना पड़ा थे, जिसके कारण उन्होंने चौकीदार नौकरी करके अपना परिवार का गुजारा किया था.

4) एडम हॉलियोक- इंग्लैंड

इंग्लैंड के पूर्व ऑलराउंडर एडम हॉलियोक भी इस सूची में शामिल हैं. हॉलियोक ने जब तक इंग्लैंड की लिए क्रिकेट खेला तब तक उनकी आर्थिक स्तिथि काफी मजबूत रही लेकिन सन्यास के बाद हालत बिगड़ने लगे.

1997 में डेब्यू करने वाले हॉलियोक ने 1999 में आखिरी अन्तराष्ट्रीय मैच खेला था. क्रिकेट तंगी से परेशान एडम ने क्रिकेट को अलविदा कहकर मिक्स्ड मार्शल आर्ट में काम करना शुरू किया और ऐसे पैसा कमाने पर मजबूर हुए.

5) मैथ्यू सिंक्लेयर- न्यूजीलैंड

न्यूजीलैंड के पूर्व सलामी बल्लेबाज मैथ्यू सिंक्लेयर टेस्ट डेब्यू में दोहरा शतक लगाने वाले बल्लेबाज हैं. सिंक्लेयर ने 1999 से  2009 के बीच कीवी टीम के लिए 33 टेस्ट, 54 वनडे और 2 टी-ट्वेंटी खेले, इस दौरान उन्होने क्रमश: 1635, 1304 और 0 रन बनाये.

क्रिकेट से सन्यास के बाद उन्हें पैसों की तंगी के कारण  रियल स्टेट कंपनी में नौकरी करनी पड़ी.

loading...
loading...

Check Also

सरेआम धुलाई : पाकिस्तानी मंत्री ने शेयर की फेक न्यूज, पोल खोलकर बोला फ्रांस- ‘झूठी..’

इस्लामाबाद फ्रांस के राष्ट्रपति इम्मैन्युअल मैक्रों पिछले काफी वक्त से मुस्लिम देशों के निशाने पर ...