Sunday , August 1 2021
Breaking News
Home / क्राइम / नाबालिग से गैंगरेप की रिपोर्ट में जिन 3 के नाम कटवाई पुलिस, उन दरिंदों ने फिर अगवा कर 4 दिन रेप किया

नाबालिग से गैंगरेप की रिपोर्ट में जिन 3 के नाम कटवाई पुलिस, उन दरिंदों ने फिर अगवा कर 4 दिन रेप किया

जयपुर, राजस्थान के सिरोही में नाबालिग से रेप का एक सनसनीखेज मामला सामने आया है। इस पूरे मामले में पुलिस की भूमिका पर भी सवाल उठ रहे हैं। माउंट आबू थाना क्षेत्र में चार दरिंदों ने 6 जून को 17 साल की एक बच्ची को स्मैक का नशा करवा कर उससे सामूहिक दुष्कर्म किया। पीड़िता का पिता रिपोर्ट लिखाने गया तो पुलिस ने रिपोर्ट नहीं लिखी। यही नहीं, पिता को आरोपियों के नाम कम करने के लिए धमकाया।

बेबस पिता ने तीन आरोपियों के नाम कम करके नई रिपोर्ट दी। इसके बावजूद पुलिस ने आरोपियों को नहीं पकड़ा। इससे दरिंदों का हौसला इतना बढ़ गया कि उन्होंने 9 दिन बाद ही 15 जून को पीड़िता का अपहरण कर लिया और 4 दिन तक उसके साथ गैंगरेप करते रहे। इसके बाद पुलिस की नींद टूटी और उसने 21 जून को मुख्य आरोपी इंद्रा कॉलोनी माउंटआबू निवासी मयूर वाल्मीकि, बंटी चौहान, कपिल वाल्मीकि और मुकेश को गिरफ्तार कर कोर्ट में पेश किया, जहां से उन्हें जेल भेजा गया।

पुलिस ने इस मामले को 25 दिन तक दबाए रखा। मीडिया ने जब महिला थानाधिकारी सरोज बैरवा से बात की तो उनका जवाब था कि तब हमारी राज्यपाल के दौरे में ड्यूटी थी (राज्यपाल कलराज मिश्र 22 जून से 29 जून तक माउंट आबू के दौरे पर थे)। किसी मीडियाकर्मी ने पूछा नहीं, इसलिए बताया नहीं। आरोपियों ने दरिंदगी के दौरान पीड़िता के अश्लील वीडियो भी बनाए थे, लेकिन पुलिस बरामद नहीं कर सकी है।

जुर्म दरिंदों का, सजा पीड़िता को, सगाई टूटी, समाज ने बेदखल किया
जो नाबालिग दरिंदगी का शिकार हुई, सजा भी उसी को मिली। समाज ने पीड़िता को दोषी ठहराकर परिवार को बहिष्कृत कर दिया। सगाई भी टूट गई। पीड़िता ने बताया कि 6 जून को घर से निकली थी, तभी कुछ लड़के मिले। एक ने घर छोड़ने के बहाने स्कूटी पर बिठाया और पावरहाउस ले गया। उसके साथी 3 लड़के भी वहां पहुंचे। उन्हाेंने जबरदस्ती नशा करवाया। गलत काम किया।

इसके बाद स्कूटी वाले लड़के ने किसी को नहीं बताने की धमकी दी। फिर आरोपी ने दोबारा धमकाकर बुलाना शुरू किया तो माता-पिता को बताकर थाने में रिपोर्ट दर्ज करवाई। 15 जून को हैंडपंप पर पानी भरने गई। बदमाश अगवा कर ले गए। जंगल में रोककर नशा कराया और 4 दिन तक दुष्कर्म किया। मारपीट की, अश्लील फोटो व वीडियो बनाए।

धमकाने वाले अब भी आजाद… कहते हैं- तुम एक हो, हम 20-25
पुलिस ने 4 आरोपियों को गिरफ्तार किया, पर धमकाने वाले तीन नामजद आरोपियों को अभी तक नहीं पकड़ा है। आरोपियों को जानने वाले धमकी दे रहे हैं कि पैसे लेकर समझौता कर लो, तुम किसको मारोगे? तुम एक हो, हम बीस-पच्चीस हैं। पीड़िता के पिता का कहना है कि उसकी बेटी की फोटो व वीडियो आरोपियों के पास होने के साथ ही परिवार के अन्य लोगों के साथ गलत करने की धमकी देने के कारण हम डर के साये में जी रहे हैं।

माउंट आबू के डीएसपी प्रवीण कुमार ने कहा- रिपोर्ट और लड़की के बयान के आधार पर चारों आरोपियों को गिरफ्तार कर न्यायालय में पेश किया जा चुका है, जहां से उन्हें जेल भेज दिया गया। मामले में जांच की जा रही है। अगर और भी कोई दोषी पाया जाता है, तो उस पर सख्त एक्शन लेंगे।

loading...

Check Also

उत्तराखंड में भी कल से खुलेंगे स्कूल, पैरेंट्स पढ़ लें गाइडलाइंस

देहरादून :  कोरोना महामारी के चलते स्कूल काफी समय से बंद हैं। अब राज्य सरकार ...