Saturday , February 27 2021
Breaking News
Home / जरा हटके / स्त्री को ये काम करते देखा तो खाते चढ़ेगा सबसे बड़ा पाप, जानिए क्या ?

स्त्री को ये काम करते देखा तो खाते चढ़ेगा सबसे बड़ा पाप, जानिए क्या ?

दुनिया में कोई परफेक्ट नहीं होता. इंसान आये दिन कोई न कोई गलती करता रहता है तभी उसे गलतियों का पुतला कहा जाता है. वैसे तो गलतियां अनजाने में होती हैं पर कुछ लोग ऐसे भी होते हैं जो जानबूझ कर गलतियां करते हैं. अनजाने में हुई गलतियों को तो माफ किया जा सकता है लेकिन जानबूझकर की गयी गलतियों को माफ करना थोड़ा मुश्किल हो जाता है. गलती के ऊपर एक कहावत भी है जो आप सब ने सुनी होगी कि ‘इंसान अपनी गलतियों से ही सीखता है’. लेकिन इसका मतलब ये नहीं कि वह गलती पर गलती करता रहे. गरुड़ पुराण में उन गलतियों की सजा निर्धारित है जो व्यक्ति अनजाने में नहीं बल्कि जानबूझकर करता है. उन्हीं में से आज हम आपको एक ऐसी गलती के बारे में बताने जा रहे हैं जिसे व्यक्ति को कभी नहीं करना चाहिए.

नहाती हुई स्त्री को देखना है महापाप

बता दें कि गरुड़ पुराण के अनुसार इस गलती का महापाप समझा गया है और जो व्यक्ति यह गलती कर देता है वह पाप का भागी बन जाता है. इस पाप को इतना बड़ा समझा गया है कि मरने के बाद भी यह इंसान का पीछा नहीं छोड़ती. इतना ही नहीं, जो व्यक्ति इस गलती को करता है समाज में उसकी इज्जत कम हो जाती है और उसे अच्छी नजरों से नहीं देखा जाता. दरअसल, किसी भी व्यक्ति को कभी भी नहाती हुई स्त्री को नहीं देखना चाहिए. कुछ लोगों की आदत होती है कि वह नहाती हुई स्त्री को देखने लग जाते हैं. ऐसे नीच लोगों को नहाती हुई स्त्री को देखने में आनंद आता है. लेकिन गरुड़ पुराण में ऐसा करने वाले पुरुष को चरित्रहीन माना गया है.

शास्त्रों के अनुसार, कभी भी किसी स्त्री को नहाते हुए नहीं देखना चाहिए. इसे अशुभ माना जाता है. जो व्यक्ति जानबूझकर ऐसा कर देता है वह महापाप का भागीदार बन जाता है. उसके बाद वह कुछ भी कर दे उसका ये पाप पीछा नहीं छोड़ता और उसे सजा मिलकर ही रहती है. बता दें कि ऐसा करने वाले व्यक्ति को कठोर से कठोर सजा मिलती है. यदि यह गलती आप अनजाने में कर बैठते हैं तो इसके लिए भगवान से माफी मांग सकते हैं. लेकिन जानबूझकर ये काम करने पर आप चाहे कितनी भी माफी मांग लें भगवान माफ नहीं करते.

हालांकि जानबूझकर ऐसा करने वाला व्यक्ति बहुत नीच प्रवृत्ति का होगा और ऐसे इंसान को माफी मिलनी भी नहीं चाहिए. आज का बदलता समाज उन्हीं लोगों की इज्जत करता है जो महिलाओं की इज्जत करते हैं. महिलाओं का अपमान करने वाले लोगों को या फिर उन्हें गलत नजरिये से देखने वाले लोगों को तो समाज से हमेशा के लिए बहिष्कृत कर देना चाहिए. क्योंकि जो एक महिला की इज्जत नहीं कर सकता वह किसी की इज्जत नहीं कर पायेगा. यह कहना गलत नहीं होगा कि ऐसे लोग ही होते हैं जिनकी सोच महिलाओं के प्रति खराब होती है और यही लोग रेप जैसी घटनाओं को अंजाम देते हैं.

loading...
loading...

Check Also

अब मिलेगी मनचाही नौकरी, बस करना होगा ये आसान सा उपाय…

एक अच्छी नौकरी की चाह हर किसी को होती है | हर कोई चाहता है ...