Friday , October 23 2020
Breaking News
Home / ख़बर / मुख्यमंत्री के भाई करते रह गए एंबुलेंस का इंतजार, जब आई तो बहुत देर हो चुकी थी..!

मुख्यमंत्री के भाई करते रह गए एंबुलेंस का इंतजार, जब आई तो बहुत देर हो चुकी थी..!

सरकार के दावों को किनारे रखिए. देश की स्वास्थ्य व्यवस्थाओं की क्या जमीनी हकीकत असल में क्या है, ये गुजरात की इस खबर ने एकबार फिर सबको बता दिया है. कहने को सरकारी एंबुलेंस के लिए फोन करते ही उसे मरीज के लिए दौड़ा दिया जाता है. लेकिन इस केस में एक मरीज के परिजन बार-बार एंबुलेंस के लिए 108 नंबर घुमाते रहे. लेकिन एंबुलेंस अपने लेटलतीफ अंदाज में पूरे 45 मिनट की देरी से आई. नतीजा- मरीज की मौत हो गई. वो मरीज जो गुजरात के सीएम विजय रूपाणी के सगे मौसेरे भाई थे.

बीती चार तारीख की बात है. राजकोट के सौराष्ट्र कला केंद्र इश्वरिया के पास रहने वाले मुख्यमंत्री के मौसेरे भाई अनिल संघवी को सांस की तकलीफ होने लगी. उनके परिवार के सदस्यों ने 108 एम्बुलेंस सेवा को फोन कर मदद मांगी थी.

बार-बार कॉल करने पर भी एम्बुलेंस 45 मिनट की देरी से पहुंची. अस्पताल पहुंचने तक अनिल संघवी की मौत हो गई. सांघवी के परिवार से मिलने मुख्यमंत्री मंगलवार को उनके आवास पर गए थे। इस दौरान परिजनों ने मुख्यमंत्री से आपातकाल एम्बुलेंस के पहुंचने में देरी की शिकायत की।

अब सीएम रुपाणी ने कलेक्टर को एम्बुलेंस के देरी से पहुंचने को लेकर जांच के आदेश दे दिए हैं. राजकोट कलेक्टर का कहना है कि दो बार एम्बुलेंस को परिवार वालों ने फोन करने का प्रयास किया लेकिन उनकी फोन पर बात नहीं हो पाई थी. इसके अलावा एम्बुलेंस गलत एड्रेस पर भी पहुंच गई थी. अब इस पूरे मामले की जांच की जाएगी.

loading...
loading...

Check Also

बिहार में फ्री कोरोना वैक्सीन देने का वादा की BJP तो अनुराग कश्यप ने शेयर किया ये गाना.. देखें Video

नई दिल्ली:  बीजेपी (BJP) ने गुरुवार को बिहार विधानसभा चुनाव का घोषणापत्र (Manifesto) संकल्प पत्र ...