Wednesday , October 28 2020
Breaking News
Home / ख़बर / दिल्ली की ओर बढ़ते रेगिस्तान को मोदी देंगे थाम, सरकार बनाएगी खास दीवार

दिल्ली की ओर बढ़ते रेगिस्तान को मोदी देंगे थाम, सरकार बनाएगी खास दीवार

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अब एक नया इतिहास बनाने जा रहे हैं. वो दिल्ली से लेकर गुजरात तक ‘ग्रीन वॉल ऑफ इंडिया’ का निर्माण करने जा रहे हैं. यह दुनिया की सबसे बड़ी ग्रीन वॉल होगी और हां दुनिया की इकलौती ऐसी दीवार होगी जो पेड़ों से बनाई जाएगी. इसकी लम्बाई 1400 किलोमीटर होगी जबकि यह 5 किलोमीटर चौड़ी होगी. फिलहाल यह विचार शुरुआती दौर में ही है, लेकिन कई मंत्रालयों के अधिकारी इसे लेकर खासे उत्साहित हैं.

दरअसल देश में पर्यावरण के संरक्षण और हरित क्षेत्र को बढ़ाने के लिए केंद्र सरकार ने 1,400 किलोमीटर लंबी ‘ग्रीन वॉल’ तैयार करने का निर्णय लिया है. इसके लिए अफ्रीका में सेनेगल से जिबूती तक बनी हरित पट्टी की तरह ही गुजरात से लेकर दिल्ली-हरियाणा सीमा तक ‘ग्रीन वॉल ऑफ इंडिया’ को बनाया जाएगा.

जब ये प्रोजेक्ट पूरा होगा तो यह भारत में बढ़ते प्रदूषण को रोकने के लिए भविष्य में भी एक मिसाल बन जायेगा. थार रेगिस्तान के पूर्वी ओर इसे विकसित किया जाएगा. पोरबंदर से लेकर पानीपत तक बनने वाली इस ग्रीन बोल्ट द्वारा  घटते वन क्षेत्र में वृद्धि होगी. इसके अतिरिक्त राजस्थान, गुजरात, हरियाणा से लेकर दिल्ली तक फैली अरावली की पहाड़ियों पर घटती हरियाली के संकट को भी कम करने में मदद मिल सकेगी.

पीएम मोदी को ये आइडिया अफ्रीका से मिला है. वहां अफ्रीका में भी क्लाइमेट चेंज और बढ़ते रेगिस्तान को रोकने के लिये सेनेगल से जिबूती तक हरित पट्टी तैयार की जा रही है, जिसे ‘ग्रेट ग्रीन वॉल ऑफ सहारा’ भी कहा जाता है. अफ्रीका में ग्रेट ग्रीन वॉल का काम लगभग एक दशक पहले शुरू हुआ था, परंतु उसमें अलग-अलग देशों की भागीदारी होने से और उनकी कार्यप्रणाली अलग-अलग होने के कारण यह प्रकल्प अभी भी साकार नहीं हो पाया है. जबकि भारत सरकार इस प्रोजेक्ट को 2030 तक प्राथमिकता में लेकर अमलीजामा पहनाने का विचार कर रही है.

loading...
loading...

Check Also

डरावना कोरोना : पेड़ के पत्तों की तरह सूख रही फेफड़ाें की झिल्लियां, मकड़ी के जाले जैसे निशान छोड़े

इन दिनों डॉक्टरों के पास कोविड रिकवर हो चुके मरीजों की लाइन लगी है। हर ...