Thursday , January 21 2021
Breaking News
Home / क्राइम / औलाद पाने को पति से नाबालिग का ब्याह करा दी पत्नी, 6 दिन बाद बुरी खबर आ गई

औलाद पाने को पति से नाबालिग का ब्याह करा दी पत्नी, 6 दिन बाद बुरी खबर आ गई

फतुहा : पटना के फतुहा में औलाद के लिए पति-पत्नी ने मिलकर पहले नाबालिग को किडनैप किया, फिर पत्नी ने ही पति से उसकी शादी करा दी। घटना मिर्जापुर के नौहटा की है। विनय सिंह और ज्योति कुमारी को सोमवार को पॉक्सो एक्ट के तहत जेल भेजा गया। आरोपी ज्योति कुमारी ने गिरफ्तारी के बाद कहा कि औलाद के लिए उसने नाबालिग को किडनैप किया और पति की शादी उससे करा दी।

बहला-फुसलाकर अगवा किया
14 वर्षीय किशोरी मिर्जापुर के नौहटा निवासी विनय सिंह और ज्योति कुमारी के घर पर काम करने जाती थी। मां के साथ वह उन्हीं के घर के बगल में किराए पर रहती थी। 31 दिसंबर को वह उनके घर काम करने गई तो फिर लौट कर नहीं आई। दोनों ने उसे बहला-फुसलाकर अगवा कर लिया और कानोंकान किसी को इसकी ने खबर किसी को नहीं लगने दी। नाबालिग के घर नहीं पहुंचने पर मां को अनहोनी की आशंका सताने लगी। तत्काल उसने फतुहा थाना में गुमशुदगी की रिपोर्ट लिखवाई, जिसके बाद पुलिस एक्शन में आ गई।

आखिरकार पुलिस ने ढूंढ निकाला

पुलिस मामले की तफ्तीश में जुट गई। इस दौरान सबसे पहले मकान मालिक से कड़ी पूछताछ हुई और दंपति का फोन नंबर लिया गया। मां संगीता देवी ने भी ज्योति कुमारी के बार में सारी जानकारी दी, जिसके बाद पुलिस ने उसका लोकेशन ट्रैक करना शुरू कर दिया। ज्योति प्लान के अनुसार पति को बख्तियारपुर में छोड़कर खुद बिहारशरीफ आ चुकी थी। पुलिस ने सबसे पहले उसे ही गिरफ्तार किया। इसके बाद उससे मिली जानकारी पर बख्तियारपुर के पास नरौली गांव में नाबालिग के साथ पति को रविवार को देर रात गिरफ्तार कर लिया। पॉक्सो एक्ट के तहत किशोरी को दंपति की चंगुल से छुड़ाकर जेल भेज दिया गया है। थानाध्यक्ष मनीष कुमार ने बताया कि दंपति को जेल भेज दिया गया है।

शादी को 18 साल हुए लेकिन बच्चा नहीं हुआ

विनोद सिंह और ज्योति की शादी को 18 साल हो गए लेकिन बच्चा नहीं हुआ। स्थानीय लोगों ने बताया कि बेऔलाद दंपति काफी दिनों से संतान की आस में थे। इसी के लिए उन्होंने गलत रास्ता चुन लिया। पुलिस के अनुसार दोनों ने पूरी प्लानिंग के साथ वारदात को अंजाम दिया। विनोद सिंह एक फैक्ट्री में काम करता था। नौहटा में रहने से पहले दंपति दूसरे मोहल्ले में रहते थे। 2-3 साल पहले ही वह किराए के मकान में आए थे। घटना के बाद पुलिस मकान मालिक पर दबाव बनाने लगी, जिसके बाद बिहारशरीफ में ज्योति कुमारी को पकड़ा गया।

loading...
loading...

Check Also

सबसे भरोसेमंद साथी को यूपी की राजनीति में उतार दिए पीएम मोदी, जानिए क्यों?

उत्तर प्रदेश के अगले विधानसभा चुनावों को लेकर बीजेपी ने अभी से अपनी रणनीति बनानी ...