Tuesday , January 26 2021
Breaking News
Home / उत्तर प्रदेश / यूपी पुलिस पर टोपी-बेल्ट हड़पने का आरोप लगाए सपा नेता, बोले- वापस नहीं मिली तो खुद को आग लगा लूंगा

यूपी पुलिस पर टोपी-बेल्ट हड़पने का आरोप लगाए सपा नेता, बोले- वापस नहीं मिली तो खुद को आग लगा लूंगा

मेरठ :  उत्तर प्रदेश के मेरठ जिले में कुछ दिनों पहले मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का पुतला फूंकने के मामले में जेल भेजे गए समाजवादी पार्टी (एसपी) नेता की लाल टोपी और बेल्ट पुलिस ने ‘जब्त’ कर ली है। जेल से रिहा होने के बाद टोपी और बेल्ट की वापसी के लिए थाने के चक्कर काट रहे एसपी नेता ने अब जिले की पुलिस के खिलाफ जंग छेड़ दी है। एसपी नेता ने इसे अपने मान सम्मान का प्रश्न बताते हुए 11 जनवरी तक अपनी टोपी और बेल्ट वापस ना मिलने पर कमिश्नरी चौराहे पर आत्मदाह की चेतावनी दी है।

15 दिसंबर 2020 को एसपी दलित सेना के अध्यक्ष विनोद जाटव ने अपने कुछ साथियों को साथ कमिश्नरी चौराहे पर सीएम योगी आदित्यनाथ का पुतला फूंका था। इस दौरान मौके पर मौजूद पुलिस ने विनोद जाटव को गिरफ्तार करके जेल भेज दिया था। 18 दिसंबर को विनोद जमानत पर रिहा हुए थे।

‘कई चक्कर लगा चुके हैं एसपी नेता’
बताया जाता है विनोद की गिरफ्तारी के समय सिविल लाइन थाना पुलिस ने उनका मोबाइल, टोपी और बेल्ट थाने में जमा करा ली थी। 18 दिसंबर को जेल से रिहा होने के बाद विनोद थाने में जमा किया गया अपना सामान वापस लेने थाने पहुंचे। जहां मौजूद पुलिसकर्मियों ने विनोद का मोबाइल तो वापस कर दिया। लेकिन टोपी और बेल्ट बाद में देने की बात कहकर उन्हें वापस भेज दिया। इसके बाद से विनोद जाटव अपनी टोपी और बेल्ट की वापसी के लिए सिविल लाइन थाने के कई चक्कर लगा चुके हैं।

‘तो चौराहे पर कर लूंगा आत्मदाह’
थाने के चक्कर काटकर परेशान हो चुके एसपी नेता शुक्रवार की दोपहर कमिश्नरी चौराहे पर पहुंचे। यहां एसपी नेता ने डीएम के नाम ज्ञापन सौंपते हुए पुलिस पर अपनी टोपी और बेल्ट हड़पने का आरोप लगाया। एसपी नेता का आरोप है कि सीएम योगी की पुलिस समाजवादियों पर लगातार अत्याचार कर रही है। आलम यह है कि अब पुलिस समाजवादियों की टोपी भी बेचना चाहती है। एसपी नेता ने टोपी को अपने मान-सम्मान से जुड़ा बताते हुए जिलाधिकारी से अपनी टोपी वापस दिलाए जाने की मांग की। उन्होंने चेतावनी दी कि अगर 11 जनवरी तक उनकी टोपी वापस नहीं मिली तो वह कमिश्नरी चौराहे पर आत्मदाह कर लेंगे।

पुलिस ने किया आरोपों का खंडन

इंस्पेक्टर सिविल लाइन अब्दुर्रहमान सिद्दीकी ने एसपी नेता के आरोपों का खंडन किया है। उन्होंने बताया थाने में जो सामान जमा किया जाता है, वह बाद में मुल्जिम को सौंप दिया जाता है। यदि एसपी नेता की टोपी जमा की गई होगी तो वह भी वापस कर दी गई होगी।

loading...
loading...

Check Also

अब आ रहे अंग्रेज : ऑस्ट्रेलिया दौरे के 4 बड़े हीरोज का इंग्लैंड के खिलाफ एक भी टेस्ट खेलना मुश्किल!

नई दिल्ली:  India vs England: पिछले दिनों ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ उसकी की धरती पर 2-1 की ...