Saturday , October 24 2020
Breaking News
Home / धर्म / अगर आप भी कर रहे ये काम तो हो जाये सावधान, एक गलती ले सकती है आपकी हालत ख़राब

अगर आप भी कर रहे ये काम तो हो जाये सावधान, एक गलती ले सकती है आपकी हालत ख़राब

ज्योतिष शास्त्र, वास्तु शास्त्र, सामुद्रिक शास्त्र, ऐसी ही कुछ विधाएं हैं जिनके प्रयोग से हम जीवन में आ रहे संकटों के रुख मोड़ सकते हैं। तकलीफ होने पर लोग इन शास्त्रीय उपायों का प्रयोग करते हैं, लेकिन आज जो हम आपको बताने जा रहे उसे जानने के बाद आप भी इन कामो को करने से पहले हज़ार बार सोचेंगे और कभी करने  के बारे में सोचेंगे भी नहीं  क्योंकी अगर ये काम आप करने का सोचे भी तो एक बार जरुर सोच ले आपके साथ क्या हो सकता है,.

अक्सर देखा गया है की  लोग आज के समय में कम से कम टाइम में अपना टाइम खत्म कर लेना चाहते है उसके लिए तरह तरह के उपाय करते रहते है. ज्यादातर घरों में शाम को बचे गूंदे आटे को फ्रिज में रख दिया जाता है फिर सबह इसकी रोटियां, पराठे या पूरियां बनाई जाती हैं. लेकिन क्या आप जानते हैं कि रातभर फ्रिज में रखे आटे से बनी चीजें खाना कितना नुकसान पहुंचा सकता है।

जी हां, बासी आटे की रोटियां नहीं बनानी चाहिए. यह स्वास्थ्य के लिए नुसानदायक होती हैं. आइए आपको बताते हैं फ्रिज में रखे आटे की रोटियां खाने के क्या-क्या नुकसान हो सकते हैं. फ्रिज में रखे आटे के इस्तेमाल न करने के पीछे का अगर वैज्ञानिक कारण देखा जाए तो पहले से पका हुआ खाना या काफी घंटों पहले गूंदा गया आटा जब फ्रिज से निकाला जाता है तो वह फ्रिज की ठंडक में रखने के बावजूद भी बासा ही हो जाता है. ऐसे आटे से बनी रोटी खाना सेहत के लिए अच्छा नहीं होता. ऐसे में छोटे-छोटे रोग हो जाना परिवार के सदस्यों के लिए सामान्य बात हो जाती है।

इस वजह से पेट में होता है दर्द

बासी आटे से बनी रोटियां, पूड़ियां या पराठे बासी होती हैं. इससे वही नुकसान होता है जो बासी रोटियों को खाने से होता है. खासकर पेट में दर्द होना एक सामान्य समस्या होती है.गेहूं का आटा एक मोटा अनाज होता है जिसे पचाने में काफी समय लग जाता है. इसलिए कब्ज के मरीजों को रोटियां खाने के लिए मना किया जाता है. ऐसे में बासी आटे की रोटी खाने से सामान्य लोगों को भी कब्ज की समस्या हो सकती है।

फर्मेंटेशन की प्रक्रिया

गीले आटे में फर्मेंटेशन की क्रिया जल्दी शुरू हो जाती है. इसलिए इस आटे में कई तरह के बैक्टीरिया और हानिकारक केमिकल्स पैदा हो जाते हैं जो स्वास्थ्य को नुकसान पहुंचा सकते हैं. इससे बनी रोटियां पेट खराब कर सकती हैं।

शास्त्रों के अनुसार

शास्त्रों में भी बासी आटे की रोटी नहीं खाने का उल्लेख किया गया है. शास्त्रों में कहा गया है कि बासी आटा एक पिंड के समान होता है जोकि नकारात्मक शक्तियों का घर बनता है. साथ ही यह भी कहा जाता है कि बासी भोजन भूत का भोजन होता है जिसका भक्षण करने के लिए वे आना शुरू कर देते हैं. जिन परिवारों में इस तरह कि आदत होती है वहां कोई न कोई हमेशा बीमार रहता है. इसलिए कभी भी भूलकर भी फ्रिज में रखे आटे की रोटियां नहीं बनानी चाहिए. नहीं बचा आटा रात में फ्रिज में रखना चाहिए।

ऐसा माना जाता है कि फ्रिज में गूंदा हुआ आटा रखकर सुबह इसकी रोटियां बनाने से आपका समय तो बचा सकते हैं, लेकिन ऐसा करने से घर में भूत-प्रेत को निमंत्रित करने जैसा है. शास्त्रों की मानें, तो फ्रिज में गूंदा आटा उस पिंड के समान माना गया है जो पिंड मृत्यु के बाद मृतात्मा के लिए रखे जाते हैं।

हो सकती है बीमारी

ऐसा माना जाता है जिन परिवारों में भी इस प्रकार की आदत है वहां किसी न किसी प्रकार के अनिष्ट, रोग-शोक, क्रोध और आलस्य का डेरा होता है. शास्त्रों में कहा गया है कि बासी भोजन भूत भोजन होता है और इसे खाने वाला व्यक्ति जीवन में रोग और परेशानियों से घिरा रहता है।

loading...
loading...

Check Also

Navratri 2020 : नौ देवियां और उनके नामों से जुड़ी हैं ये नौ कहानियां

नवरात्र हिन्दुओं का एक प्रसिद्ध पर्व है. नवरात्री का शाब्दिक अर्थ नव+रात्री अर्थात नौं रात्रियां ...