Friday , April 23 2021
Breaking News
Home / क्रिकेट / टीम इंडिया ने चूर-चूर किया ऑस्ट्रेलिया का घमंड, बेंगलुरु में बोलती की बंद

टीम इंडिया ने चूर-चूर किया ऑस्ट्रेलिया का घमंड, बेंगलुरु में बोलती की बंद

भारत ने रोहित शर्मा (119) के शतक और विराट कोहली (89) के अर्धशतक की बदौलत ऑस्ट्रेलिया को 7 विकेट से मात देकर तीन मैचों की वनडे सीरीज 2-1 से अपने नाम कर ली। बेंगलुरु के एम. चिन्नास्वामी स्टेडियम में में खेले गए इस मैच में ऑस्ट्रेलिया ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करते हुए 50 ओवर में 9 विकेट के नुकसान पर 286 रन बनाए थे। ऑस्ट्रेलिया की तरफ से सबसे ज्यादा 131 रनों की पारी स्टीवन स्मिथ ने खेली। इसके जवाब में भारत ने 47.3 ओवर में तीन विकेट के नुकसान पर इस लक्ष्य को आसानी से हासिल कर लिया। भारत की ओर से सबसे ज्यादा चार विकेट मोहम्मद शमी ने झटके। रवीन्द्र जडेजा ने 2, नवदीप सैनी और कुलदीप यादव को 1-1 विकेट मिला। रोहित शर्मा को प्लेयर ऑप द मैच जबकि विराट कोहली को प्लेयर ऑप द सीरीज चुना गया।

भारत की पारी:

रोहित शर्मा का शतक

287 रन के लक्ष्य का पीछा करने उतरी भारतीय टीम ने सधी हुई शुरुआत की। सलामी बल्लेबाज रोहित शर्मा और लोकेश राहुल ने पहले विकेट के लिए 69 रन जोड़े। एश्टन एगर ने राहुल (19) को आउट कर इस साझेदारी को तोड़ा। इसके बाद रोहित शर्मा ने कप्तान विराट कोहली के साथ मिलकर 137 रनों की पार्टनरशिप की और भारत के स्कोर को 206 रनों तक पहुंचा दिया। इस दौरान रोहित ने अपना शतक भी पूरा किया। एडम जम्पा ने रोहित को स्टार्क के हाथों कैच कराकर इस पार्टनरशिप को तोड़ा। रोहित ने 128 गेंदों में 119 रन की पारी खेली। इस पारी में उन्होंने 8 चौके और 6 छक्के लगाए।

विराट ने खेली 89 रन की पारी

रोहित के आउट होने के बाद विराट कोहली ने श्रेयस अय्यर के साथ मिलकर स्कोर को 274 रनों तक पहुंचाया। जोश हेजलवुड ने विराट कोहली को क्लीन बोल्ड कर इस पार्टनरशिप को तोड़ा। विराट ने 8 चौको की मदद से 91 गेंदों में 89 रन बनाए। अय्यर (44*) और मनीष पांड (8*) रन बनाकर नाबाद रहें।

रोहित और विराट के रिकॉर्ड

रोहित शर्मा ने वनडे इंटरनेशनल क्रिकेट में अपने 9000 रन भी पूरे कर लिए हैं। रोहित सबसे तेज 9 हजार रन बनाने वाले दूसरे भारतीय हैं। कोहली ने 194 पारियों में ऐसा किया था। शर्मा ने 217 वनडे पारियों में यह कीर्तिमान रचा। वहीं कोहली ने कप्तान के तौर पर 82वीं पारी में 5000 रन पूरे किए। इस मामले में महेंद्र सिंह धोनी (127 पारी) को पीछे छोड़ा। कोहली सभी फॉर्मेट में कप्तान के तौर पर सबसे ज्यादा रन बनाने वाले भारतीय भी बन गए। उन्होंने महेंद्र सिंह धोनी का रिकॉर्ड तोड़ा। कोहली के 199 पारियों में 11208 रन, धोनी ने 330 पारियों में 11207 रन बनाए थे।

