Tuesday , November 24 2020
Breaking News
Home / जरा हटके / CBSE स्टूडेंट्स के लिए जरूरी जानकारी, वक्त से पहले हो सकते हैं बोर्ड एग्जाम!

CBSE स्टूडेंट्स के लिए जरूरी जानकारी, वक्त से पहले हो सकते हैं बोर्ड एग्जाम!

केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (Central Board of Secondary Education) इस साल क्लास 10 और 12 की बोर्ड परीक्षाएं समय से पहले करा सकता है. NEET, JEE जैसी प्रतियोगी परीक्षाएं आयोजित करने के लिए बोर्ड इस तरह का फैसला ले सकता है. हालांकि अभी तक इस बारे में बोर्ड की ओर से किसी तरह की आधिकारिक घोषणा नहीं हुई है.

स्कूलों में तेजी से पूरा कराया जा रहा है कोर्स
खबरों के मुताबिक सीबीएसई ने 2021 में उम्मीद से पहले 10वीं और 12वीं के एग्जाम कंडक्ट कराने की प्रक्रिया शुरू कर दी है. बोर्ड की ओर से कैंडिडेट्स की लिस्ट और एग्जामनेशन फॉर्म (LOC) भरवाने की प्रक्रिया पूरी हो चुकी है. सीबीएसई से मान्यता प्राप्त स्कूलों में कोर्स को समय पर पूरा करने की तैयारियां जारी हैं. सभी शिक्षक बोर्ड के निर्देशों के मुताबिक अपने-अपने सब्जेक्ट का कोर्स समय पर पूरा करने का प्रयास कर रहे हैं ताकि स्टूडेंट्स को एग्जाम के दौरान किसी तरह की परेशानी का सामना न करना पड़े.

कोविड के चलते परीक्षाओं में हुई देरी
हालांकि कुछ रिपोर्टों में ये दावा किया गया था कि CBSE कोर्स को या तो छोटा करने की योजना बना रहा है. बोर्ड परीक्षाओं में 45 से 60 दिनों की देरी से करा सकता है. बोर्ड के ऐसा करने के पीछे की वजह कोरोना वायरस महामारी का प्रकोप था. बाद में बोर्ड ने पाठ्यक्रम को छोटा कर दिया. इससे पहले बोर्ड ने कोविड-19 के चलते केंद्रीय शिक्षक पात्रता परीक्षा (CTET) का एग्जाम स्थगित कर दिया था. हालांकि, अब इस परीक्षा की तारीख तय हो चुकी है. सीबीएसई बोर्ड की ओर से आयोजित की जाने वाली केंद्रीय शिक्षक पात्रता परीक्षा (CTET) की परीक्षा 31 जनवरी 2021 को होगी. पहले यह एग्जाम पांच जुलाई 2020 को निर्धारित था.

PTI की एक रिपोर्ट के मुताबिक, राष्ट्रीय राजधानी और आस-पास के इलाकों में तमाम स्कूलों के प्रिंसिपल्स CBSE बोर्ड परीक्षा को पोस्टपोन करने के पक्ष में नहीं हैं. स्कूल प्राचार्यों का मानना है कि बोर्ड परीक्षाओं को स्थगित करना सही कदम नहीं होगा क्योंकि इससे उच्च शिक्षा की प्रवेश परीक्षाओं और प्रवेश प्रक्रिया का कार्यक्रम भी प्रभावित होगा और इससे छात्रों को भी परेशानी का सामना करना पड़ेगा.

मई से पहले एग्जाम न कराने के पक्ष में सिसोदिया
मालूम हो कि दिल्ली सरकार ने पिछले माह ही केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (CBSE) को लिखा था कि अगले साल मई से पहले बोर्ड परीक्षा आयोजित न करें और सिलेबस को कम करें क्योंकि COVID-19 महामारी के कारण स्कूल अभी भी बंद हैं. दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने भी पिछले महीने एनसीईआरटी की परिषद की बैठक में केंद्रीय शिक्षा मंत्री रमेश पोखरियाल ‘निशंक’ की अध्यक्षता में इस मुद्दे पर चर्चा की थी.

loading...
loading...

Check Also

यूपी पंचायत चुनाव पर सबसे बड़ी खबर, शासन की तरफ से भेजे जा रहे प्रपत्र

पंचायत चुनाव को लेकर शासन की ओर से तैयारियां शुरू कर दी गई हैं। एक ...