Monday , January 18 2021
Breaking News
Home / उत्तर प्रदेश / Breaking : यूपी पंचायत चुनाव का कब होगा मतदान और गिनती, इस दिन चलेगा पता!

Breaking : यूपी पंचायत चुनाव का कब होगा मतदान और गिनती, इस दिन चलेगा पता!

लखनऊ. यूपी में पंचायत चुनाव की तैयारियां जोराें पर है। इस बीच सबकी नजर चुनाव की अधिसूचना जारी होने पर है। उसी से पता चलेगा कि पंचायत चुनाव के लिए वोटिंग कब होगी। वैसे माना जा रहा है इस बार यूपी बोर्ड परीक्षा से पहले पंचायत चुनाव हो जाए। इस समय प्रारंभिक वोटर लिस्ट जारी हो चुकी है। आज शाम तक उस पर दावे और आपत्ति मांगी गई है। इसके बाद फाइनल वोटर लिस्ट जारी हाेगी।

14 जनवरी काे होगी बैठक : 

वहीं दूसरी ओर पंचायत चुनाव के ठीक बाद यूपी बोर्ड परीक्षाएं भी शुरू हो सकती हैं। सीबीएसई की दसवीं व बारहवीं की बोर्ड परीक्षा 4 मई से शुरू होने के ऐलान के बाद यूपी बोर्ड ने भी तैयारियां शुरू कर दी है। 14 जनवरी को होने वाली बैठक में यूपी बोर्ड परीक्षाओं की तारीखों पर अंतिम निर्णय होगा। वैसे भी यूपी में 31 मार्च को पंचायत चुनावों की समाप्ति के बाद ही यूपी बोर्ड परीक्षाएं करवाई जाएंगी। इस समय स्कूलों में प्री बोर्ड की परीक्षाएं चल रही हैं।

उप मुख्यमंत्री दिनेश चंद्र शर्मा ने बताया कि बोर्ड परीक्षा के लिए पंचायत चुनाव के प्रस्तावित कार्यक्रम का इंतजार किया जा रहा है। प्रदेश के ग्रामीण क्षेत्रों में स्थित विद्यालय परीक्षा केंद्र भी हैं उन्हें पंचायत चुनाव के लिए मतदान केंद्र भी बनाया जाएगा। उन्होंने कहा कि इसके अतिरिक्त शिक्षकों की चुनाव में भी ड्यूटी लगाई जाएगी और परीक्षा में भी।

डिप्टी सीएम ने कहा कि परीक्षा पंचायत चुनाव के बाद कराने की योजना है। माना जा रहा है 14 जनवरी की हाेने वाली बैठक में तय हो जाएगा कि कब पंचायत चुनाव हो रहे हैं ताे उसके बाद यूपी बोर्ड की परीक्षा का कार्यक्रम उसी के हिसाब से तय हो।

चार पदों के लिए एक साथ होंगे चुनाव :

इस बार यूपी में ग्राम प्रधान, ग्राम पंचायत सदस्य. क्षेत्र पंचायत सदस्य और जिला पंचायत सदस्य के चुनाव इस बार एक साथ होंगे। अभी तक की तैयारियां मार्च 2021 में चुनाव कराने की हैं। आरक्षण का फार्मूला जल्द तय हो जाएगा। वार्डों के आरक्षण की प्रक्रिया फरवरी के तीसरे सप्ताह तक पूर्ण कर ली जाएगी।

कोविड-19 के चलते प्रदेश में पंचायत चुनाव समय से नहीं हो पाए हैं। ग्राम पंचायतों में 26 दिसंबर से विकास खंडों के सहायक विकास अधिकारियों (एडीओ पंचायत) को प्रशासक नियुक्त कर दिया गया।

जिला पंचायत अध्यक्ष का कार्यकाल पूरा होने पर जिलाधिकारी और क्षेत्र पंचायत अध्यक्ष (ब्लाक प्रमुख) का कार्यकाल पूरा होने पर उप जिलाधिकारी (एसडीएम) को प्रशासक तैनात किया जाएगा।

loading...
loading...

Check Also

चीन के लिए बड़ा खतरा बन गया योगी का यूपी, Manufacturing के 5 साल के लक्ष्य को 3 में ही पा लिया

ऐसा लगता है कि उत्तर प्रदेश ने अकेले दम पर चीन को चुनौती देकर उसे ...