Friday , July 23 2021
Breaking News
Home / खबर / मुंबई में फ्लाईओवर को दिया जाना था मोइनुद्दीन चिश्ती का नाम, अब कहलाएगा- ‘छत्रपति शिवाजी’

मुंबई में फ्लाईओवर को दिया जाना था मोइनुद्दीन चिश्ती का नाम, अब कहलाएगा- ‘छत्रपति शिवाजी’

शिवसेना और भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के बीच कई दिनों से चल रहे विवाद के बाद बृहन्मुंबई नगर निगम (बीएमसी) ने घाटकोपर-मानखुर्द लिंक रोड फ्लाईओवर का नाम छत्रपति शिवाजी महाराज के नाम पर रखने का फैसला किया है। शिवसेना के विधायक इस फ्लाईओवर का नाम मोइनुद्दीन चिश्ती के नाम पर रखने की मांग कर रहे थे। बीएमसी की विज्ञप्ति के अनुसार, घाटकोपर-मानखुर्द लिंक रोड फ्लाईओवर का निर्माण कार्य 25 जुलाई तक पूरा होने की उम्मीद है।

ANI के अनुसार, विवाद तब शुरू हुआ जब मुंबई दक्षिण मध्य निर्वाचन क्षेत्र के सांसद और शिवसेना नेता राहुल शेवाले ने CM उद्धव ठाकरे और बीएमसी प्रशासन को पत्र लिखकर उनसे एक मुस्लिम सूफी संत मोइनुद्दीन चिश्ती के नाम पर फ्लाईओवर का नाम रखने का आग्रह किया। बता दें कि वो मोइनुद्दीन चिश्ती ही थे, जिन्होंने कश्मीर में हिंदू मंदिरों के विनाश, हिंदुओं के वध और उनके जबरन धर्मांतरण को प्रेरित किया था।

हालाँकि, विश्व हिंदू परिषद और भारतीय जनता पार्टी के नेताओं ने शेवाले के प्रस्ताव का विरोध किया था। विहिप ने 14 जून को शेवाले के प्रस्ताव को लागू करने पर विरोध करने की धमकी दी थी।

विहिप प्रवक्ता राज नायर ने कहा था, “अगर राज्य सरकार मानखुर्द फ्लाईओवर का नाम हिंदू संस्कृति की महान हस्तियों के अलावा किसी के नाम पर रखती है तो हम विरोध करेंगे। हम यहीं नहीं रुकेंगे, हम अपने विरोध को और आक्रामक बना सकते हैं”।

बीजेपी और व्हिप के विरोध के बाद हुआ फैसला

हालाँकि, उसके बाद मुंबई उत्तर पूर्व निर्वाचन क्षेत्र के भाजपा सांसद मनोज कोटक ने भी नगर आयुक्त को पत्र लिखकर सुझाव दिया कि फ्लाईओवर का नाम छत्रपति शिवाजी महाराज के नाम पर रखा जाना चाहिए। प्रस्तावों को बीएमसी कार्य समिति द्वारा अनुमोदन के लिए नगर आयुक्त कार्यालय में भेजा गया था, जिसे पहले ठुकरा दिया गया था।

तब भाजपा ने आरोप लगाया था कि शिवसेना और बीएमसी फ्लाईओवर के नामकरण में देरी करने की कोशिश कर रहे हैं क्योंकि वहां रहने वाली अधिकांश आबादी मुस्लिम है और शिवसेना सांसद एक मुस्लिम धार्मिक नेता के नाम पर फ्लाईओवर का नामांकरण कर अपने वोट-बैंक को खुश करने की कोशिश कर रहे हैं।

इस बीच शुक्रवार को बीएमसी कार्य समिति के अध्यक्ष और शिवसेना के वरिष्ठ पार्षद स्वप्निल टेम्बवलकर ने कहा कि फ्लाईओवर का नाम छत्रपति शिवाजी महाराज के नाम पर रखा जाएगा।

टेम्बवलकर ने शुक्रवार को Free Press Journal को बताया, “आज मैं बीएमसी पुल विभाग के वरिष्ठ इंजीनियरों से मिला, उन्होंने कहा है कि फ्लाईओवर जुलाई के अंत तक पूरा हो जाएगा। इस फ्लाईओवर का नाम आधिकारिक तौर पर छत्रपति शिवाजी महाराज के नाम पर रखेंगे।”

loading...

Check Also

आगरा: 8.5 करोड़ की डकैती का मास्टरमाइंड है खानदानी अपराधी, दो भाइयों का हुआ एनकाउंटर, बहन पर भी 8 केस दर्ज

आगरा में मणप्पुरम गोल्ड लोन कंपनी में 8.5 करोड़ रुपए की डकैती का मास्टरमाइंड नरेंद्र ...