Friday , October 23 2020
Breaking News
Home / जरा हटके / एमपी में कोरोना का कत्लेआम और सत्ता बचाने में बिजी सरकार, तो मौत को रोकेगा कौन?

एमपी में कोरोना का कत्लेआम और सत्ता बचाने में बिजी सरकार, तो मौत को रोकेगा कौन?

इंदौर में मंगलवार को 482 नए मरीज मिले, जो एक दिन में अब तक का सबसे बड़ा आंकड़ा है। वहीं 7 की मौत हो गई। शहर में अब एक्टिव मरीजों की संख्या 4597 पर पहुंच गई है। यहां अब तक 24006 संक्रमित मिल चुके हैं। इनमें से 18844 ठीक हो गए। अब तक 565 लोगों की मौत हो चुकी है। मंगलवार से खजराना गणेश मंदिर समेत अन्य धर्मस्थल खोल दिए गए हैं।

उधर, स्वास्थ्य विभाग को 14 हजार रैपिड एंटीजन जांच किट मिल गई है। इससे कुछ दिनों से हो रही कम जांचों को गति मिलेगी और अधिक संख्या में कोविड के सैंपल टेस्ट किए जा सकेंगे। हालांकि 14 हजार किट इस लिहाज से भी कम ही हैं, क्योंकि अगर हर दिन शहर के 44 फीवर क्लिनिक पर 2 हजार जांचें हुईं तो सात दिन में ही किट खत्म हो जाएगी।

अभी जिस तरह की दिक्कत अभी इसके मिलने में आई है, वैसी परेशानी चलती रही तो फिर जांचों पर ब्रेक लगेगा। वैसे अफसरों का कहना है कि व्यवस्था को ऐसा बना रहे हैं कि जैसे ही किट खत्म होगी, भोपाल से आपूर्ति हो जाएगी। इधर, अब अफसरों ने किट मिलते ही बुधवार से शहर में 4 हजार जांच रोज करने का लक्ष्य तय किया है। 2 हजार जांचें फीवर क्लिनिक में तो 2 हजार आरटीपीसीआर से होंगी। पूर्व में यह लक्ष्य 3800 का था।

डबरा एसडीएम सहित चार की मौत, 154 नए संक्रमित मिले
ग्वालियर | 
कोरोना से मंगलवार काे डबरा एसडीएम राघवेंद्र पांडेय (47) समेत 4 मरीजाें की माैत हाे गइ। एसडीएम गुरुग्राम के मेदांता हॉस्पिटल में भर्ती थे। सुबह 8 बजे उनकी मौत हो गई। उधर, 154 नए संक्रमित मिले। जिले में 11388 कोरोना पॉजिटिव मिल चुके हैं।

जबलपुर : 176 नए पॉजिटिव, दो मौतें
जिले में मंगलवार को 176 नए मरीज मिले और 201 ठीक हाेकर घर लाैटे। दो मरीजों की मौत हुई। अब तक 149 मरीजाें की माैत हाे चुकी है। एक्टिव केस 1318 हैं। यहां कुल संक्रमिताें की संख्या 9855 हाे गई।

राजनीतिक कार्यक्रमों में भीड़ से हाईकोर्ट सख्त- 5 जिलों के कलेक्टर-एसपी की वीसी से आज होगी पेशी
ग्वालियर | राजनीतिक आयोजनाें में जुट रही भीड़ को लेकर मप्र हाईकोर्ट की ग्वालियर बेंच ने कड़ा रुख अपनाया है। जस्टिस शील नागू और जस्टिस राजीव कुमार श्रीवास्तव ने न्याय मित्रों की रिपोर्ट पर गौर करने के बाद मंगलवार को आदेश दिए कि भीड़ काबू में न करने और नियमों का पालन न कराए जाने को लेकर ग्वालियर, शिवपुरी, मुरैना, भिंड व दतिया के कलेक्टर-एसपी बुधवार को स्थिति स्पष्ट करें। बेंच ने इन अधिकारियों को सुबह 9.30 बजे वीडियो कांफ्रेसिंग के जरिए उपस्थित होने के आदेश दिए हैं।

याचिकाकर्ता अधिवक्ता आशीष प्रताप सिंह और हाईकोर्ट से नियुक्त न्याय मित्र अधिवक्ता संजय द्विवेदी, राजू शर्मा व विजय दत्त शर्मा ने अपनी रिपोर्ट पेश कर फोटो के जरिए बताया कि किस प्रकार राजनीतिक कार्यक्रमों में हजारों लोग जमा हो रहे हैं और कोविड नियमों का पालन न होने से संक्रमित मरीजों की व मृतकों की संख्या बढ़ती जा रही है। राजनीतिक कार्यक्रम में एक एसडीएम भी संक्रमित हुए थे और संक्रमण के कारण उनकी मौत भी हो गई है। फोटो देखने के बाद कोर्ट ने कहा कि राजनीतिक कार्यक्रमों में भारी भीड़ हो रही हैं। फोटो में हजारों में लोग दिख रहे हैं।

loading...
loading...

Check Also

नवरात्रि पर EROS ने बनाए डबल मीनिंग पोस्टर, कंगना बोलीं- सारे OTT प्लेटफॉर्म हैं ‘पोर्न हब’

मामला ये है कि इरोज एंटरटेनमेंट ने अपने ट्विटर हैंडल इरोज नाउ पर नवरात्रि और ...