Friday , October 30 2020
Breaking News
Home / क्राइम / PM मोदी की भतीजी दमयंती बेन से दिल्ली ने लूटपाट, बदमाशों की हुई पहचान

PM मोदी की भतीजी दमयंती बेन से दिल्ली ने लूटपाट, बदमाशों की हुई पहचान

राजधानी में बदमाशों के हौसले किस कदर बुलंद है, इसका अंदाजा इसी से लगाया जा सकता है कि चाहे आम हो या खास, बदमाश किसी को भी नही बख्श रहे हैं। उत्तरी दिल्ली के सिविल लाइंस इलाके में शनिवार सुबह बदमाशों ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की भतीजी से उनका पर्स लूट लिया। वारदात के समय पीएम की भतीजी दमयंती बेन अपने परिवार के साथ ऑटो में सवार होकर पुरानी दिल्ली रेलवे स्टेशन से सिविल लाइंस स्थित गुजरात समाज भवन पहुंची थीं। इस बीच जब वह ऑटो से उतरने लगीं तो उसी दौरान सफेद रंग की स्कूटी पर सवार दो बदमाशों ने दमयंती से उनका पर्स छीन लिया।

वारदात के बाद लुटेरे फरार हो गए। पीडि़त ने मामले की सूचना पुलिस को दी। जब पुलिस अधिकारियों को पता चला कि दमयंती प्रधानमंत्री की भतीजी हैं तो उनके होश उड़ गए। आनन-फानन में मामला दर्ज कर बदमाशों की तलाश शुरू कर दी गई। दमयंती के पर्स में उनके दो मोबाइल फोन, 50-60 हजार रुपये, कुछ महत्वपूर्ण दस्तावेज तथा एटीएम कार्ड भी मौजूद थे।

पुलिस के मुताबिक वारदात शनिवार सुबह 6.45 बजे सिविल लाइंस इलाके के गुजरात समाज भवन के ठीक सामने हुई। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के भाई प्रह्लाद मोदी की बेटी दमयंती बेन अपने परिवार के साथ अमृतसर घूमने गई थीं। शनिवार तड़के परिवार दिल्ली पहुंचा। परिवार को छह घंटे दिल्ली में रुकना था। इसके बाद शनिवार को ही गुजरात रवाना होना था। परिवार ने आराम करने के लिए सिविल लाइंस स्थित गुजरात समाज भवन में कमरा बुक करा लिया। पुरानी दिल्ली रेलवे स्टेशन से सिविल लाइंस आने के लिए परिवार ऑटो में सवार हो गया। सुबह 6.45 बजे जब दमयंती ऑटो से उतर रही थीं तो इसी बीच स्कूटी सवार दो बदमाशों ने उनके हाथ में लिया हुआ पर्स लूट लिया। पुलिस को जब पता चला कि प्रधानमंत्री की भतीजी के साथ वारदात हुई है तो फौरन वरिष्ठ पुलिस अधिकारी घटना स्थल पर पहुंच गए। मामले की छानबीन शुरू कर दी गई।

जिले की स्पेशल स्टॉफ, एएटीएस, साइबर सेल, लोकल पुलिस के साथ ही स्पेशल सेल, क्राइम ब्रांच व दिल्ली पुलिस की विभिन्न जांच एजेंसियों ने बदमाशों की तलाश शुरू कर दी। पुलिस ने गुजरात समाज भवन, सिविल लाइंस के आसपास समेत 50 से अधिक सीसीटीवी कैमरों की फुटेज को अपने कब्जे में लिया। मामले की छानबीन में जुटे एक पुलिस अधिकारी ने बताया कि कुछ सीसीटीवी से बदमाशों के बारे में अहम सुराग हाथ लगे हैं। बदमाशों की लोकेशन भी पुलिस को मिल गई है। उसके आधार पर पुलिस की टीमें रेड कर रही हैं, जल्द ही आरोपितों को गिरफ्तार कर लिया जाएगा। हालांकि इस मामले में दिल्ली पुलिस के वरिष्ठ अधिकारी कुछ बोलने को तैयार नहीं हुए।

सीसीटीवी फुटेज कब्जे में लिए

पुलिस ने गुजरात भवन, सिविल लाइंस के आसपास समेत 50 से ज्यादा सीसीटीवी कैमरों की फुटेज को कब्जे में लिया है। जांच में जुटे एक पुलिस अधिकारी ने बताया कि  बदमाशों की पहचान हो गई है। जल्द ही उन्हें गिरफ्तार कर लिया जाएगा। इस मामले में दिल्ली पुलिस के वरिष्ठ अधिकारी कुछ भी बोलने को तैयार नहीं हैं।

दिल्ली में अच्छा अनुभव नही रहा, लोगों को खुद सर्तक होना पड़ेगा

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की भतीजी दमयंती बेन महज छह घंटे के लिए पहली बार दिल्ली आई थीं। शनिवार शाम चार बजे ही उन्हें वापस गुजरात लौटना था लेकिन शनिवार को उनके साथ हुई वारदात के बाद वह काफी निराश दिखीं। दमयंती ने कहा कि दिल्ली ही नहीं पूरे देश की महिलाओं को काफी सर्तक रहना होगा। दमयंती ने कहा कि नियमों और कड़ा करना होगा, जिससे अपराधियों में भय पैदा हो। जो वारदात उनके साथ हुई, किसी के भी साथ हो सकती थी। दमयंती के मुताबिक पर्स में उनके सारे अहम दस्तावेज, जिसमें उनका एयर टिकट, पैन, आधार, वोटर आईकार्ड, डीएल व अन्य दस्तावेज भी थे। उधर प्रधानमंत्री के बड़े भाई प्रह्लाद मोदी ने घटना को लेकर अफसोस जताया है। एक माह पूर्व उनका भी मोबाइल बदमाशों ने गुजरात में लूट लिया था। प्रह्लाद ने कहा कि हम सामान्य नागरिक की तरह रहते हैं और कानून पर भरोसा करते हैं।
सिविल लाइंस दिल्ली का पॉश इलाका

जिस जगह प्रधानमंत्री की भतीजी से लूटपाट की वारदात हुई, वहां से चंद कदमों की दूरी पर दिल्ली के उप-राज्यपाल व मुख्यमंत्री का घर मौजूद है। यह इलाका सिक्योरिटी के लिहाज से बेहद सुरक्षित माना जाता है। इसके बावजूद वहां पर झपटमारी की वारदात होती रहती हैं। शनिवार को जो कुछ हुआ, उसने दिल्ली पुलिस की सुरक्षा व्यवस्था की धज्जियां उड़ाकर रख दीं। हालांकि समय-समय पर पुलिस अधिकारी अपने गुडवर्क के फोटो डालकर खुद ही अपनी पीठ थपथाते रहते हैं। शनिवार को हुई वारदात के बाद से इलाके में सुरक्षा व्यवस्था की पोल खुल गई है। अब पुलिस अधिकारी पूरे इलाके की सीसीटीवी फुटेज बटोरकर बदमाशों की पहचान और उनको पकडऩे का प्रयास कर रहे हैं।

loading...
loading...

Check Also

पंजाब में रावण की जगह जलाया था भगवान राम का पुतला, शरारती तत्वों के साथ अब ऐसा हुआ

पंजाब के अमृतसर जिले में मानांवाला गांव में कुछ शरारती लोगों ने दशहरे वाले दिन ...