अधिवक्ताओं ने प्रदर्शन कर तहसील मुख्यालय पर दिया धरना

फर्रुखाबाद ,24 जून (हि.स.)। कायमगंज तहसील में साथी अधिवक्ता पर झूठी रिपोर्ट दर्ज होने पर वकीलों ने तहसील मुख्यालय पर शुक्रवार को प्रदर्शन कर धरना शुरू कर दिया।

धरना प्रदर्शन से पूर्व एक ज्ञापन मुख्यमंत्री के नाम संबोधित उप जिलाधिकारी कायमगंज गौरव शुक्ला को सौंपा। जिसमें कहा गया है कि कायमगंज तहसील बार एसोसिएशन के सदस्य अधिवक्ता श्रीकृष्ण की 14 वर्षीय नाबालिग बेटी का बुरी नियत से मुंह, नगर के मोहल्ला चिलाका निवासी विकास पुत्र सुनील कुमार ने उस समय दबाया था। जब अधिवक्ता की बेटी अपने घर पर अकेली थी। उसकी चीख-पुकार सुनकर मकान मालिक पहुंच गए। जिनके विरोध करने पर मनचला दबंग विकास मौके से भाग गया था।

इसकी सूचना पाकर अधिवक्ता श्री कृष्ण अपनी जूनियर अधिवक्ता विनीता पाल के साथ मौके पर पहुंचे। जहां उन्होंने स्थित को समझा और आरोपी के विरुद्ध रिपोर्ट दर्ज कराने की बात कही थी। इस पर विकास तथा उसका पिता सुनील कुमार अन्य लोगों के साथ दोनों अधिवक्ताओं पर हमलावर हो गया। इनके हमले से अधिवक्ता विनीता पाल लहूलुहान हो गई थी। वही, श्रीकृष्ण के भी चोटें आई थी। जिसकी रिपोर्ट उसी समय कोतवाली कायमगंज में लिखाई गई थी।

अधिवक्ताओं का कहना है कि सुनील के घर में कोई व्यक्ति नहीं घुसा ,क्योंकि मौके पर केबल दोनों अधिवक्ता ही गए थे। जिन्हें आरोपियों ने ही हमलावर होकर चोटें पहुंचाई थी। फिर भी एक पुलिसकर्मी के सहयोग से आरोपी की मां सिमरा देवी द्वारा अनुसूचित जाति-अनुसूचित जनजाति अत्याचार निवारण अधिनियम सहित अन्य धाराओं में झूठी रिपोर्ट कोतवाली में दर्ज करा दी गई। अधिवक्ताओं की मांग है कि उनके साथी अधिवक्ता श्री कृष्ण एवं विनीता पाल आदि के विरुद्ध दर्ज झूठी रिपोर्ट वापस लेकर निरस्त की जानी चाहिए तथा वास्तविक दोषी विकास आदि के विरुद्ध समय रहते पास्को एक्ट के अंतर्गत कार्यवाही की जानी चाहिए।

इन्हीं मांगों को लेकर आज से अधिवक्ताओं ने 30 जून तक के लिए कलम बंद हड़ताल कर दी और इसी के चलते रेवेन्यू बार एसोसिएशन तहसील कायमगंज के अधिवक्ता गण आज 24 जून तथा 25 जून 2 दिन तहसील में धरना प्रदर्शन कर रहे हैं।

धरना प्रदर्शन अवसर पर वरिष्ठ अधिवक्ता राम सिंह गौतम, सत्येंद्र सिंह गंगवार सचिव एसोसिएशन एवं नीरज पांडे, मयंक मिश्रा, आलोक गंगवार, अरुण सक्सेना, बांकेलाल वर्मा, सतीश चंद्र शाक्य, रामनिवास राठौर, पवन यादव, विजेंद्र सिंह, बृजेश गंगवार, अनोखेलाल शाक्य, राम नरेश शर्मा, रीना भारद्वाज, कुमारी विनीता पाल, प्रमोद कुमार, प्रमोद चंद्र गंगवार, नीरज गौड़, अनिल श्रीवास्तव, अरविंद पाल ,नितिन शर्मा, फहीम रजा, मनीष यादव, श्रीकृष्ण यादव, शिवमंगल, प्रदीप यादव, विश्वेश्वर दयाल यादव आदि अधिवक्ताओं के अतिरिक्त, अपना पूर्ण समर्थन देने वाले सभी स्टांप वेंडर व टाइपिस्ट धरना स्थल पर मौजूद रहे।