Tuesday , October 27 2020
Breaking News
Home / क्राइम / PM मोदी से मदद मांगी पायल घोष, बोलीं- ‘दोषी कर रहा मौज, मुझसे हो रही है पूछताछ’

PM मोदी से मदद मांगी पायल घोष, बोलीं- ‘दोषी कर रहा मौज, मुझसे हो रही है पूछताछ’

अनुराग कश्यप के खिलाफ यौन शोषण का आरोप लगाने वाली अभिनेत्री पायल घोष ने इशारों-इशारों में मुंबई पुलिस के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है। अभिनेत्री ने जांच पर नाराज़गी व्यक्त करते हुए कहा कि सिर्फ उन्हें ‘पूछताछ’ के लिए बुलाया जा रहा है, जबकि फ़िल्मकार दूसरी तरफ ‘घर पर बैठकर मजे’ कर रहे हैं।

अभिनेत्री ने आगे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और गृह मंत्री अमित शाह से पूछा कि क्या ‘उन्हें न्याय मिलेगा?’ पायल ने आगे रिया चक्रवर्ती को ममता द्वारा समर्थन मिलने पर इशारों में सवाल उठाते हुए पूछा कि पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री कि उनको समर्थन करने में ये ‘भेदभाव’ क्यों।

अनुराग कश्यप पर यौन शोषण के आरोप लगाने के बाद पायल ने मुंबई के वर्सोवा पुलिस ने शिकायत दर्ज करवाई थी। उनके बाद से ही पुलिस द्वारा उन्हें जांच के सिलसिले में पुलिस स्टेशन ‘बुलाया’ जा रहा है। ऐसे कयास लगाएँ जा रहे हैं कि उनका ट्वीट इसी संदर्भ में था। अभिनेत्री ने पूछा कि ‘दोषी’ के खिलाफ शिकायत दर्ज करने के बावजूद उन्हें क्यों ‘सवाल और पूछताछ’ के लिए बुलाया जा रहा है।

बता दें, कश्यप पहले ही इन आरापों को ‘‘ निराधार’’ बता चुके हैं। कश्यप ने अपने वकील के जरिए एक वक्तव्य जारी कर यह भी कहा कि ‘मीटू’ जैसे महत्वपूर्ण आंदोलन को उन लोगों ने भी अपना लिया है जिनके अपने निजी स्वार्थ हैं और इस वजह से यह ‘‘चरित्र हनन’’ का उपकरण मात्र रह गया है।

शनिवार को घोष ने ट्विटर पर दावा किया कि कश्यप ने उनका यौन उत्पीड़न किया था।कश्यप ने इस आरोप को निराधार बताया था और कहा था कि यह उन्हें चुप कराने के लिए किया जा रहा है।

पुलिस ने बताया कि भादंव की धारा 376 (I), 354, 341 और 342 के तहत प्राथमिकी दर्ज की गई है। मामले की जांच जारी है। अभिनेत्री ने अपनी शिकायत में कश्यप पर 2013 में वर्सोवा में यरी रोड स्थित एक स्थान पर उनके साथ बलात्कार करने का आरोप लगाया है।

‘यदि मैं छत से लटकी हुई पाई जाती हूं तो यह याद रखें, मैंने आत्महत्या नहीं की है

एक इंस्टाग्राम पोस्ट में, पायल घोष ने कहा कि अगर वह छत से लटकी हुई पाई जाती है, तो यह याद रखें, “मैंने आत्महत्या नहीं की है। उनके पास अवसाद और दवा की कहानी तैयार है।”

loading...
loading...

Check Also

जबरन हवन करा पंडितों को ‘समानता का पाठ’ पढ़ाईं IAS, लोग पूछे- मस्जिद में मौलवियों को भी देंगी ज्ञान?

हिमाचल प्रदेश के सोलन जिले में स्थित माँ शूलिनी के मंदिर में IAS अधिकारी रितिका ...