Thursday , February 25 2021
Breaking News
Home / जरा हटके / ‘घायल शेर से दूर रहो’, ट्रम्प के कट्टर विरोधी अब उन पर पड़ने लगे हैं नर्म, कारण- डर

‘घायल शेर से दूर रहो’, ट्रम्प के कट्टर विरोधी अब उन पर पड़ने लगे हैं नर्म, कारण- डर

Capitol Hill में हुए दंगों के बाद अमेरिका के पूर्व राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प पर लोकतन्त्र की हत्या करने के आरोप लगाने वाले Democrats का आक्रोश अब ठंडा पड़ता दिखाई दे रहा है। वे अब आक्रामकता के साथ ट्रम्प की निंदा करने से बच रहे हैं और पूर्व राष्ट्रपति के खिलाफ़ खुलकर बयानबाज़ी करने से परहेज़ कर रहे हैं। ट्रम्प अब बेशक अमेरिका के राष्ट्रपति नहीं हैं, लेकिन उनके पास अब भी करोड़ों अमेरिकी नागरिकों का भरपूर समर्थन हासिल है। ऐसे में ट्रम्प के खिलाफ़ आक्रामक अभियान छेड़कर वे करोड़ों लोगों का गुस्सा नहीं झेलना चाहेंगे, जो आगे चलकर बाइडन प्रशासन के चार सालों के शासन में बड़ा अवरोध भी पैदा कर सकता है।

उदाहरण के लिए हाल ही में Democrat सांसद Dianne Feinstein ने खुलकर ऐसे Republican सांसदों का बचाव किया, जिन्होंने चुनावों में बड़े पैमाने पर धांधली होने के विचार को आगे बढ़ाया था। टेक्सास से सांसद Ted Cruz और मिसूरी से सांसद Josh Hawley खुलकर Electoral College के फैसले का विरोध कर रहे थे, जिसके बाद Democrats इन दोनों के खिलाफ़ कड़ी कार्रवाई करने की मांग कर रहे थे। Capitol Hill में हुए दंगों के लिए भी Democrats इन दोनों को ही निशाना बना रहे थे। हालांकि, Feinstein का बयान सुनकर उन्हीं की पार्टी के सांसद दंग रह गए!

Feinstein के मुताबिक “सीनेट आज़ादी को महसूस करने की जगह है। लोग यहाँ वो सब ही बोलने के लिए आते हैं, जैसे वे सोचते हैं। यही देश को नेतृत्व प्रदान करता है। कुछ मामलों में इसका सकारात्मक प्रभाव पड़ता है, तो कुछ में नकारात्मक। निर्भर करता है कि कौन इसे किस नज़रिये से देखता है। ऐसी बातों पर चर्चा करने के लिए यह जगह बेहद महत्वपूर्ण है।” उनके इस बयान से अधिकतर Democrat सांसद बेशक सहमत नहीं होंगे, लेकिन इससे यह बात स्पष्ट होती है कि Democrat पार्टी में अब ट्रम्प के नज़रिये को लेकर भी स्वीकार्यता बढ़नी लगी है।

Feinstein ने Capitol Hill में हुई हिंसा के बाद खुद ट्रम्प की निंदा की थी। जनवरी 6 को हुई हिंसा के बाद Feinstein ने खुद ऐसे Republican सांसदों से पीछे हटने की अपील की थी, जो “ट्रम्प के समर्थन में हिंसा को भड़का रहे थे”। हालांकि, अब जब उनसे पूछा गया कि सीनेट को कितना जल्दी ट्रम्प के खिलाफ़ महाभियोग की कार्रवाई को आगे बढ़ाना चाहिए, तो उन्होंने कहा “ये राष्ट्रपति पहले ही अपना ऑफिस छोड़ रहे हैं, महाभियोग यहाँ प्रासंगिक नहीं रह जाता, लेकिन सच पूछिये तो अब मुझे इससे कोई फर्क भी नहीं पड़ता।”

इतना ही नहीं, हाउस की स्पीकर और ट्रम्प की प्रखर विरोधी नेनसी पेलोसी ने भी अब तक महाभियोग से जुड़े Articles को सीनेट में transmit नहीं किया है। नेनसी को डर है कि ट्रम्प के महाभियोग की बेतुकी कार्रवाई की प्रक्रिया बाइडन प्रशासन के शुरुआती काम में अड़ंगा डाल सकती है और बाइडन के Cabinet मंत्रियों की नियुक्ति में भी देरी कर सकती है। हालांकि, यह हैरानी भरा इसलिए है क्योंकि Capitol Hill में हुई हिंसा के बाद वे ट्रम्प के खिलाफ़ महाभियोग लाने के विचार को खुलकर समर्थन दे रही थीं।

शायद अब Democrats को अहसास हो रहा है कि Capitol Hill में हुई हिंसा के लिए ट्रम्प को लगातार निशाने पर लेना Democrat के आगामी चार सालों के शासन के लिए घातक साबित हो सकता है। Democrats अब Big Tech के ट्रम्प-विरोधी अभियान और लेफ्ट मीडिया के एजेंडे के बावजूद ट्रम्प की ताकत को कम आँकने की गलती नहीं करना चाहते हैं। ट्रम्प को अब भी अमेरिका के करोड़ों लोगों द्वारा पसंद किया जाता है और Democrats को डर है कि ट्रम्प अब अपने बल पर ही अमेरिका में एक नई राजनीतिक क्रांति की शुरुआत कर सकते हैं।

ट्रम्प पहले ही अपनी राजनीतिक पार्टी “Patriot Party” को लॉन्च करने की घोषणा कर चुके हैं। वे अब लोगों के गुस्से को एक राजनीतिक मंच प्रदान करने जा रहे हैं। ट्रम्प की इस रणनीति से ही Democrats घबराए हुए हैं और वे अब ट्रम्प पर नर्म पड़ने को मजबूर हुए हैं।

loading...
loading...

Check Also

आम आदमी को बड़ा झटका ! आज फिर बढ़ गए गैस सिलेंडर के दाम, जानें नए रेट

तेल कंपनियों ने घरेलू LPG सिलेंडर की कीमतों में इस महीने आज तीसरी बार बढ़ोतरी ...