Thursday , October 22 2020
Breaking News
Home / ख़बर / दोगली राजनीति : अरिहंत पर जो फोड़े नारियल, वो राफेल पर ॐ को बता रहे ढोंग !

दोगली राजनीति : अरिहंत पर जो फोड़े नारियल, वो राफेल पर ॐ को बता रहे ढोंग !

रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने मंगलवार को फ्रांस जाकर पहले राफेल को खुद रिसीव किया. राफेल भारतीय सेना का सबसे नया शस्त्र है. दिन विजयदशमी का था, इसलिए राजनाथ ने पूरे विधि-विधान के साथ राफेल का शस्‍त्र पूजन किया. लेकिन विपक्षी कांग्रेस ने राफेल की पूजा को ड्रामा बताया और पूछा गया कि सेक्‍युलर देश में राफेल पर ॐ क्‍यों लिखा गया.

कांग्रेस की तरफ से बयान आते ही सोशल मीडिया पर मीम बनने शुरू हो गए. कांग्रेस समर्थक राफेल की पूजा को सेक्‍युलरिज्‍म के लिए खतरा बताने लगे. किसी ने राफेल के नीचे रखे नींबू का मजाक उड़ाया तो कोई नारियल की तस्‍वीरें शेयर करने लगा.

ऐसे में उठते तो कई सवाल हैं. लेकिन एक खास सवाल ये भी बनता है कि इस तरह के मामलों में कांग्रेस का अपना रुख क्‍या रहा है? इन दोनों सवालों का जवाब जानने के लिए आप बस इस खबर में ऊपर लगी तस्वीर को देख लीजिए. दाईं ओर राफेल के साथ राजनाथ को नहीं बल्कि बाईं ओर वाली को.

ये तस्‍वीर 26 जुलाई 2009 की है. यूपीए शासन था, पीएम मनमोहन सिंह थे और INS अरिहंत का उद्घाटन किया गया था. तब तत्‍कालीन पीएम मनामोहन सिंह की पत्‍नी गुरशरन कौर ने INS अरिहंत का उद्घाटन नारियल फोड़कर किया था.

अब कांग्रेस नेता इस सवाल का कोई जवाब देंगे कि उनकी सरकार में, कांग्रेस के पीएम ने हिंदू परंपरा का पालन क्‍यों किया? क्या कांग्रेस की सेक्युलरिज्म की परिभाषा मोदी सरकार आते ही बदल गई है ? जो उनके दौर में हुआ वो सही था और वही जब बीजेपी के दौर में हो रहा है तो वो गलत कैसे हो गया ?

 

loading...
loading...

Check Also

इस बड़े शहर में आलूबंडा-चूना हुआ बैन, जानिए आखिर क्या है माजरा ?

क्या आपने कभी सुना है, कि शहर की शांति के लिए आलूबंडा और चूना को ...