Saturday , October 24 2020
Breaking News
Home / क्राइम / सिरदर्द बने सीरियल किलर ने थाने के सामने फिल्मी स्टाईल में खुद को गोली से उड़ाया

सिरदर्द बने सीरियल किलर ने थाने के सामने फिल्मी स्टाईल में खुद को गोली से उड़ाया

लखनऊ। पिछले दस दिनो से बिजनौर पुलिस से लेकर लखनऊ तक मंे बैठे अधिकारियों की नींद हराम करने वाले आशिक से सीरियल किलर बने अश्वनी उर्फ जाॅनी ने शुक्रवार/शनिवार की मध्यरात्रि दिल्ली से बढापुर जाने वाली बस में सवार होकर बढापुर थाने के सामने फिल्मी स्टाईल में खुद को गोली मारकर आत्माहत्या कर ली। सीरियल किलर जाॅनी के आतंक से पश्चिमी उत्तर प्रदेश का जनपद बिजनौर पिछले दस दिनो से थर्राया हुआ था। सीरियल किलर के मरने की खबर से दहशत में जी रहे लोगो ने रहात की सांस ली है।

मालूम हो कि बिजनौर जनपद के एसपी संजीव त्यागी को खुला चैलेंज देते हुए बढ़ापुरिया छोरे अश्वनी उर्फ जाॅनी ने बीती 26 सितम्बर को बिजनौर जनपद के थाना बढापुर के मोहल्ला नौमी निवासी भाजपा नेता भीम सिंह कश्यप के पुत्र चन्द्रभूषण उर्फ राहुल व भतीजे कृष्णा पुत्र नरेश को दिनदहाड़े मौत के घाट उतार दिया।

इतना ही नहीं सीरियल किलर अश्वनी उर्फ जाॅनी ने चार दिन बाद फिर 30 सितम्बर को पुलिस की नाकामी का फायदा उठाते हुए स्योहारा थाने के सामने से ही गुजरते हुए पुलिस के मुखबिरों और बिजनौर के लचर खुफिया तंत्र को धता बताकर पूर्व एयर होस्टेस नितिका को छह गोलियां मारकर मौत की नींद सुला दिया और बहुत आराम से रिक्शा में बैठकर पिस्टल लहराता हुआ फरार हो गया। खबर मिलते ही एसपी संजीव त्यागी ने दो दर्जन थानो की पुलिस के साथ सीरियल किलर जाॅनी की तलाश में तीन दिनो तक जंगल में काॅम्बिंग की लेकिन उनके हाथ कुछ भी नहीं लग सका।

इतना ही नही सीरियल किलर अश्वनी उर्फ जाॅनी का सुराग लगाने में पुलिस के ड्रोन व डाॅग स्क्वाॅड भी हाॅफने लगे थे। हैरत की बात यह रही कि मामूली बढ़ापुरिया छोरे अश्वनी उर्फ जाॅनी जिसका कोई आपराधिक इतिहास नहीं था उसके द्वारा पुलिस को लगातार छकाने से खुफिया तंत्र के साथ साथ पुलिस की मुखबिर व्यवस्था की भी पोल खुल गई। उधर आईजी मुरादाबाद रमित शर्मा ने अश्वनी उर्फ जाॅनी पर पचास हजार का ईनाम घोषित कर दिया था। बीते गुरुवार की शाम पुलिस को सूचना मिली कि सीरियल किलर अश्वनी उर्फ जाॅनी ने आज दोपहर नगीना में तुलाराम रेस्टोरंट पर रसगुल्ले खाए है।

सीरियल किलर के क्षेत्र में ही दस्तक होने की खबर मिलते ही पुलिस विभाग में हडकम्प मच गया, आनन फानन में उसी रात को पुलिस ने रेस्टोरेंट को छावनी में तबदील कर सीरियल किलर के बारे में पूछताछ की तथा रेस्टोरेंट में लगे सीसीटीवी केमरे का सहारा लिया और पूरे आॅप्रेशन को गोपनीय रखा अगले दिन शुक्रवार को चर्चा जोर पकडने ने लगी की सीरियल किलर अश्वनी उर्फ जाॅनी बिजनौर पुलिस की कस्टडी में है और जल्द ही उसपर ईनाम की धनराशी बढने वाले ही लेकिन एसपी संजीव त्यागी के पीआर सेल ने शुक्रवार की रात लगभग 8ः52 मीडिया ग्रुप में एक एसएमएस भेजकर इन सभी चर्चाओं पर यह कहते हुए विराम लगा दिया था कि इस संबन्ध में जनपद पुलिस को कोई सूचना नही है उसकी तलाश जारी है।

लेकिन पिछले दस दिनो से बिजनौर पुलिस से लेकर लखनऊ तक मंे बैठे अधिकारियों की नींद हराम करने वाले आशिक से सीरियल किलर बने अश्वनी उर्फ जाॅनी बस में सवार होकर जिस तरह बढापुर थाने के सामने फिल्मी स्टाईल में खुद को गोली मारकर आत्माहत्या करने की खबर मिलने से हर कोई सोचने को मजबूर है? फिलहाल पुलिस अधिकारियों द्वारा इस वारदात के सम्बंध में अभी तक किसी तरह का कोई बयान नही आया है।

loading...
loading...

Check Also

साइकिलिंग करती युवती से पता पूछा कार सवार, बातों-बातों में दिखा दिया प्राइवेट पार्ट

नई दिल्ली द्वारका में सुबह साइकलिंग कर रही एक युवती को कार सवार युवक ने ...