Wednesday , October 21 2020
Breaking News
Home / ख़बर / CM फडणवीस को हराने मैदान में आया वो कांग्रेसी, जिसके पिता को 5 साल पहले मिली थी हार

CM फडणवीस को हराने मैदान में आया वो कांग्रेसी, जिसके पिता को 5 साल पहले मिली थी हार

दक्षिण पश्चिम नागपुर क्षेत्र में मुख्यमंत्री व भाजपा उम्मीदवार देवेंद्र फडणवीस का मुकाबला कांग्रेस के आशीष देशमुख से है। इससे पहले आशीष के पिता रणजीत देशमुख के साथ फडणवीस का मुकाबला हुआ था। फडणवीस को चुनौती देने के लिए देशमुख परिवार कोई कसर नहीं छोड़ेगा। फडणवीस पहली बार पश्चिम नागपुर विधानसभा क्षेत्र से 1999 में चुनाव जीते थे। 2004 में दूसरी बार उन्हें भाजपा ने उम्मीदवार बनाया था। उनका मुकाबला कांग्रेस के रणजीत देशमुख से हुआ। रणजीत देशमुख तब कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष थे। उनका नाम मुख्यमंत्री पद के लिए भी चर्चा में था। वे सावनेर क्षेत्र छोड़ जीत के दावे के साथ पश्चिम नागपुर में आए। पराजित होने के बाद उनका राजनीतिक ग्राफ गिर सा गया।

पहले भाजपाई थे आशीष

आशीष देशमुख ने अपनी राजनीति की शुरुआत कांग्रेस से की, लेकिन चुनाव लड़ने की राजनीति भाजपा से ही शुरु हुई। 2009 के चुनाव में भाजपा ने उन्हें सावनेर से उम्मीदवार बनाया। सावनेर में पराजय के बाद 2014 में काटोल में लड़ने को मौका दिया। वहां चाचा व राकांपा उम्मीदवार अनिल देशमुख को पराजित कर आशीष ने विधानसभा चुनाव जीता था।

आशीष बाद में बीजेपी के खिलाफ हो गए और दिसंबर 2018 में विधायक पद से इस्तीफा दे दिया। इस्तीफा देने के बाद आशीष देशमुख ने कांग्रेस का हाथ थाम लिया। कांग्रेस ने उन्हें लोकसभा चुनाव का टिकट भी दिया, लेकिन वह हार गए।

 

loading...
loading...

Check Also

छठ पूजा के लिए शुरु हुईं स्पेशल ट्रेनें, आज ही करा लें रिजर्वेशन, जानिए पूरा टाइमटेबल

इंदौर. छठ पूजा के आने वाले पर्व को देखते हुए रेलवे ने श्रद्धालुओं को बड़ा तोहफा ...