Thursday , April 22 2021
Breaking News
Home / खबर / ‘आज के शिवाजी नरेंद्र मोदी’ पर मचा घमासान, राउत बोले- बीजेपी छोड़ें छत्रपति के वंशज

‘आज के शिवाजी नरेंद्र मोदी’ पर मचा घमासान, राउत बोले- बीजेपी छोड़ें छत्रपति के वंशज

दिल्ली के भाजपा नेता जय भगवान गोयल की किताब ‘आज के शिवाजी नरेंद्र मोदी’ को लेकर महाराष्ट्र में सियासी घमासान शुरू हो गया है। पुस्तक में छत्रपति शिवाजी महाराज से प्रधानमंत्री की तुलना करने पर महाविकास आघाडी के तीनों दलों ने भाजपा पर हमले किए हैं। शिवसेना सांसद संजय राउत ने कहा- शिवाजी महाराज की तुलना विश्व में किसी से नहीं हो सकती। इस पुस्तक को लेकर महाराष्ट्र भाजपा को अपनी भूमिका स्पष्ट करनी चाहिए।’

संजय राउत ने शिवाजी महाराज के वंशज और भाजपा नेता उदयन राजे भोसले, विधायक शिवेंद्र राजे भोसले और राज्यसभा सदस्य संभाजी राजे से पूछा- क्या उन्हें इस तरह की तुलना स्वीकार है? वहीं, राकांपा नेता और मंत्री धनंजय मुंडे ने कहा कि भाजपा नेताओं ने इस पुस्तक ने मराठी अस्मिता को आहत किया है।

इस पुस्तक का हाल ही में दिल्ली स्थित भाजपा के कार्यालय में लोकार्पण किया गया था। विरोध में महाराष्ट्र के अलग-अलग शहरों में प्रदर्शन हो रहे हैं। नागपुर, नासिक और पुणे में राकांपा और कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने जबकि सोलापुर में संभाजी ब्रिगेड के कार्यकर्ताओं ने प्रधानमंत्री मोदी और भारतीय जनता पार्टी के खिलाफ प्रदर्शन किया।  तीन शहरों में किताब के पोस्टर को आग के हवाले किया गया।

कांग्रेस नेता अतुल सुधाकर लोंढे ने नागपुर के नंदनवन थाने में शिकायत पत्र दिया और इस पुस्तक पर प्रतिबंध लगाने की मांग की है। उन्होंने आरोप लगाया है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की तुलना छत्रपति शिवाजी महाराज से करने पर उनकी धार्मिक भावना आहत हुई हैं। छत्रपति शिवाजी महाराज करोड़ों शिव प्रेमियों के आराध्य देव हैं, ऐसे में उनकी तुलना प्रधानमंत्री मोदी या अन्य किसी से करना हमारी भावनाओं को ठेस पहुंचाना है। इस पुस्तक के लेखक जयभगवान गोयल, प्रकाशक और विमोचक के खिलाफ कार्रवाई होनी चाहिए।

उधऱराउत के बयान पर भाजपा नेता और सांसद संभाजी राजे ने कहा- ‘मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरेजी, राउत की जुबान पर लगाम लगाइए। उन्हें जानकारी लेकर ही ऐसे मामलों में बोलना चाहिए। मैंने सिंदखेड राजा में कहा है कि शिवाजी महाराज से किसी की भी तुलना नहीं की जा सकती। भाजपा को यह पुस्तक वापस लेना चाहिए, वरना इसके परिणाम ठीक नहीं होंगे।

loading...
loading...

Check Also

दिनेश कार्तिक ने 4 चौके जड़ते ही हासिल किया बड़ा कीर्तिमान, जानें क्या

IPL 2021 KKR vs CSK: 4 चौके जड़ते ही दिनेश कार्तिक ने हासिल किया बड़ा ...