Thursday , November 26 2020
Breaking News
Home / ख़बर / US Election 2020 : ट्रंप का ‘मोदी कार्ड’ हुआ फेल, NRIs की पहली पसंद रहे बाइडेन

US Election 2020 : ट्रंप का ‘मोदी कार्ड’ हुआ फेल, NRIs की पहली पसंद रहे बाइडेन

वॉशिंगटन :  अमेरिकी राष्‍ट्रपति चुनाव में रिपब्लिकन पार्टी के उम्‍मीदवार डोनाल्‍ड ट्रंप को बड़ा झटका लगता दिख रहा है और वह करारी श‍िकस्‍त की ओर बढ़ रहे हैं। इस चुनाव में पीएम मोदी के साथ ‘प्रचार’ करने वाले डोनाल्‍ड ट्रंप को भारतीय मतदाताओं की ओर से तगड़ा झटका लगा है। ट्रंप को उम्‍मीद थी कि ‘हाउडी मोदी’ और अहमदाबाद में लाखों की भीड़ को संबोधित करने के बाद भारतीय समुदाय उनकी ओर आएगा लेकिन ऐसा हुआ नहीं।

नैशनल एग्जिट पोल की रिपोर्ट के मुताबिक 64 फीसदी एशियाई अमेरिकी लोगों ने बाइडेन के समर्थन में वोट किया और केवल 30 फीसदी वोट ट्रंप को मिले हैं। वर्ष 2016 में भी चुनाव के दौरान लगभग इतने ही फीसदी लोगों ने ट्रंप का समर्थन किया था। अमेरिका में सबसे ज्‍यादा बढ़ रहे वोटों में एशियाई अमेरिकी लोगों की तादाद सबसे ज्‍यादा है। हालांकि कुल मतों उनकी संख्‍या अभी 5 फीसदी से कम है।

विश्‍लेषकों का मानना है कि स्विंग स्‍टेट में एशियाई मूल के अमेरिकी नागरिक महत्‍वपूर्ण भूमिका निभा सकते हैं। एशियाई अमेरिकी वोटरों के सर्वेक्षण में कहा गया है कि भारतीय मूल के अमेरिकी नागरिकों ने सबसे ज्‍यादा वोट जो बाइडेन को दिया है। वहीं वियतनाम मूल के अमेरिकी नागरिकों ने चीन के खिलाफ जोरदार हमला बोलने वाले डोनाल्‍ड ट्रंप का समर्थन किया। सबसे मजेदार बात यही रही कि चीनी मूल के अमेरिकी वोटरों ने सबसे ज्‍यादा डोनाल्‍ड ट्रंप को वोट दिया है।

चीनी नागरिकों ने दिया डोनाल्‍ड ट्रंप को समर्थन
चीनी नागरिकों ने चीन के क्रूर कम्‍युनिस्‍ट शासन के खिलाफ उठ खड़े होने के लिए डोनाल्‍ड ट्रंप की प्रशंसा की। बता दें कि अमेरिका में राष्ट्रपति पद के साथ-साथ कई राज्यों में भी हुए चुनावों में पांच महिलाओं सहित एक दर्जन से अधिक भारतवंशियों ने जीत दर्ज की है। कई मायनों में भारतीय-अमेरिकी समुदाय के लिए ऐसा पहली बार हुआ है। इनके अलावा चार भारतीय मूल के उम्मीदवार- डॉ.एमी बेरा, प्रमिला जयपाल, रो खन्ना और राजा कृष्णमूर्ति- अमेरिकी कांग्रेस के निम्न सदन हाउस ऑफ रिप्रजेंटेटिव के लिए दोबारा निर्वाचित हुए हैं।

उधर, भारतीय मूल के कम से कम तीन ऐसे प्रत्याशी हैं जिनका फैसला नहीं हुआ है और इनमें एक हाउस ऑफ रिप्रजंटेटिव के लिए मैदान में हैं। राज्य विधायिकाओं के लिए भारतीय मूल की जो पांच महिलाएं निर्वाचित हुई हैं , उनमें न्यूयॉर्क राज्य विधानसभा के लिए जेनिफर राजकुमार, केंटुकी राज्य विधानसभा के लिए नीमा कुलकर्णी, वरमोंट राज्य सीनेट के लिए केशा राम, वाशिंगटन राज्य विधानसभा के लिए वंदना स्लेट्टर और मिशिगन राज्य विधानसभा के लिए पद्मा कुप्पा शामिल हैं।

वहीं, नीरज अंतानी को ओहायो राज्य सीनेट के लिए निर्वाचित घोषित किया गया है। जय चौधरी नॉर्थ कैरोलाइना राज्य सीनेट के लिए दोबारा निर्वाचित हुए हैं। एरिजोना राज्य विधानसभा के चुनाव में अमीश शाह ने जीत दर्ज की है। निखिल सावल पेन्सिलवेनिया राज्य सीनेट और राजीव पुरी मिशिगन राज्य विधानसभा के लिए निर्वाचित हुए हैं। चुनाव के नतीजों के मुताबिक जर्मी कूनी ने न्यूयॉर्क राज्य सीनेट में अपनी सीट पक्की है जबकि अश कालरा लगातार तीसरी बार कैलिफोर्निया विधानसभा के लिए निर्वासित हुए हैं।

डोनाल्‍ड ट्रंप ने पीएम मोदी संग किया था ‘चुनाव प्रचार’
इससे पहले चुनाव प्रचार के दौरान अमेरिका में 20 लाख से अधिक प्रभावशाली भारतीय-अमेरिकी मतदाताओं को लुभाने के मकसद से, ट्रंप के चुनाव प्रचार अभियान प्रबंधकों ने वीडियो के रूप में अपना पहला विज्ञापन जारी किया था। इसमें प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के भाषणों और ट्रंप के अहमदाबाद के ऐतिहासिक संबोधन के संक्षिप्त क्लिप शामिल किए थे। इस साल फरवरी में अमेरिकी राष्ट्रपति की भारत यात्रा के दौरान मोदी और ट्रंप ने अहमदाबाद में भारी भीड़ को संबोधित किया था।

ट्रंप के साथ उनकी पत्नी मेलानिया, बेटी इवांका, दामाद जेरेड कुशनर और उनके प्रशासन के शीर्ष अधिकारी भी भारत यात्रा पर आए थे। ‘ट्रम्प विक्ट्री फाइनेंस कमेटी’ के राष्ट्रीय अध्यक्ष किम्बर्ली गुइलफॉयल ने एक ट्वीट में वीडियो विज्ञापन जारी करते हुए कहा था, ‘अमेरिका का भारत के साथ बहुत बढ़िया संबंध है और हमारे अभियान को भारतीय-अमेरिकियों का बहुत बड़ा समर्थन प्राप्त है।’ पीएम मोदी के साथ ट्रंप ने पिछले साल ह्यूस्‍टन में हाउडी मोदी कार्यक्रम में 50,000 से अधिक की संख्या में आए भारतीय-अमेरिकियों को संबोधित किया था।

loading...
loading...

Tags

Check Also

अब नहीं चलेगी यूपी पुलिस की गुंडागर्दी, शादी की गाइडलाइंस का सारा कन्फ्यूजन दूर किए योगी

लखनऊ उत्तर प्रदेश में शादी-समारोह को लेकर सीएम योगी आदित्यनाथ ने स्पष्ट निर्देश जारी किए ...