Wednesday , January 27 2021
Breaking News
Home / ख़बर / सऊदी की अमीर महिला बन गई पाकिस्तानी ड्राइवर की बीवी? लोगों ने इमरान खान की मौज ले ली

सऊदी की अमीर महिला बन गई पाकिस्तानी ड्राइवर की बीवी? लोगों ने इमरान खान की मौज ले ली

सोशल मीडिया पर एक वीडियो हाल में ही सामने आया है जिसमें दावा किया जा रहा है कि सऊदी अरब की अमीर महिला व्यापारी ने अपने पाकिस्तानी ड्राइवर से शादी कर ली है। एक ओर जहां लोग इसे प्यार की मिसाल बता रहे हैं, वहीं यह भी दावा किया जा रहा है कि यह वीडियो दरअसल किसी अरब शादी का है और फेक मेसेज के साथ इसे शेयर किया जा रहा है। वहीं, इसके सामने आने के बाद पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान पर लोगों ने तंज कसना शुरू कर दिया है।

सोशल मीडिया पर सामने आए वीडियो में दावा किया जा रहा है कि महिला सऊदी की सबसे अमीर व्यापारी साहू बिंत अब्दुल्लाह अल महबूब है। बताया जा रहा है कि साहू की मक्का और मदीना के साथ-साथ फ्रांस और दूसरे देशों में होटलों समेत कई संपत्ति हैं। उनकी कुल संपत्ति 8 अरब डॉलर की बताई जा रही है। वीडियो में जिस शख्स से वह सगाई करती दिख रही हैं, वह उनका पाकिस्तानी मूल का ड्राइवर बताया जा रहा है।

कई सोशल मीडिया प्लैटफॉर्म्स पर इसे प्यार की मिसाल बताया गया है। हालांकि, इस वीडियो की सत्यता की पुष्टि नहीं की गई है। वही, कई साइट्स पर यह भी दावा किया जा रहा है यह वीडियो दरअसल दो अरब लोगों की शादी का ही है और उसमें दिख रही महिला सऊदी की अमीर व्यापारी नहीं है।

इमरान खान की पुरानी तस्वीर

इमरान क्यों निशाने पर?
वहीं, वीडियो सामने आने के बाद पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान लोगों के निशाने पर आ गए हैं। दरअसल, इमरान की एक पुरानी तस्वीर शेयर की जा रही है जिसमें वह सऊदी प्रिंस के लिए गाड़ी चलाते दिख रहे हैं। इसपर कुछ लोग कह रहे हैं कि साहू से शादी करने वाले की किस्मत ज्यादा अच्छी थी जबकि इमरान को अब सऊदी का अरबों डॉलर का कर्ज चुकाना पड़ रहा है।

नाराज सऊदी ने कर्ज चुकाने को कहा
गौरतलब है कि आर्थिक सहायता पैकेज के तहत सऊदी अरब ने पाकिस्तान को 3 साल के लिए 6.2 बिलियन डॉलर का लोन दिया था जिसमें, 3 बिलियन डॉलर की नकद सहायता शामिल थी, जबकि बाकी के पैसों के एवज में पाकिस्तान को तेल और गैस की सप्लाई की जानी थी। लेकिन, पाकिस्तानी विदेश मंत्री के भड़काऊ बयानों से आहत सऊदी अरब ने 2021 में खत्म होने वाले इस पैकेज को 2020 में ही बंद कर दिया था और पाकिस्तान से कर्ज चुकाने को कहा था। इसके बाद पाकिस्तान ने चीन की मदद से यह कर्ज चुकाना शुरू किया है।

loading...
loading...

Check Also

क्या सॉफ्ट हिंदुत्व की राजनीति के चलते आजम को नजरअंदाज कर रहे अखिलेश?

उत्तर प्रदेश में 2022 में विधानसभा चुनाव होना हैं। बीते दिनों भारतीय जनता पार्टी (BJP) ...