Sunday , April 18 2021
Breaking News
Home / ऑफबीट / कभी चरित्रहीन नहीं होती स्त्री, ये तो वो पुरुष होते हैं जो उनके साथ..

कभी चरित्रहीन नहीं होती स्त्री, ये तो वो पुरुष होते हैं जो उनके साथ..

हमारे समाज के लोगो ने सामाजिक कुरूतियो के कारण महिलाओं के चरित्र पर कई दाग लगा दिए है | हमारे समाज मैं आज भी कुछ लोग ऐसे है तो महिलाओं को अपने पाँव कि जूती के सामान समझते है इसलिए वो उनको उतना सम्मान नहीं देते है जिसकी वो हकदार होती है | कुछ लोग तो ऐसे होते है जो महिलाओं को दबाने के लिए उनके चरित्र पर ऊँगली उठाते है उनके साथ बुरा व्यवहार करते है और अंत मैं महिलाओं को ही चरित्रहीन बोला जाता है जबकि महिला चरित्रहीन नहीं होती है चरित्रहीन हो तो वो पुरुष होते है जो महिलाओं के साथ ऐसा करते है…

हमारे समाज मैं बहुत ही ऐसी बाते है जिनको बुरा भला कहा जाता है असल मैं देखा जाए तो इन सब बातो के पीछे कही न कही पुरुष ही जिम्मेदार होते है | पुरुषो के बिना कभी कोई स्त्री चरित्रहीन नहीं हो सकती है | गलती पुरुष करते है और भुगतना महिलाओं को पड़ता है | कुछ पुरुष ऐसे होते है जो अपने अन्य महिलाओं के साथ गलत कार्य करते है मगर महिलाये कभी भी ऐसा नहीं करती है मगर पुरुष ऐसा कर लेते है और जब कोई बात बनती है तो घर कि महिलाओं को ही चरित्रहीन कहा जाता है |

इस दुनिया मैं स्त्री जैसा इंसान कोई दूसरा नहीं हो सकता जो समाज और पुरुष के द्वारा दिए गए सभी कष्ट सहकर भी अपने घर परिवार का दिल से पालन पोषण करती है अपने घर परिवार मैं सुख शांति बनाने के लिए हर प्रकार के कष्ट सहती है और महिलाओं को ज्यादा घूमने फिरने कि आजादी नहीं होती है मगर पुरुषो को पूरी आजादी होती है मगर फिर भी लोग महिलाओं के चरित्र पर ही ऊँगली उठाते है |

जिस माँ कि कोख से हम जन्म लेकर इस दुनिया मैं आये है वो माँ भी तो एक महिला है | कई पुरुषो कि सोच ऐसी होती है कि वो स्त्रियों को अपनी नौकरानी के समान ही समझते है और उन महिलाओं को वो हक़ नहीं देते है जिसकी वो हकदार होती है हमेशा ही उनके साथ बुरा व्यवहार किया जाता है स्त्री सब सहती जाती है फिर भी लोग स्त्री को ही चरित्रहीन बोलते है जबकि असल मैं देखा जाए तो चरित्रहीन वो पुरुष है तो स्त्रियों के साथ ऐसा करते है और उन्हें वो मान सम्मान नहीं देते है जिसकी वो हकदार है |

घर कि महिलाये घर कि लक्ष्मी के समान होती जिस है | जिस घर मैं महिलाये नहीं होती है वो घर नर्क के समान लगता है और जिस घर मैं महिलाये होती है वो घर स्वर्ग बन जाता है | महिलाओं के कारण ही घर मैं सुख शांति, हंसी खुसी का माहौल बना रहता है इसलिए हमें महिलाओं को वो सभी हक़ देने चाहिए जिनकी वो हकदार होती है और हमेशा ही महिलाओं कि इज्जत करनी चाहिए |

loading...
loading...

Check Also

बच्ची का मुंह रह गया खुला, लेकिन वरुण ने मासूम को नहीं खिलाया केक-देखे Vedio

बॉलीवुड एक्ट्रेस कृति सेनन और वरुण धवन इन दिनों अपनी फिल्म भेड़िया की शूटिंग कर ...