Thursday , April 22 2021
Breaking News
Home / उत्तर प्रदेश / VIDEO : जब UP की निजी एंबुलेंस से मोहाली कोर्ट पहुंचा माफिया डॉन मुख्तार अंसारी, मचा हडकंप

VIDEO : जब UP की निजी एंबुलेंस से मोहाली कोर्ट पहुंचा माफिया डॉन मुख्तार अंसारी, मचा हडकंप

बाराबंकी. पंजाब की रोपड़ जेल में बंद उत्तर प्रदेश के माफिया डॉन मुख्तार अंसारी को बुधवार को मोहाली की कोर्ट में पेश किया गया। वहीं इस दौरान जिस यूपी नंबर की एंबुलेंस से मुख्तार अंसारी को मोहाली कोर्ट में पेश किया गया, वह एंबुलेंस एक निजी एंबुलेंस थी और उसका रजिस्ट्रेशन बाराबंकी में एक निजी अस्पताल के नाम से मिला। हालांकि आज की तारीख में वह अस्पताल भी अस्तित्व में नहीं है। इसके अलावा बाराबंकी एआरटीओ के सूत्रों के मुताबिक UP41 AT 7171 नंबर की जिस एंबुलेंस का इस्तेमाल मुख्तार अंसारी के लिए हुआ है, उसकी साल 2015 में ही रजिस्ट्रेशन की मियाद खत्म हो चुकी है।इसके अलावा एंबुलेंस की फिटनेस भी साल 2017 में ही एक्सपायर हो चुकी है।

एंबुलेंस को लेकर बढ़ा बवाल

वहीं यूपी में एंबुलेंस सेवा प्रदान करने वाली कंपनी कहना है कि मुख्तार अंसारी को मोहाली कोर्ट ले जाने वाली एंबुलेंस उत्तर प्रदेश के किसी भी सरकारी अस्पताल से नहीं जुड़ी है। जिसके चलते अब इस मामले को लेकर नया विवाद खड़ा हो गया है। क्योंकि प्रदेश के आलाधिकारी भी एम्बुलेंस को लेकर अब तक कोई सुराग नहीं लगा पाये हैं। ऐसे में बड़ा सवाल ये है कि मुख्तार को लाने ले जाने के लिए बाराबंकी नंबर की एम्बुलेंस का पंजाब में इसतेमाल कैसे हो रहा है। क्या मुख्तार को वीआईपी ट्रीटमेंट देने में यूपी के आलाधिकारी भी कोई भूमिका निभा रहे हैं? क्योंकि अगर बाराबंकी नंबर की एंबुलेंस पंजाब पहुंची तो अभी तक किसी ने जानकारी क्यों नहीं की।

मोहाली कोर्ट में थी पेशी

आपको बता दें कि पंजाम में मोहाली के एक बिल्डर से फिरौती मांगने के मामले में मुख्तार अंसारी की बुधवार को मोहाली कोर्ट में पेशी थी। इसके लिए वो रोपड़ जेल से मोहाली कोर्ट पहुंचा था। रोपड़ जेल से मोहाली कोर्ट तक मुख्तार को यूपी केे बाराबंकी नंबर की एक निजी एंबुलेंस से लाया गया था। छानबीन करने पर पता चला कि वह एंबुलेंस यूपी में बाराबंकी के एक निजी अस्पताल के नाम पर रजिस्टर्ड है। जिसके बाद एंबुलेंस को लेकर बड़ा बखेड़ा खड़ा हो गया और तमाम लोगों के बयान भी इसे लेकर आने शुरू हो गए।

loading...
loading...

Check Also

दिल्ली HC की केंद्र को निर्देश-गिड़गिड़ाइए, उधार लीजिए या चुराइए लेकिन ऑक्जीन लेकर आइए.

दिल्ली हाईकोर्ट ने केंद्र सरकार को इंडस्ट्रीज की ऑक्सीजन सप्लाई फौरन रोकने का निर्देश दिया ...