Monday , December 6 2021
Home / राजनीति / अमेरिका को घेरने चला था चीन, अपने ही पैतरे में गया फंस !

अमेरिका को घेरने चला था चीन, अपने ही पैतरे में गया फंस !

कोविड-19 महामारी को लेकर चाइना का हर जगह विरोध हो रहा है और WHO पर भी ऐसे आरोप भी लग रहे हैं कि उसने चीन का बचाव किया! इसी के चलते अमेरिका ने डब्ल्यूएचओ को दी जाने वाली आर्थिक मदद तत्काल प्रभाव से बंद कर दी है! चीन के वित्त मंत्रालय के प्रवक्ता Geng Shuang ने अमेरिका पर आरोप लगाते हुए कहा कि “अमेरिका का प्रथम दुश्मन यह कोरोनावायरस है ना कि चीन! अमेरिका दूसरे देशों पर हमला करके या उनसे दुश्मनी करके कोरोना वायरस से जो भी नुकसान हुए हैं और जितनी भी जाने गई है उनकी भरपाई नहीं कर सकता”!

चीन ने अमेरिका पर आरोप लगाया था कि HIV AIDS पहली बार 1980 में US में ही मिला था और उसके बाद पूरी दुनिया में फैला क्या इसको लेकर किसी ने अमेरिका से सवाल किए? लेकिन इससे उलट हकीकत कुछ और ही है दरअसल HIV का वायरस वैज्ञानिकों द्वारा पहली बार वेस्टर्न अफ्रीका में एक बंदर चिंपांजी के अंदर मिला था!

चीन ने H1N1 का हवाला देते हुए अमेरिका पर आरोप लगाए कि H1N1 Flu पहली बार अमेरिका में ही फैला था और उससे 214 देशों में फैला जिसमें 200000 लोगों की जानें गई लेकिन उस वक्त किसी ने भी अमेरिका से मुआवजा नहीं मांगा!

अब अगर हम H1N1 Flu का इतिहास देखें तो 25 अप्रैल 2009 में यूएस गवर्नमेंट ने पहली बार 20 मरीजों में  इस वायरस की पुष्टि की थी और इस दौरान किसी की भी जान नहीं गई थी! तब भी अमेरिकी सरकार ने WHO से मांग की थी कि इस वायरस को लेकर इंटरनेशनल हेल्थ इमरजेंसी घोषित की जाए!

US के सेक्रेटरी ऑफ स्टेट Mike Pompeo ने बयान दिया कि” हम चाइना से अब भी यह गुजारिश करते हैं कि वह US एक्सपर्ट की एक टीम को उस लैब में जाने दे जिससे यह पता चल सके कि वायरस असल में आया कहां से था”! दुनिया भर के और भी देशों ने कोरोना वायरस पर एक जांच की मांग की है और WHO को इससे दूर रहने की सलाह दी है!

loading...

Check Also

सिद्धू ने आखिर क्यों दिया था इस्तीफा? इसका पूरा सच अब आया सामने

लखीमपुर खीरी में हुए कांड के बाद कांग्रेस इसका राजनीतिक फायदा उठाने की कोशिश में ...