Thursday , December 2 2021
Home / ऑफबीट / अमेरिका को तबाह करना चाहता था ड्रैगन, इसलिए अपनी लैब में बनाया कोरोना वायरस!

अमेरिका को तबाह करना चाहता था ड्रैगन, इसलिए अपनी लैब में बनाया कोरोना वायरस!

पूरी दुनिया में कोरोना वायरस (Coronavirus) को फैलाने के पीछे चीन का हाथ था। इस बात का अंदेशा बहुत पहले से लगाया जा रहा था। अमेरिका (America) समेत कई अन्य देशों ने इसे चीन (China) की एक चाल भी बताई थी। अब अमेरिका के एक चैनल ने भी इस दावे की पुष्टि की है। अमेरिकी समाचार चैनल के मुताबिक चीन ने एक खास मकसद के चलते इसे अपनी लैब में तैयार किया था। वो साबित करना चाहता था कि उसके वैज्ञानिक अमेरिका वालों से ज्यादा काबिल हैं।

अमेरिकी समाचार चैनल (American News Channel) फॉक्स न्यूज की एक रिपोर्ट में दावा किया है कि चीन ने इस वायरस को वुहान की लैब (Wuhan’s Lab) में बनाया है। इसके जरिए चीन बताना चाहता था कि उसके साइंटिस्ट किसी भी तरह से अमेरिका के वैज्ञानिकों से पीछे नहीं हैं। इतना ही नहीं चीन यह भी साबित करना चाहता था कि वह इस महामारी का मुकाबला ज्यादा बेहतर तरीके से कर सकता है।

चैनल ने यह भी दावा किया कि कोरोना वायरस को बनाने के लिए चीन ने काफी मोटी रकम खर्च की है, जो उसका अब तक का सबसे महंगा और गोपनीय प्रोजेक्ट था। चीन ने दुनिया को गुमराह करने के लिए ये बात फैलाई की वुहान के पशु बाजार से वायरस फैला है। जबकि सूत्रों का कहना है कि वुहान के उस बाजार में चमगादड़ बिकते ही नहीं थे।

loading...

Check Also

2700 साल पहले भी इंसान इस्तेमाल करते थे टॉयलेट, इजरायल में मिला दुर्लभ शौचालय

यरुशलम । इजरायल के पुरातत्वविदों को 2700 साल पुराना दुर्लभ शौचालय ‎मिला है। यह शौचालय ...