Thursday , April 15 2021
Breaking News
Home / धार्मिक और आध्यात्मिक / मालामाल बना देंगे गुरूवार के दिन किये गए ये उपाय, धन-वैभव की होगी वर्षा

मालामाल बना देंगे गुरूवार के दिन किये गए ये उपाय, धन-वैभव की होगी वर्षा

हिन्दू धर्म शास्त्रों के अनुसार, भगवन विष्णु (Lord Vishnu) को संसार का पालनहार बताया जाता है। धार्मिक लोक कथाओ के अनुसार भगवन विष्णु को कई नामो से पूजा जाता है, कोई उन्‍हें जगन्नाथ भगवान के रूप में पूजता है तो कोई कृष्ण के रूप में तो कोई पदमनाभ स्वामी के रूप में और कोई रंगनाथ स्वामी के रूप में पूजा करता है। इन सारे ही रूपों का मूल श्री विष्णु है। गुरुवार का दिन भगवान विष्णु के सभी अवतारों की पूजा का दिन है। शांति व प्रसन्नता के लिए गुरुवार का दिन विशेष दिन माना जाता है।

यह दिन भगवान विष्णु और मां सरस्वती दोनों की पूजा का दिन होता है। शास्त्रों के अनुसार गुरुवार के दिन जो व्यक्ति भगवान श्री विष्णु जी की पूजा करता है तो इससे उस व्यक्ति के जीवन के सभी कष्ट दूर होते हैं, जैसा की आप सभी लोगों को पता है भगवान विष्णु जी संसार के पालनहार माने गए हैं, जो इनकी भक्ति करता है उनके ऊपर इनकी कृपा दृष्टि सदैव बनी रहती है।

धार्मिक मान्यताओं के आधार पर, भगवन विष्णु की पूजा करने से हरी प्रिय लक्ष्मी जी प्रशन्न होती है। घर में सुख समृद्धि और संपन्नता लाने के लिए गुरुवार के दिन विष्णु भगवान की पूजा की जाती है। अगर आप भगवान विष्णु जी की कृपा प्राप्त करना चाहते हैं और इनको प्रसन्न करना चाहते हैं तो गुरुवार के दिन कुछ ख़ास उपाय करके आप भगवान विष्णु जी की कृपा के पात्र बन सकते हैं।

धार्मिक मान्यताओं के अनुसार, गुरुवार को पीले वस्त्र ही धारण करने का प्रयास करें, अगर ऐसा नहीं हो सकता तो पूजा करते वक्त केसर से भगवान विष्णु को तिलक करें अगर केसर नहीं हैं, तो हल्दी से भी तिलक कर सकते हैं। शास्त्रों के अनुसार भगवान बृहस्पति साधु और संतों के देव माने गए हैं और इसी तरह पीला रंग संपन्नता का प्रतीक भी है, यही वजह है कि पीला रंग इस दिन को समर्पित किया गया है।

गुरुवार के दिन सुबह नहाने के बाद घी का दीपक जलाकर भगवान विष्णु की पूजा करें, साथ ही उनका पाठ जरूर करें। ज्योतिषशास्त्र की मान्यता अनुसार गुरु धन का कारक ग्रह है। अत: जिस व्यक्ति पर गुरु की कृपा होती है उसकी आर्थिक स्थिति अच्छी रहती है। इस लिए भगवन विष्णु की पूजा मात्र से परिवार में सुख समृद्धि व बैभव का निवास होता है।

मान्यता के अनुसार आज के दिन पूजा करने से भगवान विष्णु प्रसन्न होते हैं और धन संपत्ति का वरदान देते हैं। भगवान विष्णु को पीला रंग बहुत प्रिय है इसलिए इस दिन पीले वस्त्र धारण करने चाहिए और पीली वस्तुओं का दान किया जाता है। वहीं दूसरी तरफ आज कुछ चीजों को करने से परहेज करना भी बहुत जरूरी माना जाता है।

अगर आप गुरुवार के दिन नियमित रूप से केले के पेड़ की पूजा करते हैं तो इससे भगवान विष्णु जी की कृपा दृष्टि आपके ऊपर सदैव बनी रहती है क्योंकि केले के पेड़ को भगवान विष्णु का अवतार माना गया है, आप गुरुवार के दिन सुबह के समय केले के पेड़ की पूजा करके उसके नीचे घी का दीपक जलाएं, इसके अतिरिक्त अगर आप केले के पेड़ पर चने की दाल अर्पित करते हैं तो यह शुभ माना गया है।

अगर आप अपने करियर में तरक्की पाना चाहते हैं तो इसके लिए गुरुवार के दिन भगवान विष्णु जी और बृहस्पति देव की पूजा करते समय आप “ऊं नमो नारायणा” मंत्र का जाप 108 बार कीजिए, इससे आपके घर परिवार में सुख समृद्धि आएगी और आपको कामयाबी हासिल होगी।

आज के दिन केले के पेड़ का पूजन करना चाहिए और संभव हो तो इसके पास बैठकर ही बृहस्पति देव का पूजन और कथा पाठ करना चाहिए। अगर आज के दिन आप व्रत रख रहे हैं तो आपको केवल पीले फल ग्रहण करने चाहिए। आज के दिन पीली वस्तुओं का दान करने से मन को शांति और घर में समृद्धि का निवास रहता है। भगवान बृहस्पति देव की पूजा मात्र से आपके घर में गुरु का वास होता है।

सुबह उठकर नहाने के बाद पीले रंग के कपड़े पहनें। पूजा में भोग लगाने के लिए गुड़ और चने की दाल को एक साथ मिला कर प्रसाद बनाएं। इस प्रसाद को आप भगवान को अर्पण कर पूजा करें। ऐसा करने भगवान विष्णु प्रसन्न होकर अपना आशीर्वाद आपके घर पर सदा बनाए रखते हैं। गुरुवार की पूजा विधि-विधान के अनुसार की जानी चाहिए और बृहस्पति देव के पूजन में पीले फूल, चने की दान, पीली मिठाई, पीले चावल आदि का उपयोग करना शुभ रहता है।

हिंदू पौराणिक ग्रंथों में गुरुवार का दिन भगवान विष्णु का दिन माना गया है। इस दिन यदि कोई भक्त सच्चे मन से श्रीहरि को प्रसन्न करता है तो उसकी मनोकामनाएं जरूर पूरी होती है। मनुष्य के जीवन में ऐसी कई समस्याएं हैं जैसे विवाह न होना, आर्थिक समस्या का होना और मानसिक शांति ऐसे में यदि गुरुवार के दिन कुछ आसान से उपाय करें, तो उसकी मनोकामना जरूर पूरी होगी।

आज के दिन मन से सभी बुरे विचार त्याग कर भगवान के चरणों में अपने जीवन को अर्पण करना चाहिए। आज के दिन घर में पोछा नहीं लगना चाहिए और न ही कपड़े धोने या प्रेस करने को चाहिए। आज के दिन किसी को पैसे नहीं देने चाहिए। जो लोग गुरुवार का व्रत करें उन्हें नमक ग्रहण नहीं करना चाहिए और पीला भोजन करना चाहिए।

loading...
loading...

Check Also

Chaitra Navratri 2021, जानें किस दिन होगी मां के किस स्वरूप की पूजा, जानें चैत्र नवरात्रि का महत्व

नई दिल्ली: देश में नवरात्रि का नौ दिन चलने वाला त्योहार जल्द ही शुरू होगा. ...