Thursday , April 15 2021
Breaking News
Home / उत्तर प्रदेश / बड़ा सवाल : CAA के खिलाफ हो रहे प्रदर्शन से क्या डर गए हैं शाह और मोदी ?

बड़ा सवाल : CAA के खिलाफ हो रहे प्रदर्शन से क्या डर गए हैं शाह और मोदी ?

तो क्या प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और गृहमंत्री अमित शाह नागरिकता संशोधन कानून के खिलाफ हो रहे प्रर्दशन से डर गए हैं? दरअसल बीजेपी सरकार नागरिकता संशोधन कानून पर उत्तर प्रदेश में 6 रैली करने वाली है। पहली रैली मेरठ में 22 जनवरी को होने वाली है। पहले इस रैली को पीएम नरेंद्र मोदी, गृहमंत्री अमित शाह और पार्टी कार्यकारी अध्यक्ष जेपी नड्डा शामिल होने वाले थे। लेकिन कहा जा रहा है कि इस रैली में अब सिर्फ राजनाथ सिंह शिरकत करेंगे।

बता दें कि नागरिकता कानून के खिलाफ चल रहे विरोध प्रदर्शन की वजह से पीएम मोदी एक महीने के अंदर दो बार असम का दौरा रद्द कर चुके हैं। वहीं मेरठ की रैली में भी नहीं जाने का फैसला किया है। गौरतलब है कि पश्चिम उत्तर प्रदेश के कई जिलों में नागरिकता संशोधन कानून के विरोध के दौरान काफी हिंसा हुई थी और कई लोग मारे गए थे। इस रैली में भी विरोध प्रदर्शन होने की उम्मीद है और कहा जा रहा है कि इसी वजह से पीएम मोदी और अमित शाह ने नहीं शामिल होने का फैसला किया है।

देश में बड़े पैमाने पर विरोध के बावजूद नागरिकता संशोधन कानून के लागू करने के साथ ही आमजन खासकर मुस्लिमों को सही जानकारी देने की पहल केंद्र सरकार ने की हैं। इस मुद्दे पर बीजेपी ने उत्‍तर प्रदेश में 6 रैली करना तय कर रखा हैं। मेरठ में वेस्ट यूपी के 14 जिलों की रैली 22 को होगी जिसको रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह संबोधित करेंगे।

इस रैली में बीजेपी संगठन ने पीएम नरेंद्र मोदी, गृहमंत्री अमित शाह और पार्टी के कार्यकारी अध्यक्ष जेपी नड्डा को बुलाने के लिए प्रस्ताव भेजा था। उम्मीद थी कि शाह और नड्डा में से कोई रैली में शिरकत करेगा लेकिन पार्टी संगठन ने साफ कर दिया कि पीएम हीं आएंगे।

बीजेपी के वेस्ट यूपी के प्रवक्ता गजेंद्र शर्मा के मुताबिक 22 की मेरठ में प्रस्तावित रैली में अब रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह आएंगे। दिल्ली रोड पर शताब्दीनगर में होने वाली रैली में वेस्ट यूपी के 14 जिलों के बीजेपी के वर्कर शिरकत करेंगे। करीब 1 लाख लोगों को बुलाने का लक्ष्य हैं। जिले वार लक्ष्य तय कर दिया गया है। दरअसल, राजनाथ सिंह के रैली में आने के पीछे भी बीजेपी की खास रणनीति हैं।

राजनाथ सिंह का वेस्ट यूपी से खासा लगाव रहा है और उनका असर है। राजनाथ वेस्ट यूपी के हर जिले के प्रमुख गांवों के साथ वहां के खास लोगों से व्यक्तिगत तौर पर परिचित हैं। वेस्ट यूपी के गाजियाबाद क्षेत्र से सांसद रह चुके हैं। उनके बेटे पंकज सिंह नोएडा से विधायक हैं। राजनाथ सिंह के खास बीजेपी के राज्यसभा सांसद विजयपाल सिंह मेरठ के रहने वाले हैं। वह किसान मोर्चा के राष्ट्रीय अध्यक्ष बीजेपी में रह चुके हैं। उनका प्रभाव भी रैली में देखने को मिलेगा।

loading...
loading...

Check Also

यूपी आ रहे हैं तो पढ़ लें ये जरुरी खबर, RTPCR जांच जरूरी, बिना लक्षण वाले भी रहेंगे आइसोलेशन में

कोरोनावायरस संक्रमण के खतरे के बीच उत्तर प्रदेश लौट रहे प्रवासी कामगारों के लिए योगी ...