Friday , November 27 2020
Breaking News
Home / ख़बर / EXIT POLLS : तेजस्वी सरकार आती देख जेडीयू बोली बड़ी बात, बीजेपी को तो यकीन ही नहीं !

EXIT POLLS : तेजस्वी सरकार आती देख जेडीयू बोली बड़ी बात, बीजेपी को तो यकीन ही नहीं !

बिहार विधानसभा चुनाव (bihar election exit poll) में अब तक आए एग्जिट पोल में कांटे की टक्कर के बीच महागठबंधन की सरकार बनती हुई दिख रही है। ज्यादातर एग्जिट पोल में तेजस्वी यादव की अगुवाई में महागठबंधन बढ़त बनाता हुआ दिख रहा है। वहीं चिराग पासवान (Chirag paswan) की अगुवाई में एलजेपी नीतीश कुमार (Nitish kumar) की जेडीयू (JDU) को भारी नुकसान पहुंचाता हुआ दिख रहा है। अब तक आए एग्जिट पोल पर जेडीयू नेता केसी त्यागी डिफेंसिव मोड में दिखे।

एक निजी न्यूज चैनल से बातचीत में जेडीयू के वरिष्ठ नेता केसी त्यागी ने कहा कि पॉलिटिकल एनालिस्ट होने के नाते गंभीरता से कहता हूं कि जो सफलता होती है वह बहुत बड़े पंख होते हैं। जो असफलता होती है वह बगैर पंख के होती है। अगर जनता ने एनडीए ने समझा है कि एनडीए को एक और सेवा का मौका नहीं दिया जाए तो हमें जनता का फैसला कबूल है। एक बात जरूर कहेंगे कि कि हमने अपनी तरफ से बेहतरीन सेवा करने का प्रयास किया। एक दिन की छुट्टी नहीं है नीतीश कुमार की। नीतीश कुमार की 15 साल में एक दिन की भी छुट्टी नहीं है। जनता का मैंडेट सिर आंखों पर है लेकिन 10 तारीख को आने वाले असली नतीजे का इंतजार करना चाहिए।

बीजेपी सांसद मनोज तिवारी ने कहा कि मैं अभी भी एग्जिट पोल पर यकीन नहीं करुंगा। मैं बिहार के लोगों को भली-भांति जानता हूं। वे 10 लाख लोगों को सरकारी नौकरी के वादे पर यकीन नहीं करेगी। फाइनल रिजल्ट में नीतीश कुमार की अगुवाई में ही सरकार बनेगी।

बीजेपी प्रवक्ता सुधांशु त्रिवेदी ने कहा कि एग्जिट पोल में जो सैंपल साइज लिए गए हैं उसके आधार पर 243 सीटों का अनुमान नहीं लगाया जा सकता है। इसलिए फाइनल नतीजे का इंतजार करना चाहिए।

कांग्रेस नेता प्रेम चंद मिश्रा ने कहा कि वास्तविक परिणाम महागठबंधन के लिए इससे भी बेहतर आएंगे। बीजेपी के खिलाफ पहले से ही नाराजगी है। 2015 में चोर रास्ते से सत्ता में आए।

आरजेडी नेता श्याम रजक ने कहा कि नीतीश कुमार के प्रति नेताओं, कार्यकर्ताओं का भारी अविश्वास है। एग्जिट पोल में यह रिफ्लेक्ट हो रहा है। तेजस्वी यादव के प्रति लोगों का विश्वास जगा है। महागठबंधन में कांग्रेस, वाम दलों के आने से काफी मजबूती मिली है।

loading...
loading...

Check Also

बिहार : ‘लालूनीति’ की फिर से दिखाई दी झलक लेकिन इस बार ‘शाहनीति’ के आगे खा गई मात

बिहार विधानसभा चुनावों के बाद भी विवादों का दौर समाप्त नहीं हुआ है। रिपोर्ट्स के ...