Sunday , November 29 2020
Breaking News
Home / ख़बर / ABP-CVoter का Exit Poll : नीतीश-तेजस्वी के बीच कांटे की टक्कर, चिराग को नकार दिया बिहार !

ABP-CVoter का Exit Poll : नीतीश-तेजस्वी के बीच कांटे की टक्कर, चिराग को नकार दिया बिहार !

बिहार विधानसभा चुनाव (Bihar chunav) में तीनों चरणों की वोटिंग संपन्न हो गई है। अब पूरे देश को 10 नवंबर को आने वाले बिहार चुनाव के नतीजे का इंतजार है। उससे पहले ABP-CVoter की ओर से किए गए Bihar Exit Poll के जरिए हम समझने की कोशिश कर रहे हैं कि बिहार की जनता का मूड क्या है। इस एग्जिट पोल के मुताबिक आरजेडी सबसे बड़ी पार्टी बनकर उभरती हुई दिख रही है। हालांकि वोट फीसदी में एनडीए बाजी मारता हुआ दिख रहा है। यहां स्पष्ट कर दें कि Exit Poll केवल अनुमान है, वास्तविक फैसले के लिए 10 नवंबर का ही इंतजार करना होगा। ABP-CVoter की ओर से किए गए बिहार चुनाव के Exit Poll में क्या है खास आइए इसे जानते हैं-

ABP-CVoter के एग्जिट पोल में किसको कितनी सीटें-

नीतीश कुमार (NDA) : 104-128 सीटें मिल सकती हैं।

तेजस्वी यादव (UPA) : 108 से 131 सीटें मिल सकती हैं।

चिराग पासवान (LJP): 1 से 3 सीटें मिल सकती हैं।

अन्य : 4-8 सीटें जा सकती हैं।

किसको कितनी फीसदी वोट-

नीतीश कुमार (NDA) : 37.7 फीसदी वोट मिलने की संभावना है।

तेजस्वी यादव (UPA) : 36.3 फीसदी वोट मिलने की संभावना है।

चिराग पासवान (LJP): 8.5 फीसदी वोट मिलने की संभावना है।

अन्य: 17.5 फीसदी वोट मिल सकते हैं।

एग्जिट पोल का पूरा विश्लेषण
सी वोटर के प्रमुख यशवंत देशमुख ने बताया कि इस बार का बिहार चुनाव दो रिजन में बंटा था। एक वह जहां बीजेपी के प्रत्याशी थे, एक वहां जहां जेडीयू के उम्मीदवार थे। जिन जगहों पर जेडीयू के प्रत्याशी थे वहां महागठबंधन को करीब 39 फीसदी वोट मिले, वहीं जेडीयू को करीब 34 फीसदी वोट मिलने की संभावना है। यानी करीब पांच फीसदी वोटों से महागठबंधन लीड करती दिख सकती है।

जहां बीजेपी के प्रत्याशी हैं वहां एनडीए को 43 फीसदी वोट मिलने की संभावना है और महागठबंधन को 35 फीसदी वोट मिलते हुए दिख रहे हैं। जिन सीटों पर बीजेपी के प्रत्याशी रहे वहां एलजेपी के ढाई फीसदी भी वोट नहीं रहने की संभावना है। वहीं जिन सीटों पर जेडीयू के प्रत्याशी हैं वहां एलजेपी 14.5 फीसदी वोट हासिल करती हुई दिख रही है। यानी की बीजेपी और जेडीयू के प्रत्याशियों के बीच लगभग 10 फीसदी वोटों का अंतर दिख सकता है।

मालूम हो कि बिहार विधानसभा चुनाव में तीन चरणों 28 अक्टूबर, 4 नवंबर और 7 नवंबर में वोटिंग हुई है। पहले चरण में 71 सीटों पर 54.26 प्रतिशत लोगों ने वोट डाले। दूसरे चरण में 94 सीटों पर 53.51 फीसदी वोटिंग हुई। वहीं तीसरे चरण में 78 सीटों पर 5 बजे तक करीब 53.7 % वोटिंग हुई।

loading...
loading...

Check Also

लद्दाख में MARCOS को देखते ही उड़ गई चीनियों की नींद, लेकिन क्यों?

लगता है चीनी PLA के सैनिक इस कहावत को चरितार्थ करके ही मानेंगे – लातों ...