Thursday , January 21 2021
Breaking News
Home / धर्म / अलर्ट ! ये संकेत बताते है आप पर किया गया है काला जादू, ऐसे करे अपना बचाव

अलर्ट ! ये संकेत बताते है आप पर किया गया है काला जादू, ऐसे करे अपना बचाव

शास्त्रों में काले जादू को अभिचार यानी बुरे काम की संज्ञा दी गई है। काला जादू की सहायता से लोग नकारात्मक शक्तियों को जागृत करते हैं। इसका मकसद शत्रु को परास्त करना होता है। अगर आप पर भी किसी ने काला जादू किया है तो वो 5 संकेत आपको मिलने लगेंगे जो आज हम आपको बता रहे हैं।

काले जादू से बचने के उपाय-
सावधानी – काला जादू, टोना टोटका व तांत्रिक आक्रमण के लिए ज्यादातर करीबियों को जिम्मेदार माना जाता रहा है। ये वो करीबी होते हैं जो आपके घर तक पहुंच सकते हैं, लेकिन आपका उचित नहीं चाहते हैं। यह व्यक्ति आपसे जुड़ी हुई किसी चीज का इस्तेमाल कर आप पर काला जादू करा सकता है। ऐसे व्यक्ति से बचने के लिए अपनी जन्मकुंडली का सहारा लिया जा सकता है। इसमें आपकों परेशानी में डालने वालों से जुड़े कई संकेत होते हैं।
ईश्वर की भक्ति – प्राचीन समय से ही बुरी शक्तियों के ऊपर ईश्वरीय शक्तियों को बताया जाता रहा है। ऐसे में ईश्वर या धर्मगुरु के लिए गहरी आस्था के साथ पूरे विधि-विधान से पूजा-पाठ करने पर किसी भी बुरी शक्ति से पार पाया जा सकता है।
ये सात पत्ते – विधि-विधान से पूजा-पाठ में आशोक के सात पत्ते भी बहुत महत्वपूर्ण होते हैं। इन पत्तों की करीबी के मंदिर रखकर पूजा करने के बाद इनके सूख जाने पर पुराने पीपल के पेड़ के नीचे रख दें। ऐसा सात दिन तक करने पर भूत-प्रेत का साया और काले जादू का असर खत्म हो जाएगा।काजल – काले जादू और बुरी आत्माओं से बचाने में काजल सबसे बड़ा हथियार माना जाता है। हमेशा घर में बड़े-बुर्जुग बुरी नज़र से बचने की बात कहकर बच्चों को काजल लगा देते हैं। क्योंकि बुरी शक्तियां बच्चों का आसानी से हमला कर सकती है। वहीं काजल के पीछे का तर्क यह बताया जाता है कि दीपावली की रात बनाया गया काजल सबसे महत्वपूर्ण होता है। क्योंकि सरसों व शुद्ध घी का दीया जालाने और उससे तैयार काजल लगाने से बुरी शक्तियां आप पर प्रभाव नहीं डाल पाती। वहीं आपके मन से भी बुरी शक्तियों का भय दूर हो जाता है।

गोमूत्र – पौराणिक समय से गाय को पूजा जाता है। पौराणिक मान्यताएं कहती है कि गाय में सृष्टि के सभी देवी व देवताओं का वास होता है। वहीं गोमूत्र को सभी पूजा-पाठ में शुद्धिकरण के लिए प्रयोग किया जाता है। किसी बुरी शक्ति का घर में वास होने के संकेत मिलने पर गोमूत्र का छिड़काव लाभकारी होता है।

भय से मुक्ति – किसी भी बुरी शक्ति से मुक्ति पाने के लिए भय से मुक्त होना बेहद जरुरी है। एसे में बुरी शक्तियों दूर रखने के लिए रुद्राक्ष पहनना काफी फायदेमंद होता है। वहीं ओम नमो भगवते वासुदेवाय नमः मंत्र के रोज जाप करने से भय पर विजय मिलती है।

loading...
loading...

Check Also

आचार्य चाणक्य ने बताई हैं धोखेबाजों की ये 3 आसान पहचान, जरूर जानें

इस दुनिया में धोखेबाज लोगो की कोई कमी नहीं है. मगर अफ़सोस कि किसी भी ...