Thursday , April 22 2021
Breaking News
Home / क्राइम / लिव-इन में साथ रहे, परिवार भी शादी को राजी, फिर क्यों शाहिद ने आरती की जान ले ली?

लिव-इन में साथ रहे, परिवार भी शादी को राजी, फिर क्यों शाहिद ने आरती की जान ले ली?

तेलंगाना के वारंगल में नवम्बर 2019 में एक किशोरी के बलात्कार और हत्या की ख़बर आई थी। अब जिले से एक और आपराधिक घटना की ख़बर आई है। शुक्रवार (जनवरी 10, 2019) को एक 25 वर्षीय युवती की उसके बॉयफ्रेंड ने बेरहमी से हत्या कर दी। मृतक युवती एमबीए कर चुकी थी। आरोपित मोहम्मद शाहिद लश्कर सिंगारम का रहने वाला है। वह किराए के मकान में रहता था, जहाँ उसने इस हत्याकांड को अंजाम दिया। इसके बाद वो सीधा वारंगल सेंट्रल जेल पहुँचा और उसने पुलिस के समक्ष आत्मसमर्पण कर दिया। ख़बर के अनुसार, आरोपित और मृतक युवती कॉलेज के समय से ही रिलेशनशिप में थे।

आरोपित शाहिद से युवती के परिवार वाले भी अच्छी तरह परिचित थे। जहाँ एक तरफ शाहिद प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी में लगा हुआ था, उसकी गर्लफ्रेंड के परिवार वाले शादी के लिए लड़का ढूँढने में व्यस्त थे। इसी बीच शाहिद को शक हुआ कि उसकी गर्लफ्रेंड का किसी और से अफेयर चल रहा है और उसने इस पर बात करने के लिए उसे अपने घर बुलाया। दोनों के बीच तीखी नोंक-झोंक हुई। इसके बाद गुस्साए शाहिद ने युवती का गला काट दिया। हंस इंडिया की रिपोर्ट के अनुसार, दोनों लिव-इन रिलेशनशिप में भी रह चुके थे।

मृत युवती का नाम आरती है। उसकी मौत घटनास्थल पर ही हो गई थी। पुलिस ने आरोपित को हिरासत में ले लिया है और मामले की जाँच की जा रही है। युवती के पिता ने कहा कि इस बात से उन्हें गहरा आघात लगा है कि उनकी बेटी को हत्या करने वाला परिवार का परिचित ही था। उन्होंने बताया कि वो शाहिद को लंबे समय से जानते हैं और वो युवती के सबसे विश्वस्त दोस्तों में से एक था। मृतक युवती के परिवार वालों ने बताया कि उन्हें कुछ दिनों पहले ही पता चला था कि आरती और शाहिद एक-दूसरे से प्यार करते हैं। उन्होंने बताया कि ख़ुद आरती ने उन्हें इस बारे में बताया था।

परिवार वालों के अनुसार वो इन दोनों के रिश्ते के लिए राज़ी भी हो गए थे और सही समय पर शाहिद के साथ बात आगे बढ़ाने के बारे में सोच रहे थे। दोनों का एक-दूसरे के घर आना-जाना लगा रहता था। शुक्रवार को आरती ने अपने परिवार वालों को बताया कि वो कुछ काम से बाहर जा रही है। वो शाहिद के घर गई, जहाँ उसकी हत्या हो गई। आरती की हत्या के बाद आरोपित शाहिद 4 किलोमीटर का सफर ऑटो रिक्शा से तय कर सेंट्रल जेल सरेंडर करने पहुँचा। जेल कर्मचारी को लगा कि वो किसी क़ैदी का रिश्तेदार है और उसे बताया कि मुलाक़ात का समय ख़त्म हो गया है।

जब शाहिद ने बताया कि वो हत्या कर के आ रहा है तो कर्मचारियों ने तुरंत स्थानीय पुलिस को सूचना दी। इसके बाद पुलिस की टीम शाहिद को हिरासत में लेकर थाने ले गई। पुलिस आरोपित को लेकर उसके कमरे पर गई, जहाँ आरती का मृत शरीर पड़ा हुआ था और ख़ून था। शाहिद ने ही पुलिस को आरती के घरवालों के बारे में बताया। इसके बाद पुलिस ने पीड़ित परिवार को सूचना दी।

loading...
loading...

Check Also

बांदा में पड़ोसी की दरिंदगी : पांच साल की बच्ची से रेप के बाद गला घोंटकर हत्या, इस हालत में मिला शव  

उत्तर प्रदेश के बांदा जिले में सोमवार को एक सनसनीखेज मामला सामने आया है। यहां ...