Thursday , April 22 2021
Breaking News
Home / भारत / सड़कों पर सैनिक और दफ्तर में बैठे रहे सेनापति, ऐसे कैसे बीजेपी जीतेगी दिल्ली ?

सड़कों पर सैनिक और दफ्तर में बैठे रहे सेनापति, ऐसे कैसे बीजेपी जीतेगी दिल्ली ?

दिल्ली विधानसभा चुनाव में एक महीने से भी कम समय बचा है। ऐसे में सभी पार्टियां पूरे जोर-शोर के साथ प्रचार में लगी गयी हैं। भारतीय जनता पार्टी हर हाल में दिल्ली फतेह का सपना लिए पूरी कोशिशों के साथ चुनाव प्रचार में लगी हुई है। प्रकाश जावडेकर से लेकर पार्टी संगठन महामंत्री बीएल संतोष तक सभी बड़े नेताओं को अलग-अलग जिम्मेदारी दी गई है। लेकिन दिल्ली में चुनाव प्रचार से जुड़े पार्टी के एक कार्यक्रम में एक बीजेपी के अंदर बढ़ती अंतर्कलह साफ दिखाई दी।

रविवार को नागरिकता संशोधन कानून और राष्ट्रीय नागरिक रजिस्टर के समर्थन में बीजेपी द्वारा आयोजित प्रदर्शन के दौरान पार्टी के शीर्ष नेता नहीं पहुंचे। प्रदर्शन के दौरान केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेक, से लेकर पार्टी उपाध्यक्ष श्याम जाजू और प्रदेश अध्यक्ष मनोज तिवारी को संबोधित करने के लिए पहुंचना था। लेकिन तय समय तक मंच पर इनमें से कोई भी नेता दिखाई नहीं दिया। आखिरकार पार्टी सांसद मीनाक्षी लेखी ने अकेले ही प्रदर्शन को संबोधित करते हुए जैसे तैसे कार्यक्रम को संपन्न करवाया।

सबसे ज्यादा हैरानी की बात यह रही कि अपने कार्यालय में होने के बावजूद भी दिल्ली बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष मनोज तिवारी प्रदर्शन को संबोधित करने के लिए बाहर नहीं आए। बीजेपी के नेताओं द्वारा प्रदर्शन में न पहुंचने को लेकर जब सवाल किया गया तो पार्टी के एक वरिष्ठ नेता ने बताया कि दिल्ली विधानसभा चुनाव में बेहद कम समय रहने के बाद भी पार्टी में अंतर्कलह बढ़ी हुई है। बिना आपसी संवाद के पार्टी के कार्यक्रम तय कर दिए जाते हैं, जिसकी वजह से कई बड़े नेता कार्यक्रम में नहीं पहुंचते।

एक वरिष्ठ नेता ने बताया कि केंद्रीय मंत्री स्मृती ईरानी को भी इस प्रदर्शन में संबोधित करने के लिए आना था लेकिन क्योंकि उनसे इस बारे में अंतिम सहमति नहीं ली गई थी, इसीलिए वे प्रदर्शन में नहीं पहुंची। इसके अलावा पूर्व क्रिकेटर और बीजेपी सांसद गौतम गंभीर भी इस प्रदर्शन में किसी मुद्दे पर आम आदमी पार्टी को कटघरे में खड़ा करने के लिए आने वाले थे, लेकिन वे भी अंतिम समय तक नहीं आए

कुल मिलाकर पूरे प्रदर्शन में बीजेपी की तरफ से मीनाक्षी लेखी के रूप में एक ही बड़ा चेहरा मंच पर दिखाई दिया, जिन्होंने अकेले ही मंच से लोगों को संबोधित किया और मीडिया से बात की।

loading...
loading...

Check Also

UPSESSB TGT, PGT Recruitment 2021 : फिर बढ़ी TGT, PGT भर्ती के लिए आवेदन की अंतिम तिथि

UPSESSB TGT, PGT 2021: उत्तर प्रदेश में टीजीटी / पीजीटी भर्ती की तैयारी कर रहे ...