ऑस्ट्रेलिया की खराब शुरुआत

इससे पहले टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने उतरी ऑस्ट्रेलियाई टीम की शुरुआत अच्छी नहीं रही। सलामी बल्लेबाज डेविड वॉर्नर (3) को पारी के तीसरे ओवर में 18 रन के कुल स्कोर पर मोहम्मद शमी ने पवेलियन भेज दिया। शमी ने उन्हें लोकेश राहुल के हाथों कैच कराया। इसके बाद कप्तान एरॉन फिंच ने क्रीज पर आए नए बल्लेबाज स्टीवन स्मिथ के साथ मिलकर पारी को संभाला और स्कोर को 8.2 ओवर में 46 रन तक पहुंचा दिया। एक करीबी रन चुराने के चक्कर में एरॉन फिंच रनआउट हो गए। फिंच ने 19 रन बनाए।

स्मिथ और लाबुशैन के बीच 127 रन की पार्टनरशिप

फिंच के आउट होने के बाद स्टीवन स्मिथ और मार्नस लाबुशैन ने 127 रन की पार्टनरशिप कर टीम को मजबूत स्थिति में पहुंचा दिया। इस दौरान दोनों बल्लेबाजों ने अपने-अपने अर्धशतक भी पूरे किए। रवींद्र जडेजा ने लाबुशैन को आउट कर इस पार्टनरशिप को तोड़ा और ऑस्ट्रेलिया को तीसरा झटका दिया। लाबुशैन ने आउट होने से पहले 64 गेंदों में 54 रन की पारी खेली जिसमें उन्होंने 5 चौके भी लगाए। ऑस्ट्रेलिया के कप्तान ने लाबुशैन के आउट होने के बाद बैटिंग ऑर्डर में बदलाव करते हुए मिशेल स्टार्क को पिंच हिटर के तौर पर भेजा, लेकिन उनका ये एक्सपेरिमेंट सफल नहीं हो पाया और जडेजा ने उन्हें बिना खाते खोले पहली ही गेंद पर पवेलियन भेज दिया।

स्मिथ ने बनाए 131 रन

इसके बाद एलेक्स केरी (35) को कुलदीप यादव ने आउट कर ऑस्ट्रेलिया को 5वां झटका दिया। छठा विकेट एश्टन टर्नर के रूप में गिरा। टर्नर (4) को नवदीप सैनी ने राहुल के हाथों विकेट के पीछे कैच कराया। इसके बाद स्टीवन स्मिथ को शमी ने अय्यर के हाथों कैच कराकर ऑस्ट्रेलिया को 7वां झटका दिया। स्मिथ ने 132 गेंदों में 131 रन बनाए। अपनी इस पारी में स्मिथ ने 14 चौके और एक छक्का लगाया। पैट कमिंस (0), एडम जम्पा (1), एस्टॉन आगर (4*) और हेजलवुड ने 1* रन बनाए।

इस मैच के लिए आस्ट्रेलिया ने अपनी टीम में एक बदलाव किया था। मेहमान टीम ने केन रिचर्डसन की जगह जोश हेजलवुड को अंतिम एकादश में मौका दिया था। जबकि भारत ने अपनी अंतिम एकादश में कोई बदलाव नहीं किया था।

टीमें :
आस्ट्रेलिया : डेविड वार्नर, एरॉन फिंच (कप्तान), मार्नस लाबुशैन, स्टीवन स्मिथ, एश्टन टर्नर, एलेक्स केरी (विकेटकीपर), एश्टन एगर, पैट कमिंस, मिशेल स्टार्क, जोश हेजलवुड, एडम जम्पा।

भारत : विराट कोहली (कप्तान), शिखर धवन, रोहित शर्मा, लोकेश राहुल (विकेटकीपर), श्रेयस अय्यर, रवींद्र जडेजा, नवदीप सैनी, कुलदीप यादव, मोहम्मद शमी, जसप्रीत बुमराह और मनीष पांडे।

loading...
loading...

Check Also

पीटरसन को परेशान किया एक सवाल- क्रिस मॉरेस को 16.25 करोड़ में क्यों खरीदी RR?

इंग्लैंड के पूर्व कप्तान केविन पीटरसन (Kevin Pietersen) को लगता है कि इंडियन प्रीमियर लीग ...