Thursday , October 22 2020
Breaking News
Home / उत्तर प्रदेश / बलरामपुर में ‘हाथरस कांड’ : पीड़ित लड़की की मां का दर्द सुनिए, आपकी रूह कांप जायेगी

बलरामपुर में ‘हाथरस कांड’ : पीड़ित लड़की की मां का दर्द सुनिए, आपकी रूह कांप जायेगी

उत्तर प्रदेश के बलरामपुर में दलित लड़की की गैंगरेप के बाद हत्या मामले में उसकी मां का एक वीडियो सोशल मीडिया पर सामने आया है, जिसमें उसकी मां रो-रोकर अपनी बेटी के लिए योगी सरकार से न्याय की भीख मांग रही है। गैंगरेप पीड़िता की मां रोते-रोते कह रही है कि मेरी बच्ची के हाथ, पैर और कमर तोड़ दी गयी थी। वह बच भी जाती तो किसी काम की नहीं रहती। मेरी बच्ची को तड़पा-तड़पाकर मारा गया।

लड़की की मां कह रही है मेरी बेटी कॉलेज में एडमिशन कराने गयी थी। रास्ते में 3-4 लड़कों ने उसे जबर्दस्ती रोका और उसे अपनी गाड़ी में खींचकर ले गये। फिर उसे एक कमरे में ले गये, जहां उसके साथ दरिंदगी की सारी हदें पार की गयीं।

रोते हुए वह कहती हैं, मेरी फूल सी बच्ची को उन हैवानों ने मार डाला। एक रिक्शावाला उसे घर तक छोड़कर गया। जब वह घर पर छोड़कर गया तो उसके हाथ में ग्लूकोज वाली स्ट्रिप लगी थी।

मृतक युवती की मां का आरोप है कि उसकी बेटी को इंजेक्शन लगाकर हैवानियत की वारदात को अंजाम देने के बाद कमर और दोनों टांगों को तोड़कर रिक्शे पर बैठाकर घर भेज दिया गया जिसके बाद वो कुछ भी बोल नहीं पा रही थी। वह सिर्फ इतना कह पाई, ‘बहुत दर्द है अब मैं बचूंगी नहीं।’ हालांकि बलरामपुर एसपी देव रंजन वर्मा ने कहा है कि हाथ पैर और कमर तोड़ने वाली बात सही नहीं है। पोस्टमार्टम रिपोर्ट में इसकी पुष्टि नहीं हुई है।

दलित लड़की की मां का वीडियो शेयर करते हुए आप सांसद संजय सिंह ने ट्वीट किया है, सुनिये बलरामपुर की पीड़ित माँ का दर्द आपकी रूह काँप जायेगी हैवानियत शिकार एक दलित बेटी की माँ रो-रो कर आपसे न्याय माँग रही है “बेटी बचाओ” का नारा देने वालों क्या तुम बहरे हो गये हो? कहाँ हो योगी जी सुनो इस बेबस माँ की पीड़ा।”

इससे पहले अपने एक अन्य ट्वीट में आप सांसद संजय सिंह ने योगी सरकार से कहा है, ”बलरामपुर में दिल दहला देने वाली घटना एक दलित की बेटी हैवानों की दरिंदगी का शिकार हो गई। योगी राज में बेटी होना अभिशाप बन गया है, बेटियों की रक्षा नही कर सकते तो सत्ता छोड़ दो योगी जी #YogiResignNOW

loading...
loading...

Check Also

फ्रांस : टीचर के कत्ल पर फूटा लोगों का गुस्सा, पैगंबर मोहम्मद के ढेरों कार्टून दिखाए, वो भी सरकारी इमारत पर

फ्रांस के पेरिस में एक शिक्षक थे सैम्युएल पैटी। इतिहास पढ़ाते थे। पढ़ाते-पढ़ाते उन्होंने पैगम्बर ...