Friday , April 23 2021
Breaking News
Home / क्राइम / स्कूल मैनेजमेंट में बाप-बेटे, टीचर को दोनों बुलाते घर, फिर करते गंदी हरकत

स्कूल मैनेजमेंट में बाप-बेटे, टीचर को दोनों बुलाते घर, फिर करते गंदी हरकत

नागपुर के चैतन्य नगर के रॉंरध प्राथमिक स्कूल में पढ़ाने वाली 45 वर्षीय शिक्षिका ने स्कूल संचालक समेत 4 लोगों के पर यौन उत्पीड़न का आरोप लगाया है। शिक्षिका की शिकायत पर जरीपटका थाने में आरोपियों के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया गया है। हालांकि स्कूल प्रबंधन ने इस शिकायत के बाद उसे स्कूल से निलंबित कर दिया है। प्रकरण में और भी चौंकाने वाले तथ्य उजागर होने की आशंकाएं बनी हुई हैं।

जानकारी के अनुसार चैतन्य नगर में रॉंरध प्राथमिक स्कूल है। इसका संचालक आरोपी प्रह्लाद खोब्रागड़े नामक व्यक्ति है, जबकि संचालक मंडल में बतौर सचिव उसका पुत्र रॉबिन खोब्रागड़े है। विद्यालय में पीड़ित 45 वर्षीय शिक्षिका है। दर्ज शिकायत में शिक्षिका ने बताया है कि 5 दिसंबर 2013 से 11 फरवरी 2019 के बीच में प्रह्लाद और रॉबिन स्कूल के काम से उसे अपने घर में बुलाते रहे हैं।

स्कूल से संचालक का घर कुछ ही अंतराल पर है। इस दौरान कई बार पिता-पुत्र आपत्तिजनक स्थिति में भी शिक्षिका के सामने आए। उनके इस घिनौने काम में स्कूल की प्रधानाचार्य उज्ज्वला लोणारे और लिपिक सचिन वाघमारे प्रत्यक्ष-अत्यक्ष रूप से मदद करते रहे हैं।

इस तरह से पीड़िता के अलावा स्कूल की अन्य दो शिक्षिकाओं को भी प्रताड़ित किया जाता रहा है। तीनों ने सामूहिक रूप से इसके खिलाफ आवाज उठाई, तो उन्हें अलग-अलग कारण बताकर निलंबित किया गया है।

इस बीच पीड़िता ने घटित प्रकरण की जानकारी अपने परिवार को दी। साथ ही शिक्षा विभाग समेत अन्य स्थानों पर मामले की शिकायत की। अदालत का दरवाजा भी खटखटाया था।

अदालत के निर्देश पर ही आरोपी प्रह्लाद, रॉबिन, उज्ज्वला और सचिन के खिलाफ छेडछाड़ का प्रकरण दर्ज किया गया है, लेकिन आरोपियों की गिरफ्तारी नहीं हुई है।

 

loading...
loading...

Check Also

सलमान के गुर्गों को पिस्टल लेकर डांस करना पड़ा महंगा, यूपी पुलिस ने ऐसे सिखाया सबक !

सीएम योगी ने जब से उत्तर प्रदेश की कमान संभाली है तब से ही वो ...