Thursday , January 28 2021
Breaking News
Home / ख़बर / ऑस्ट्रेलियाई मीडिया की घिनौनी साजिश का पर्दाफाश, कोहली-पंड्या पर प्रोटोकॉल तोड़ने के आरोप का जानें सच

ऑस्ट्रेलियाई मीडिया की घिनौनी साजिश का पर्दाफाश, कोहली-पंड्या पर प्रोटोकॉल तोड़ने के आरोप का जानें सच

सिडनी : ऑस्ट्रेलिया में भारतीय टीम के ओपनर रोहित शर्मा, ऋषभ पंत, शुभमन गिल, पृथ्वी शॉ और नवदीप सैनी के साथ-साथ विराट कोहली और हार्दिक पंड्या पर भी कोरोना प्रोटोकॉल तोड़ने के आरोप लगे। ऑस्ट्रेलियाई मीडिया ने एक फोटो शेयर कर दावा किया था कि कोहली और पंड्या ने वनडे सीरीज के दौरान एक दुकान में गए थे। फोटो सिडनी के बेबी विलेज के एक बेबी स्टोर बोंदी जंक्शन का था।

अब बेबी स्टोर के मालिक ने ऑस्ट्रेलियाई मीडिया पर भ्रामक खबरें फैलाने का आरोप लगाया है। बेबी विलेज के मालिक नाथन पोंग्रास ने कहा कि ऑस्ट्रेलियाई मीडिया की रिपोर्ट शर्मनाक है। उन्होंने कहा कि कोहली और पंड्या ने किसी प्रोटोकॉल का उल्लंघन नहीं किया। जिस वक्त (7 दिसंबर) की यह फोटो है, उस वक्त न्यू साउथ वेल्स में किसी तरह का प्रतिबंध नहीं था।

कोहली और पंड्या के वक्त सिडनी में केस नहीं थे
नाथन ने कहा, ”कोहली और पंड्या स्टोर में आए और कुछ वक्त बिताया। उस वक्त न्यू साउथ वेल्स में कोई दिक्कत नहीं थी। हम उन्हें गिफ्ट देना चाहते थे, लेकिन वे नहीं माने और कहा कि वे सभी सामानों के लिए पे करेंगे। उन्होंने हमारे साथ काफी अच्छा बर्ताव किया। उन्होंने हमारे स्टाफ से भी बातचीत की। दोनों बहुत ही अच्छे हैं।”

गर्व महसूस करने के लिए सोशल मीडिया पर फोटो शेयर किया
नाथन ने कहा, ”कोहली और पंड्या ने हमारे कर्मचारियों के साथ फोटो भी खिंचवाई। हमने इसे सोशल मीडिया पर शेयर किया ताकि हम गर्व से कह सकें कि उन्होंने शॉपिंग के लिए हमारा स्टोर चुना। हमारे स्टाफ को उन्हें छूने या हाथ मिलाने की इजाजत नहीं थी। जबकि सिडनी में उन दिनों ऐसी कोई पाबंदी नहीं थी।”

सिडनी में 50 में से सिर्फ 1 शख्स मास्क पहनता था
नाथन ने कहा, ”इस दौरान दोनों प्लेयर्स ने मास्क भी नहीं पहना था। जैसा कि मैंने पहले कहा उस वक्त सिडनी में कोरोना के मामले नहीं थे। उन दिनों सिडनी में 50 में से सिर्फ 1 शख्स मास्क पहनता था। मैंने तो सिर्फ बुजुर्गों को मास्क पहने देखा था। प्रेग्नेंट महिलाएं को भी मैंने मास्क पहने नहीं देखा।”

ऑस्ट्रेलियाई मीडिया के रिपोर्ट्स शर्मनाक
नाथन ने कहा कि उन्होंने और उनके स्टोर के स्टाफ ने कोहली और पंड्या के साथ काफी अच्छा समय बिताया। उन्होंने कहा कि मीडिया में इसको लेकर जो कुछ भी हुआ वह बेहद ही शर्मनाक है। ऑस्ट्रेलियाई मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक न्यू साउथ वेल्स में गेमिंग रूम, हेयर सैलून और दुकान जैसे इंडोर वेन्यू में 3 जनवरी के बाद से मास्क कम्पल्सरी किया गया। जबकि वहां कोरोना के मामले मिड दिसंबर से बढ़ रहे थे।

20 दिन बाद खुली ऑस्ट्रेलियाई मीडिया की आंखें
सिडनी मॉर्निंग हेराल्ड ने कोहली और पंड्या की फोटो वायरल होने के बाद उनपर बायो-बबल ब्रीच का आरोप लगाया था। यह बेहद आश्चर्यजनक था कि ऑस्ट्रेलियाई मीडिया की आंखें 20 दिन बाद खुलीं। पंड्या और कोहली 20 दिन पहले ही भारत लौट चुके हैं। इसके बाद उन्होंने इसी तरह का आरोप रोहित समेत 5 भारतीय खिलाड़ियों पर भी लगाया।

7 जनवरी से सिडनी में खेला जाएगा तीसरा टेस्ट
तीसरे टेस्ट के लिए 4 जनवरी को मेलबर्न से सिडनी पहुंची टीम इंडिया के सभी खिलाड़ी कोरोना टेस्ट में निगेटिव पाए गए। 7 जनवरी से तीसरा टेस्ट खेला जाएगा। रोहित शर्मा समेत पांचों खिलाड़ी भी टीम के साथ सिडनी पहुंचे हैं। उनका सिडनी टेस्ट में खेलना तय माना जा रहा है।

loading...
loading...

Check Also

क्या सॉफ्ट हिंदुत्व की राजनीति के चलते आजम को नजरअंदाज कर रहे अखिलेश?

उत्तर प्रदेश में 2022 में विधानसभा चुनाव होना हैं। बीते दिनों भारतीय जनता पार्टी (BJP) ...