Wednesday , October 28 2020
Breaking News
Home / उत्तर प्रदेश / 36 बार की जान देने की कोशिश, ले जाने को तैयार ही नहीं यमराज

36 बार की जान देने की कोशिश, ले जाने को तैयार ही नहीं यमराज

कहते हैं जाको राखे साइयां मार सके न कोई. यह कहावत यूपी के बांदा जिले के इस शख्स पर बखूबी सत्य प्रमाणित होती है. यह युवक बार बार अपनी मौत को पास बुलाता है लेकिन मौत हर बार उसे दगा दे जाती है.  तिंदवारी थाना क्षेत्र अंतर्गत बेंदा का ये युवक मानसिक बीमारी के चलते आए दिन कहीं आग तो कहीं फांसी लगाकर अपनी जीवन लीला समाप्त करने का प्रयास करता है. लेकिन कहते है जब ऊपर वाले के यहां से बुलावा नहीं आता तब तक कोई लाख जतन कर ले, उसका बाल भी बांका नहीं हो सकता.

शहर के जिला अस्पताल में युवक उपचार के लिए भर्ती है. जिसका नाम विनोद पुत्र बाबूलाल है. उसने कई बार आग और फांसी लगाकर अपनी जीवन लीला समाप्त करने का प्रयास किया है लेकिन हर बार वह बच जाता है. रविवार को फिर से उसने फांसी लगाकर जान देने का प्रयास किया. लेकिन परिजनों के देख लेने से वह बच गया. गंभीर हालत होने के चलते उसके परिजनों द्वारा उसे जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है जहां उसका उपचार चल रहा है.

अस्पताल में मौजूद भाई राम खेलावन ने बताया कि विनोद का मेंटल हॉस्पिटल सहित कई जगह इलाज कराया लेकिन कोई सुधार नहीं हुआ है. दो साल में करीब दर्जनों बार उसने आग लगाने व फांसी लगाकर जान देने का प्रयास किया, लेकिन हर बार परिजनों की सतर्कता से बच गया है. आज भी उसने घर मे ही फांसी लगाकर जान देने का प्रयास किया है. पत्नी ने देख लिया तो बचा लिया गया है. युवक के दो बच्चे हैं.

ट्रामा सेंटर के डॉक्टर अभिषेक प्राणायामी ने बताया कि युवक का इलाज ग्वालियर में चल रहा है. मानसिक रूप से बीमार होने के चलते ऐसा प्रयास करता रहता है.

 

loading...
loading...

Check Also

अब डॉक्यूमेंट के बिना ही आधार कार्ड में अपडेट हो जाएगा आपका मोबाइल नंबर, जानिए कैसे

लखनऊ। अगर आप अपने आधार कार्ड में अपना मोबाइल नंबर अपडेट (Aadhar Card Updation) कराना चाहते ...